Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

धमकी और अपशब्दों का प्रयोग करने वाली दीदी आज कह रही हैं – कूल, कूल लेकिन तृणमूल कूल नहीं-पीएम मोदी

नई दिल्ली/ अजीत सिन्हा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज पश्चिम बंगाल के जयनगर और उलुबेरिया में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और कहा कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी 200 से अधिक सीटों पर जीत के साथ भारी बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। उन्होंने कहा कि ये चुनाव सिर्फ सत्ता के परिवर्तन का ही नहीं, बल्कि असल परिवर्तन लाने का महायज्ञ है। ये चुनाव पश्चिम बंगाल की आकांक्षाओं का है, नौजवानों की आकांक्षाओं का है।
मोदी ने कहा कि आज यहां आपके बीच किसी भी चर्चा से पहले मैं, बंगाल की बेटी शोभा मजूमदार जी को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं। शोभा जी बंगाल की उन अनगिनत माताओं, उन अनगिनत बहनों का चेहरा थीं जिन पर तृणमूल के लोगों ने अत्याचार किया। शोभा जी का वो चेहरा मेरी आंखों से उतरता नहीं है। तृणमूल सरकार पर जोरदार हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि धमकी और अपशब्दों का प्रयोग करने वाली दीदी आज कह रही हैं – कूल, कूल लेकिन तृणमूल कूल नहीं, बंगाल के लोगों के लिए शूल है। बंगाल को असहनीय पीड़ा देने वाला शूल है तृणमूल। बंगाल को रक्तरंजित करने वाला शूल है तृणमूल। बंगाल के साथ अन्याय करने वाला शूल है तृणमूल। दीदी का हर एक्शन देख लीजिए, सब कुछ स्पष्ट नज़र आता है। शुरुआती रुख पता चला तो तो दीदी भबानीपुर सीट छोड़कर नंदीग्राम पहुंच गई।

नंदीग्राम जाकर लगा उन्हें लगा कि यहां आकर गलती कर दी है। गुस्से में वो नंदीग्राम के लोगों के अपमान पर उतर आईं। पहले चरण की वोटिंग होने के बाद उनकी बौखलाहट और बढ़ गई है। कल ही दीदी ने देश के कई नेताओं को संदेश भेजकर मदद की अपील की है। जो लोग दीदी की नजर में बाहरी हैं, टूरिस्ट हैं, जिन्हें वो कभी मिलने तक का समय नहीं देती थीं, अब उनसे समर्थन मांग रही हैं। मोदी ने कहा कि ममता दीदी को जय श्रीराम के आह्वान से दिक्कत है, ये पूरा बंगाल पहले से जानता है। ममता दीदी को दुर्गा जी की प्रतिमा के विसर्जन से दिक्कत रही है, ये भी पूरा बंगाल पहले से जानता है लेकिन अब दीदी को तिलक से दिक्कत है। अब दीदी को भगवा वस्त्र से दिक्कत है। और तो और अब दीदी के लोग चोटी रखने वालों को राक्षस कहने लगे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि ममता दीदी, आपको वोट के लिए किसी को खुश करना है तो ये आपका अधिकार है, आप जरूर करिए।
आपको मुझे अपशब्द देना है, जरूर देते रहिए लेकिन पश्चिम बंगाल के लोगों की आस्था को, रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, चैतन्य महाप्रभु की पहचान को, मैं आपको अपशब्द नहीं देने दूंगा। दीदी जिस तरह उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों के खिलाफ दुश्मनी की भाषा बोल रही हैं, वो उनकी राजनीतिक समझ पर सवाल पैदा कर रहा है। दीदी, आप ये भूल रही हैं कि आपने सीएम के नाते संविधान की शपथ ली हुई है। भारत का संविधान, इसकी इजाजत नहीं देता कि आप दूसरे राज्यों का इस तरह अपमान करें। मोदी ने कहा कि मैं हैरान हूं कि दीदी को क्या हो गया है। कुछ दिनों पहले मैं बांग्लादेश गया था। वहां मैंने 51 शक्तिपीठों में से एक यशोरेश्वरी काली माता मंदिर के दर्शन किए, पूजा अर्चना की लेकिन दीदी को इस पर घोर आपत्ति है। मैंने ओराकान्दी में हरिचंद ठाकुर, गुरुचॉन्द ठाकुर जी की पुण्य भूमि में जाकर पूरे देश के लिए आशीर्वाद मांगा। ये देखकर भी दीदी का गुस्सा सांतवें आसमान पर पहुंच गया। आप बताइए, मां काली के मंदिर में जाना गलत है क्या? हरिचंद ठाकुर जी को प्रणाम करना गलत है क्या?
प्रधानमंत्री ने कहा कि दीदी की समस्या क्या है, वो ये पूरा क्षेत्र जानता है, ये सुंदरबन का इलाका जानता है। घुसपैठियों को खुश करने के लिए दीदी बंगाल के लोगों को भूल गईं। यहां उन्नयन के नाम पर उन्होंने 10 साल में क्या किया, इसका ठोस जवाब दीदी के पास है नहीं। तृणमूल की तोलाबाज़ी ने गरीब, मध्यम वर्ग, उद्यमी, सभी का जीना दुश्वार किया हुआ है। घर बनता है तो उसमें कटमनी।

बच्चों के एडमिशन, जॉब की एप्लीकेशन, उसमें भी कटमनी। होम लोन हो, एजुकेशन लोन हो, अस्पताल में एडमिशन हो, हर जगह कटमनी। कोरोना काल में भाजपा सरकार ने मुफ्त चावल भेजा, तो उसमें कटमनी। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पूरे देश में करोड़ों घर बने। बंगाल में केंद्र सरकार ने 30 लाख से ज्यादा घर,गरीबों के लिए स्वीकृत किए हैं लेकिन कटमनी के कारण यहां अनेक गरीबों के घर अधूरे पड़े हैं। टीएमसी सरकार की नीतियों का बहुत बड़ा नुकसान हमारे किसान भाई-बहनों ने उठाया है। मोदी ने कहा कि दीदी की मनमानी की वजह से बंगाल के लाखों किसान, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लाभ से वंचित हैं। मैं आज आपको एक भरोसा देना चाहता हूं। जैसे ही 2 मई को बंगाल में भाजपा की सरकार बनेगी, तुरंत ही पीएम किसान योजना का लाभ आप तक पहुंचाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों के लिए दीदी का विजन क्या है? किसान सम्मान निधि पर रोक। हेल्थ सेक्टर के लिए दीदी का विजन क्या है? आयुष्मान भारत योजना पर रोक। अर्बन प्लानिंग के लिए दीदी का विजन क्या है? रेरा कानून को लागू करने पर रोक। हाउसिंग के लिए दीदी का विजन क्या है? पीएम आवास योजना की सुस्त रफ्तार, कटमनी। स्वच्छ पानी के लिए दीदी का विजन क्या है? हर घर जल मिशन के पैसे, फाइलों में दबाकर बैठ जाना। उन्होंने कहा कि दीदी की सरकार ने यहां के हमारे मछुआरे भाई-बहनों को भी सिर्फ तोलाबाज़ी दी है। दीदी की सरकार ने मत्स्यजीवियों के लिए बनाए गए प्रकल्प,मत्स्य संपदा योजना को रोका। डबल इंजन सरकार इस योजना को यहां तेजी से लागू करेगी ताकि मछली का व्यापार-कारोबार आसान हो। दीदी की सरकार ने इस क्षेत्र में Ease of Crime को बढ़ावा दिया, डबल इंजन सरकार यहां Ease of Doing Business को बढ़ाएगी। दीदी, आपको अंदाजा नहीं है कि बंगाल के लोग आपसे कितना नाराज हैं। आपको बंगाल के लोगों के गुस्से से कोई नहीं बचा सकता।

Related posts

फरीदाबाद: नगर निकाय चुनाव की प्रबंधन बैठक में शामिल हुए पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल

Ajit Sinha

नई दिल्ली: एआईसीसी ने अमित नंदा को अनुसूचित जाति विभाग हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया।

Ajit Sinha

2000 नोट का मामला: बंद नहीं हो रहे हैं, पर एक्‍सचेंज करा लीजिए, एक्सचेंज कराना अच्छा रहेगा-लाइव वीडियो सुने 

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//gleeglis.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x