Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद हरियाणा

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: @2024 की शुरुआत में प्रदेशवासियों को मिली 2024 करोड़ रुपये की मनोहर सौगात


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश का एक समान विकास सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए आज एक बार फिर प्रदेशवासियों को विकास परियोजनाओं की सौगात दी है। जिला हिसार के लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री ने 2024 करोड़ रुपये की 153 परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में 686 करोड़ रुपये की लागत की 76 परियोजनाओं  का उद्घाटन तथा 1338 करोड़ रुपये की लागत की 77 परियाजनाओं का शिलान्यास शामिल है।मुख्यमंत्री ने लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में प्रशासनिक भवन और पशु नस्ल सुधार के लिए एम्ब्रायो ट्रांसप्लांट लैब का भी उद्घाटन किया। समारोह को संबोधित करते हुए मनोहर लाल ने कहा कि आज का दिन हरियाणा की प्रगति के लिए बहुत महत्वपूर्ण दिन है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने सांकेतिक रूप से 784 करोड़ रुपये की लागत की 10 बड़ी परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। शेष परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास अन्य जिलों में केंद्रीय मंत्री, हरियाणा कैबिनेट मंत्रियों, सांसदों व विधायकों द्वारा किया गया।       

उन्होंने कहा कि किसी भी प्रदेश व देश की अर्थव्यवस्था इनफ्रास्ट्रक्चर पर निर्भर होती है और हमारी सरकार लगातार प्रदेश में इनफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत कर रही है, इसलिए हमारी अर्थव्यवस्था अच्छी है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी डिजिटल माध्यम से अब तक 7 बार पूरे प्रदेश में विकास परियोजनाओं का उद़्घाटन व शिलान्यास किया गया है, जिससे लगभग साढ़े 15 हजार करोड़ रुपये की लागत की 1459 परियोजनाएं जनता को समर्पित की गई। आज यह आठवां कार्यक्रम है। मनोहर लाल ने कहा कि हमारी सरकार भौतिक विकास के साथ-साथ सांस्कृतिक और सामाजिक विकास पर भी बहुत ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि 22 जनवरी का दिन हम सभी के लिए ऐतिहासिक था, जब‌ प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का भव्य कार्यक्रम किया। उस दिन देश में खुशी का माहौल था और पूरा देश राममय नजर आया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 दिन का उपवास किया, उनके तपोबल से ही यह कार्य संभव हो पाया है। 22 जनवरी के दिन से एक नये युग की शुरुआत हुई है, जिससे लोगों में नई ऊर्जा और उत्साह का संचार हुआ है तथा नई आशाओं व खुशहाली के साथ हम आगे बढ़ेंगे।
       
बेरोजगारी पर विपक्ष द्वारा की जा रही बयानबाजी पर कटाक्ष करते हुए मनोहरलाल ने कहा कि विपक्ष बेरोजगारी को लेकर 35 प्रतिशत तक का आंकड़ा बोलते हैं,जबकि वास्तविकता यह है कि परिवार पहचान पत्र में जिन लोगों ने स्वयं को बेरोजगार घोषित किया है, ऐसे केवल 8.5 प्रतिशत हैं। लेकिन विपक्ष द्वारा 34-35 प्रतिशत तक की बात कहना केवल राजनीतिक प्रोपेगेंडा है। उन्होंने कहा कि राज्य में ईज ऑफ डूइंग बिज़नेस के नाते हम बहुत आगे बढ़ रहे हैं और हरियाणा आज निवेश के मामले में पसंदीदा स्थान बन गया है। पिछले साढ़े 9 साल में 30 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है। इसके अलावा, लोगों को स्वरोजगार शुरू करने के लिए बैंकों से ऋण भी उपलब्ध करवाया गया है।
मनोहर लाल ने कहा कि वर्ष 2014 में हमने हरियाणा एक- हरियाणवी एक के नाते से एक समान विकास सुनिश्चित करने का संकल्प लिया। किसी विशेष जिले या इलाके की बजाय हर क्षेत्र में विकास के कार्य करवाए। हर क्षेत्र में उनकी मांग तथा मैपिंग के आधार पर आवश्यकतानुसार कार्य करवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने 20 किलोमीटर के दायरे में एक कॉलेज स्थापित किया है और इस प्रकार कुल 70 नये कॉलेज खोले गए हैं। इतना ही नहीं, अब राज्य सरकार खेल सुविधाओं की मैपिंग करवाकर आवश्यकतानुसार तथा खेल रुचियों के आधार पर खेल सुविधाएं विकसित करेगी। अभी तक ऐसे 307 गांव है, जहां 10 किलोमीटर के दायरे में कोई खेल सुविधा नहीं है, वहां भी इस वर्ष में कार्य शुरू हो जाएंगे।उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने व्यवस्था परिवर्तन के अनेक काम किए हैं। भर्तियों व ट्रांसफर के सिस्टम में बड़ा बदलाव करके पारदर्शिता लाकर भ्रष्टाचार को खत्म किया है। सरकार ने ऐसी व्यवस्थाएं की हैं कि आज योजनाओं व सुविधाओं का लाभ लोगों को उनके घर द्वार पर मिल रहा हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले की सरकारों में क्षेत्रवाद होता था और विशेष क्षेत्र में विकास के काम होते थे। जबकि हमारी सरकार ने सभी क्षेत्रों में समान विकास सुनिश्चित किया है। पिछले साढ़े 9 वर्षों में राज्य में 33,000 किलोमीटर लंबी सड़कों का सुधार और लगभग 7000 किलोमीटर नई सड़कों का  निर्माण किया गया है। आज प्रदेश का हर जिला नेशनल हाईवे से जुड़ गया है। इसके अलावा हरियाणा का अपना ऐयरपोर्ट हिसार में बन रहा है। इसके आसपास अब उद्योग स्थापित करने के लिए बड़ी मांग आने लगी है। एयरपोर्ट के बनने से इस क्षेत्र का चहुंमुखी विकास होगा।  उन्होंने कहा कि 72 किलोमीटर लंबा ईस्टर्न डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर तथा 506 किलोमीटर लंबा वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर हरियाणा से होकर गुजरेगा, जिसका हरियाणा को बहुत बड़ा लाभ मिलने वाला है। इतना ही नहीं, केएमपी के साथ-साथ हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर भी बन रहा है और दिल्ली के सरायं काले खां से करनाल तक आरआरटीएस रेल लाइन भी स्थापित की जा रही है। इन सभी परियोजनाओं के पूरा होने से इस क्षेत्र की जनता को बहुत लाभ होगा। इसके अतिरिक्त सोनीपत में 161 एकड़ में स्थापित रेल कोच फैक्टरी में अब मेट्रो रेल के नये डिब्बे भी बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नेशनल हाईवे, स्टेट हाईवे और जिला सड़कों पर जहां कहीं आरओबी-आरयूबी नहीं है, वहां जल्द ही आरओबी-आरयूबी बनाए जाएंगे। इसके लिए रेल मंत्रालय से मंजूरी मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में प्रदेश में केवल 6 मेडिकल कॉलेज थे और 700 एमबीबीएस सीटें थी। लेकिन वर्तमान सरकार के प्रयासों से मेडिकल कॉलेज की संख्या जल्द ही 26 होने वाली है, जिसके परिणामस्वरूप एमबीबीएस की सीटों की संख्या 3500 हो जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी डबल इंजन की सरकार ने न केवल इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान दिया है, बल्कि सामाजिक क्षेत्र में बदलाव और समाज का जीवन कैसे खुशहाल हो सके इस‌के लिए ईज ऑफ लिविंग की दिशा में भी काम कर रहे हैं। इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण तथा पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि मुख्यमंत्री  मनोहर लाल सदैव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किसानों की आमदनी बढ़ाने के लक्ष्य को पूरा करने के प्रयास में लगे हैं। हमारी सरकार किसानों को समर्पित है और किसान हित में नई-नई योजनाएं शुरू की हैं।उन्होंने कहा कि किसानों की आमदनी बढ़ाने में पशुपालन क्षेत्र का विशेष योगदान है। हरियाणा प्रति व्यक्ति दूध उत्पादन के मामले में हमेशा पहले या दूसरे स्थान पर रहता है, लेकिन इसमें और आगे बढ़ने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि गत दिनों हरियाणा से एक प्रतिनिधिमंडल ब्राज़ील के दौरे पर गया था और उन्होंने वहाँ देखा कि गिर गाय के द्वारा लगभग 65 लीटर दूध दिया जा रहा है जबकि यहां 35 लीटर ही ‌ले पाते हैं। पशु नस्ल सुधार के लिए इस विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा भी प्रयास शुरू किए गए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का गौवंश देखभाल पर विशेष ध्यान है, इसलिए उन्होंने गौ सेवा आयोग के बजट को 10 गुणा बढ़ाकर 40 करोड़ रुपये से 400 करोड़ रुपये किया है। हमारा प्रयास यही है कि कोई भी बेसहारा पशु सड़क पर न हो, सभी पशुओं की टै‌गिंग की जाए और सबकी देखभाल सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि हरियाणा में पशुओं में होने वाली मुंह,खुर व गलघोटू बीमारी से बचाने के लिए सबसे पहले हमने एक सिंगल वैक्सीन बनाई और प्रदेश को इस बीमारी से मुक्त कर दिया है। उसके बाद प्रधानमंत्री ने पूरे देश में हरियाणा की इस वैक्सीन को लागू किया है। जेपी दलाल ने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयासों से किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से छोटे किसानों को लगभग 1500 करोड़ रुपये की पूंजी 4 प्रतिशत ब्याज पर दिलवाई गई है, जिससे किसानों को साहूकारों के चंगुल से छुटकारा मिला है। इसके अलावा पशु बीमा योजना के तहत मात्र 100 रुपये में पशुओं का बीमा किया जाता है। इस योजना के तहत पशुपालकों को अब तक 60 करोड़ रुपये के क्लेम दिये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि गांवों में रोजगार देने में पशुपालन से बेहतर कोई कारोबार नहीं है। समारोह में शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डॉ कमल गुप्ता, सांसद बृजेंद्र सिंह, विधायक  जोगीराम सिहाग, लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ विनोद वर्मा सहित जिला प्रशासन के अधिकारी व गणमान्य अतिथि उपस्थित थे। 

Related posts

उपलब्धिः सीसीटीएनएस क्रियान्वयन में हरियाणा पुलिस रही अव्वल, प्रथम रैंक से सम्मानित

Ajit Sinha

हरियाणा पुलिस ने कोविड-19 लॉकडाउन में अवैध शराब माफिया पर कसा शिकंजा, 392 केस दर्ज कर 449 लोगों को गिरफ्तार किया 

Ajit Sinha

फरीदाबाद : अशोक हत्याकांड : अशोक ने गौरव व उमेश की मई में रंजिशन हाथ -पैर तोड़ दी थी,एक साल बाद मई में अशोक की हत्या कर दी।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//leezeept.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x