Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद: असम से लाई गई 5 लड़कियों को गलत धंधे में धकेलने के लिए बनाया गया था बंधक, पुलिस ने कराया मुक्त, भेजा जेल

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद:नौकरी का झांसा देकर असम से लाई गई 5 लड़कियों को बंधक बनाई थी को आज डबुआ कालोनी थाने की पुलिस ने मुक्त करवाकर 1महिला सहित 2 आरोपितों  को अरेस्ट कर लिया गया हैं। गिरफ्तार किए गए आरोपितों के खिलाफ डबुआ थाने में भारतीय दंड सहिंता की धारा 370, 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया हैं। ये जानकारी एनआईटी डीसीपी डा. अर्पित जैन ने दी हैं। डीसीपी डॉ अर्पित जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि बंधक बनाई गई 5 लड़कियों को असम से लाई गई थी जिनको गलत धंधों में धकेलने की कोशिश की जा रही थी परन्तु कैद की गई 16 वर्षीय एक किशोरी की सूचना पर पुलिस टीम ने सभी लड़कियों को मुक्त करवाने में सफलता हासिल की है। 

उनका कहना हैं कि मुक्त करवाई गई लड़कियों में से एक की शिकायत के आधार पर थाना डबुआ में आरोपितों  के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 370, 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों  में आरोपित इजाबुल हक व रुही उर्फ शान्ति माया का नाम शामिल है। आरोपित इजाबुल हक असम के बारुडगा का रहने वाला है, वहीँ आरोपित  रुही उर्फ शान्ति माया,नागालैण्ड के दीमापुर की रहने वाली है। मुक्त कराई गई किशोरियों को बाल कल्याण समिति व लड़कियों को अदालत में  बयान करवाकर कानूनी कार्रवाई  पूरी करने के पश्चात् उन्हें सकुशल उनके परिजनों के हवाले कर दिया गया। किशोरी ने अपने ब्यान में बताया कि उसकी बहन की सहेली उसे नौकरी का झांसा देकर पहले उसे सिलीगुड़ी लेकर गई और बाद में उसे 2 अन्य लड़कियों के साथ डबुआ कालोनी, फरीदाबाद पहुंचा दिया गया। डबुआ में तीनों लड़कियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया जिसमे 1 महिला और 1 युवती पहले से मौजूद थी जिन्हें 10 दिन पहले ही यहां  लाया गया था। जब किशोरी ने उनके साथ बातचीत शुरू की तो उसे पता चला कि उन्हें यहाँ गलत धंधा करवाने के लिए लाया गया है। 

यह सुनकर लड़की सहम गई परन्तु उसने हिम्मत नहीं हारी और रात को मौका पाकर किशोरी ने अपने पास छुपाए हुए फ़ोन से पुलिस को सूचना दी कि वह किसी अनजान जगह पर बंद है और उसे जगह का नाम-पता कुछ मालूम नहीं है। सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और साइबर तकनीक का प्रयोग करते हुए थाना डबुआ प्रभारी इंस्पेक्टर सोहनपाल की अगुवाई में सहायक उप निरीक्षक  दिनेश, सहायक उप निरीक्षक रजनी, महिला सिपाही प्रियंका व टीम ने कड़ी मशक्कत  करने के बाद  कमरे की तलाश की और  5 लड़कियों को वहां पर कैद पाया। पुलिस टीम ने सभी बंधकों को वहां से मुक्त करवाया गया। आरोपित  मौके से फरार हो गए जिन्हें बाद में गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर डबुआ से अरेस्ट कर लिया गया। दोनों आरोपितों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है और इस धंधे में शामिल अन्य आरोपितों  की पुलिस तलाश कर रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। 

Related posts

फरीदाबाद प्रशासन ने कंट्रोल रूम, जिले के लोगो को कोरोना वायरस से सुरक्षा व सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं।

Ajit Sinha

पत्रकार अजीत सिन्हा द्वारा आयोजित “माता वैष्णों देवी” के विशाल भंडारा में कृष्णपाल, राजेश नागर सहित कई हस्ती हुए शामिल।

Ajit Sinha

फरीदाबाद : दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होने वाले महिला सम्मलेन में शहर से एक हजार महिला अपने हाथों में झंडा लेकर रवाना होंगी।

Ajit Sinha
//aibseensoo.net/4/2220576
error: Content is protected !!