Athrav – Online News Portal
गाज़ियाबाद राष्ट्रीय विशेष

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर विमान की इमरजेंसी लैंडिंग, आईएएफ की सूझबूझ से टला हादसा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गाजियाबाद: दिल्ली से सटे गाजियाबाद में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर एक चार्टर्ड प्लेन की इमरजेंसी लैंडिंग कराने का मामला सामने आया है। सूचना पर इंडियन एयरफोर्स के जवानों ने पायलट को सुरक्षित निकाला, इसमें कोई जन हानि नहीं हुई है, लेकिन काफी देर तक एक्सप्रेस-वे पर लंबा जाम लगा रहा। मिली जानकारी के मुताबिक, मसूरी थाना क्षेत्र में बृहस्पितवार को स्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर एनसीसी के टू शीटर विमान ने इमरजेंसी लैंडिंग की। प्लेन में बैठे दो जवानों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। हादसे में कोई जन हानि नहीं हुई है। हादसे के बाद एक्सप्रेस-वे पर जाम की स्थिति बन गई। मौके पर पहुंची एयरफोर्स की तकनीकी टीम विमान को ट्रक में रखकर साथ ले गई। मसूरी थाना प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि विमान बृहस्पतिवार दोपहर को बरेली से हिंडन एयरबेस जा रहा था। सदरपुर गांव के पास प्लेन में तकनीकी खराबी आ गई। जिस कारण पायलट को इसकी विमान की इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी।

पायलट ने एक्सप्रेस वे पर दोपहर डेढ़ बजे प्लेन को लैंड किया। हादसे में विमान का एक आगे का पहिया और बाया विंग क्षतिग्रस्त हो गया। इसके बाद पायलट ने एयरफोर्स के अधिकारियों को हादसे की सूचना दी। अधिकारी तकनीकी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। एयरफोर्स के अधिकारियों ने विमान की जांच-पड़ताल की। तकनीकी टीम ने विमान के दोनों को विंग को खोल दिया है। इसके बाद अधिकारी शाम करीब चार बजे विमान को एयरफोर्स के ट्रक में रखकर साथ ले गए। विमान पर एनसीसी का लोगो बना हुआ था।एक्सप्रेस-वे पर हादसा होने पर जाम की स्थिति बन गई। जिससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। विमान को देखने के लिए आस-पास के गांवों के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस विमान की बैरिकेडिंग कर दी। विमान के हटने तक सड़क पर लोगों का हुजूम लगा रहा। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को सड़क से हटाकर यातायात को सुचारू कराया। इमरजेंसी लैंडिंग की जानकारी लगते ही सैकड़ों की संख्या में युवा, महिलाएं आदि एक्सप्रेस-वे पर पहुंचे और वहां पर विमान के साथ सेल्फी लेनी शुरू कर दी। लोग मोबाइल से वीडियाे बना रहे थे। कई टिकटॉक स्टार विमान के साथ अपनी वीडियो बनाने मौके पर पहुंचे।



इसके अलावा वाहन चालकों ने बड़ी संख्या में अपने वाहन सड़क पर खड़े कर सेल्फी लेनी शुरू कर दी। लोगों को काबू करने में पुलिस के पसीने छूट गए। किसी भी तरह की आपात स्थिति में विमान को नजदीक एयरपोर्ट पर उतार दिया जाता है। यह आपात स्थिति तकनीकी और मानवीय व मौसम संबंधी भी हो सकती है। एक्सप्रेस वे पर जिस विमान की इमरजेंसी लैंडिंग की गई, वह दो शीटर विमान है। इसलिए उसे ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर उतार दिया गया। विमान की इमरजेंसी लैंडिंग होने पर राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। इस दौरान मुरादनगर और मसूरी पुलिस सीमा विवाद में उलझ गई। समय पर दोनों थानों की पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। पुलिस के नहीं पहुंचने पर लगा तार विमान के पास लोगों की भीड़ बढ़ रही थी। इससे अधिकारियों को खासी परेशानी हो रही थी। बाद में पुलिस अफसरों की फट कार पर दोनों थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। तनकीनी खराबी आने से पायलट ने विमान को बीच सड़क पर नहीं उतारा। यदि पायलट विमान को बीच सड़क पर उताद देता तो बड़ा हादसा हो सकता था। क्योंकि उस दौरान एक्सप्रेस वे पर तेज रफ्तार से वाहन दौड़ रहे थे। हालांकि सड़क के किनारे पर लैंड करने के विमान का विंग रेलिंग की चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हो गया।

Related posts

एनआईटी डीसीपी डा. अर्पित जैन को मिठाई के डब्बे में नोटों का बंडल भर कर रिश्वत देने के जुर्म एक शख्स को किया गिरफ्तार। 

Ajit Sinha

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए पहली लिस्ट में 195 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की हैं- लिस्ट पढ़े

Ajit Sinha

खेल मंत्री श्री विजय गोयल ने गुजरात के गांधीनगर में पैरा एथलीटों के लिए पहले प्रशिक्षण केंद्र की आधारशिला रखी

Ajit Sinha
//kauraishojy.com/4/2220576
error: Content is protected !!