Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

बीजेपी के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने आयोजित निषाद पार्टी और भाजपा की संयुक्त विशाल महारैली को किया संबोधित

अजीत सिन्हा /नई दिल्ली
केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री तथा भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने आज लखनऊ में रमा बाई आंबेडकर मैदान में निषाद समाज और भाजपा की पहली संयुक्त महारैली को संबोधित किया और राज्य की जनता से निषाद पार्टी-भाजपा के एनडीए गठबंधन को भारी मतों से विजयी बनाने का आह्वान किया। रैली को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री एवं प्रदेश चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह सहित कई सांसद, प्रदेश के मंत्री, विधायक और भारी संख्या में लोग उपस्थित थे। श्रृंगवेरपुर के राजा निषादराज को नमन करते हुए शाह ने अपने उद्बोधन की शुरुआत की।

रैली में उमड़े विशाल जनसैलाब से गद्गद दिखे केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की भाजपानीत योगी आदित्यनाथ सरकार विकास के नित नए आयाम स्थापित कर रही है। जनता के अपार समर्थन से यह तय है कि भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश में 300 से अधिक सीटों पर जीत के साथ प्रदेश में भारी बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि 2019 में संजय निषाद जी भाजपा के साथ जुड़े और निषाद समाज गाँव-गाँव से निकल कर हर बूथ पर कमल का संदेश लेकर पहुंचे। इसका परिणाम यह हुआ कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को आशातीत सफलता मिली और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में 300 से अधिक सीटों पर जीत के साथ भाजपा की भव्य विजय हुई। शाह ने कहा कि श्रीरामचरितमानस में गोस्वामी तुलसीदास ने इस प्रसंग का बड़ा ही मार्मिक वर्णन किया है कि वनवास की यात्रा के दौरान जब निषादराज ने प्रभु श्रीराम और माता सीता को भूमि पर सोता देखा तो उनकी आँखों से अनायास ही अश्रुधारा बह निकली। इसी तरह हम सबने अपने आराध्य प्रभु श्रीराम को वर्षों तिरपाल के मंदिर में देखा है। आखिर इतने सालों तक प्रभु श्रीराम का मंदिर बनने से किसने रोका था – यह सबको मालूम है। जब उत्तर प्रदेश की जनता ने पूर्ण बहुमत से नरेन्द्र मोदी सरकार बनाई तो कुछ समय पहले ही श्रीराम जन्मभूमि पर गगनचुंबी मंदिर की नींव डालने का कार्य प्रधानमंत्री के कर-कमलों से संपन्न हुआ है और जल्द ही प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर भी बन कर तैयार होगा। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि 2014 में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही प्रधानमंत्री
नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट कर दिया था कि उनकी सरकार देश के गाँव, गरीबों, पिछड़ों, दलितों और आदिवासियों को समर्पित सरकार होगी। देश में और उत्तर प्रदेश में वर्षों तक सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारें रही लेकिन गरीब के घर में गैस आया था क्या, उनके घरों में गैस किसी ने पहुंचाया क्या? न घरों में शौचालय था, न पीने का पानी। गरीबों के पास अपने घर तक नहीं थे। स्वास्थ्य बीमा तो ठहरी दूर की बात। ये सारे कार्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मिशन मोड में पूरा किया है। गरीबों को घर मिला, घर में बिजली, पानी, शौचालय और गैस की व्यवस्था हुई। सभी गरीबों को पांच लाख रुपये सालाना तक का मुफ्त आयुष्मान कार्ड दिया गया। निषाद समाज को इन योजनाओं के काफी लाभ हुआ है। उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा और बसपा-सपा की सरकारें आती रहीं लेकिन इन्होंने केवल अपनी जाति के लिए काम किया। इन सरकारों में न तो निषाद समाज के कल्याण के लिए कार्य किये गए और न ही पिछड़ी जातियों के जीवन स्तर को उठाने के लिए ही कुछ किया गया। शाह ने कहा कि वर्षों से मांग थी कि मछुआरे भाइयों के कल्याण के लिए एक अलग मंत्रालय बनाया जाय। 2019 के चुनाव में संजय निषाद और साध्वी निरंजन ज्योति ने प्रधानमंत्री से एक अलग मंत्रालय बनाने की मांग की। तब प्रधानमंत्री ने इसे बनाने का वादा किया और आज अलग मंत्रालय बनकर यह हमारे सामने है। इस मंत्रालय के माध्यम से लगभग 20,000 करोड़ से अधिक योजनायें इम्प्लीमेंट हुई हैं। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि सपा और बसपा अपने-आप को पिछड़ों की पार्टी होने का दावा करती है, वह केंद्र में लगातार कांग्रेस की सरकारों का समर्थन करती रही लेकिन पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता देने का कार्य किसी ने भी नहीं किया। यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार है जिसने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता दी। शाह ने कहा कि सपा-बसपा ने जाति के लिए समाज को बांटा। यहाँ तक कि इन्होने अपनी जाति के साथ भी छल कर केवल अपने एक परिवार का भला किया। ये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं जो सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबके प्रयास की अवधारणा पर चलते हुए जन-जन के कल्याण और देश के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में पुनः भारी बहुमत से योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की जो सरकार बनने वाली है, वह निषाद समाज की सभी मांगों को पूरा करने का प्रयास करेगी। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2015 से 2019 तक लगभग 5,000 करोड़ रुपये की निधि से नीली क्रांति योजना की शुरुआत की। साथ ही, 7,522 करोड़ रुपये के जलीय कृषि बुनियादी ढांचे की शुरुआत हुई। तीन करोड़ से अधिक मछुआरे भाइयों के कल्याण के लिए नए मत्स्य विभाग का गठन किया गया। इसके इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए लगभग 7000 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ जी ने भी मत्स्य से जुड़े व्यापार और कारोबार के लिए अलग से मंत्रालय का गठन किया। प्रदेश में मत्स्य बीज के उत्पादन के लिए लगभग 1191 करोड़ से अधिक निवेश हुआ है। लगभग 5900 से अधिक मछुआरे भाइयों को क्रेडिट कार्ड मिल चुका है और बाकी लोगों को अगले साल में क्रेडिट कार्ड मिल जाएगा। तालाबों/पोखरों के पट्टे के आवंटन की भी व्यवस्था हुई है।विपक्ष पर हमला करते हुए शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने सबसे बड़ा काम ये किया है कि उन्होंने उत्तर प्रदेश से माफियाओं और गुंडों को उखाड़ कर फेंक दिया है। मेरा यह स्पष्ट मानना है कि जिस प्रदेश में माफियाओं और गुंडों का राज हो, उस प्रदेश में गरीब का विकास कदापि नहीं हो सकता। गरीबों का विकास तभी संभव होता है जब कानून का राज हो। उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा की सरकारें माफिया का संरक्षण करती रही जबकि भारतीय जनता पार्टी की योगी आदित्यनाथ सरकार में माफिया और गुंडे पलायन करने पर विवश हैं। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के विकास के लिए पिछले सात वर्षों में लाखों करोड़ रुपये दिए हैं। कुछ समय पहले ही उन्होंने श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण किया है। एक ओर अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर बनने जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर, श्री काशी विश्वनाथ धाम को भव्यता वापस दिलाने का कार्य प्रधानमंत्री के कर-कमलों से हो रहा है। यह हम सभी देशवासियों के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने जिस तरह उत्तर प्रदेश में कोरोना प्रबंधन किया, उससे प्रदेश अब कोरोना के भय से बाहर निकल कर विकास के रास्ते पर आरूढ़ हो चुका है। मैं उत्तर प्रदेश की जनता से विनम्र निवेदन करता हूँ कि आप सब निषाद पार्टी और भाजपा के गठबंधन को भारी मतों से विजयी बनाएं और विकास के प्रति समर्पित भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार की सरकार के गठन का मार्ग पुनः प्रशस्त करें।

Related posts

यमुना एक्सप्रेस वे पर हुए तीहरे हत्याकांड के वांछित अपराधी लोडेड देसी कट्टे के साथ अरेस्ट।

Ajit Sinha

फरीदाबाद : पाकिस्तान अगर एक गोली चलाता है तो उसके बदले 100 गोली भारत की तरफ से चलाई जाती है, एम् एस बिट्टा।

Ajit Sinha

दो बार के विधायक रह चुके बंताराम सहित कांग्रेस, आप व जेजेपी के 100 से अधिक नेताओं ने थामा भाजपा का दामन

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//phoumsoomsoh.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x