Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद राजनीतिक विशेष

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रवेश मेहता द्वारा ओल्ड में आयोजित कार्यकर्ता सम्मलेन को डा. अशोक तंवर संबोधित करेंगें।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद:विधानसभा चुनाव का बिगुल बजने में मात्र गिनती के दिन रह गए हैं, ऐसे में विभिन्न राजनितिक पार्टियों के नेताओं के दिल धड़कने तेज हो गई हैं. इसी क्रम में फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र से एक नेता कांग्रेस पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ने के लिए अपना पसीना बहा रहा हैं। यह पसीना रविवार के दिन होने वाले एक कार्यकर्ता सम्मलेन के लिए बहाया जा रहा हैं जिसमें मुख्य रूप से कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा.अशोक तंवर मौजूद रहेंगें। जी हैं बात कर रहे हैं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रवेश मेहता का। प्रवेश मेहता तक़रीबन 27 सालों तक भारतीय जनता पार्टी में कर्मठ कार्यकर्ता के तौर पर पार्टी में उनकी पहचान रही थी .इस दौरान पार्टी में वह कई प्रमुख पदों पर रहे. भारतीय जनता पार्टी में रहते हुए उनकी स्वर्गीय धर्म पत्नी प्रवीण मेहता पहली बार महिला वार्ड से पार्षद बनी,दूसरी बार वह स्वंय वार्ड नंबर-26 से नगर निगम का चुनाव लड़े जिसमें वह जीते और पार्षद बने थे । इसके बाद वह फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र से चुनाव भी भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर लड़े,उसमें उन्होनें पसीना तो काफी बहाया था उसमें 24000 वोट मिले थे पर उनका पसीना गंगा नदी में बहने के बजाए गंदे नाले में चला गया और वह भी कांग्रेस उम्मीदवार आनंद कौशिक से हार गए। इसके बाद हुए विधानसभा चुनाव में उन्हें भारतीय जनता पार्टी से टिकट नहीं मिला और इस सीट से विपुल गोयल को टिकट मिल गया और उन्होनें भारतीय जनता पार्टी में रहते हुए भाजपा सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर का टिकट न मिलने से नाराज होकर उनका पुतला जलाया।

इसके बाद प्रवेश मेहता ने भारतीय जनता पार्टी को त्याग कर इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी में शामिल हो गए और उनकी पार्टी की टिकट पर भाजपा प्रत्याशी विपुल गोयल के खिलाफ चुनाव लड़े और उन्हें कुल 14 हजार 800 वोट मिले थे और इस सीट से भाजपा प्रत्याशी विपुल गोयल से चुनाव हार गए। इसके बाद इनेलो प्रमुख डा. अभय चौटाला ने अपने पार्टी का फरीदाबाद का जिलाध्यक्ष के पद पर आसीन कर दिया। इस पद पर वह कुछ महीनों तक बने रहे. इसके बाद उन्होनें इनेलो पार्टी से त्याग पत्र दे दिया और इसके बाद कांग्रेस पार्टी के राष्टीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला के अगुआई में वह कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए.अब हरियाणा में विधानसभा चुनाव फिर से होना हैं और उसका बिगुल अगले महीने की शुरुआत में बजना हैं.इससे पहले हर नेता अपने पार्टी की टिकट प्राप्त करने के प्रयास शुरू कर दिए हैं और अपने हाईकमान को अपने शक्ति और ताकत दिखाने के क्रम में छोटे -बड़े कार्यक्रम आयोजित करने को बेताब हैं। इस क्रम में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रवेश मेहता ने रविवार 11 अगस्त को प्रात 10 बजे अग्रसेन भवन में एक कार्यकर्ता सम्मलेन आयोजित कर रहे हैं जिसमें मुख्य रूप से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डा. अशोक तंवर मौजूद रहेंगें। प्रवेश मेहता ने दावा किया हैं कि इस सम्मलेन में तक़रीबन एक हजार से अधिक लोग मौजूद रहेंगें।



आपको जानकारी हेतु बतादें कि फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के पांच नेता चुनाव लड़ने के लिए अपनी तैयारी पिछले कई सालों से कर रहे हैं और सभी के सभी नेतागण अपने आप में सक्षम हैं चुनाव से जुड़े सभी मामलों में। इस विधानसभा क्षेत्र से आनंद कौशिक कांग्रेस सरकार में विधायक रह चुके हैं और उनका छोटा भाई बलजीत कौशिक अपने क्षेत्र में सक्रीय रहते हैं। इसके अलावा 4 और नेता गण हैं जिनमें पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा के करीबी लखन कुमार सिंगला,विकास चौधरी ,सुमित गौड़ ,प्रवेश मेहता हैं। जानकारी के लिए आपको बतादें कि लखन कुमार सिंगला का प्रॉपर्टी का कारोबार हैं और वर्ष 2014 में भाजपा सरकार प्रदेश में बनने के बाद,भाजपा सरकार के एक मंत्री ने उनका नुक्सान प्रॉपर्टी को तुड़वा कर किया। इसके बाद विकास चौधरी जोकि एक दबंग नेता और सक्रीय नेता थे का पिछले दिनों कौशल गैंग के गुर्गों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी, हत्या का कारण कुछ भी सकता हैं पर इतना जरूर हैं कि इस विधानसभा क्षेत्र में चुनाव लड़ने हेतु सक्रीय थे। इसके बाद इस विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सुमित गौड़ सक्रीय हैं और पिछले दिनों भाजपा सरकार के खामियों को प्रचार के माध्यम से उजागर कर रहे थे पर एक मंत्री के दबाव में जिला प्रशासन ने उन्हें धमकाते हुए उनका प्रचार का परमिशन कैंसिल का दिया। अब बचे हैं प्रवेश मेहता जिनके बारे में आने वाला वक़्त बताएगा। बताया जाता हैं कि फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने के इच्छुक नेताओं के साथ कोई न कोई घटना अवश्य घटी हैं आगे देखते हैं इस क्षेत्र में और क्या क्या होता हैं।

Related posts

फरीदाबाद:नव निर्वाचित जिला परिषद के प्रेजिडेंट और वाइस प्रेसिडेंट को दिलवाई पद और गोपनीयता की शपथ

Ajit Sinha

फरीदाबाद: देश में ईडी और सीबीआई का खौफ फैलाने वाले बीजेपी को दिल्ली की जनता ने दिया अपने अंदाज में ठोस जवाब।

Ajit Sinha

पुराने रंजिश केसों की मैपिंग व निगरानी के रहे सकारात्मक परिणाम 17 प्रतिशत संभावित हत्याओं पर लगा अंकुश- विर्क

Ajit Sinha
//shooltuca.net/4/2220576
error: Content is protected !!