Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

डीएचबीवीएन निदेशक नीरज आहूजा ने गुरुग्राम में की ऑपरेशनल रिव्यू बैठक

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम:दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के निदेशक (ऑपरेशन) नीरज आहूजा ने आज गुरुग्राम सर्कल दो की ऑपरेशनल रिव्यू कमेटी (ओआरसी ) बैठक की। इस बैठक में गुरुग्राम सर्कल दो में बिजली निगम द्वारा किए जा रहे सभी कार्यों की समीक्षा की गई। इसमें बिजली निगम द्वारा करवाए जा रहे सभी विकास कार्यों बारे विवरण दिया गया। निदेशक नीरज आहूजा ने बताया कि बिजली उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिलेगा। सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए विकास कार्यों की समीक्षा की गई है और यह लगातार जारी रहेगी। कार्यों की प्रगति में तेजी लाने के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। सभी को लक्ष्य दिए गए हैं और किसी भी अधिकारी की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

इस बैठक में सभी बिंदुओं पर सिलसिले वार विचार विमर्श किया गया। बैंक में प्रेषण (आरआईबी), राजस्व लक्ष्य की स्थिति और लक्ष्य प्राप्ति की स्थिति तय की गई। एटीएंडसी/वितरण हानियों और संग्रह दक्षता की स्थिति, वितरण ट्रांसफार्मरों के क्षतिग्रस्त होने की स्थिति (क्षति दर), ‘म्हारा गांव, जगमग गांव’ योजना के तहत स्थिति व प्रगति, कुल आरडीएस फीडर, कार्य पूर्ण, कार्य प्रगति पर या पूर्ण होने की संभावना, फीडर जहां कार्य अभी शुरू होना है, 24 घंटे चलने वाले फीडरों की हानि। एलआरपी (शहरी फीडर) की स्थिति व इसके नुकसान, बकाया राशि की स्थिति व उसके बढ़ने के कारण, सरकार के विभागों पर बकाया के समाधान की स्थिति, सोशल मीडिया, ऑनलाइन पोर्टल अर्थात सीएम विंडो, जन संवाद, एएएस पोर्टल, सीपीग्राम्स, एसएमजीटी पोर्टल आदि की गतिविधियों की स्थिति व प्रदर्शन, नया कनेक्शन, सरल टिकट और सरल स्कोर का विवरण लिया गया। एमसीओ, पीडीसीओ, बढ़े हुए बिलों के लंबित होने की स्थिति, चोरी का पता लगाने की स्थिति, प्रयोगशाला से जांच के लिए पैक किए गए संदिग्ध चोरी के मीटरों की स्थिति, उप केन्द्रों, फीडरों एवं वितरण ट्रांसफार्मरों के निवारक व अनुरक्षण की स्थिति तथा दिए गए कार्यादेश का विवरण एवं उनकी भौतिक व वित्तीय प्रगति जानी गई। अपवाद रिपोर्ट की स्थिति, उस पर की गई कार्रवाई, ब्रेकडाउन/ट्रिपिंग की स्थिति, खराब मीटर, इलेक्ट्रो मैकेनिकल मीटर के प्रतिस्थापन की स्थिति, ट्यूबवेल कनेक्शन जारी करने की स्थिति सुझाव व टिप्पणियां, मॉडल फीडर क्रियान्वयन कार्यक्रम के तहत चयनित फीडरों पर की गई कार्रवाई, अधोसंरचना के सुदृढ़ीकरण की स्थिति के साथ-साथ कार्यादेशों का विवरण तथा भौतिक और वित्तीय प्रगति की समीक्षा की गई। उल्लंघन के कारणों के साथ-साथ मुख्य लेखा परीक्षक, एम एंड पी टीम के साथ-साथ ऊर्जा लेखा परीक्षा टीम द्वारा देखी गई टिप्पणियों पर की गई कार्रवाई रिपोर्ट, एसीडी के अपडेशन की स्थिति बताई गई। ऑपरेशन सर्किल समीक्षा बैठक में मौसम अनुसार तैयारी, कंडक्टरों को कसने व बदलने के लिए अभियान तथा निर्धारित लक्ष्य, एकीकृत बिलिंग सॉफ्टवेयर स्थिति, परिवार पहचान पत्र से लिंक, आरटीएस प्रदर्शन डैशबोर्ड के तहत ऑटो अपील सिस्टम पोर्टल पेंडेंसी आदि की समीक्षा भी की गई। इस बैठक में दिल्ली जोन के मुख्य अभियंता वीके अग्रवाल,एसई दो गुरुग्राम पीके चौहान,  कार्यकारी अभियंता मॉनिटरिंग प्रदीप ढुल, कार्यकारी अभियंता शालिनी पन्नू व मनोज नेहरा तथा सर्कल दो के सभी सब डिवीजन के एसडीओ आदि मौजूद रहे।

Related posts

दिल्ली-जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बने खेडक़ी दौला टोल प्लाजा को हटाया जाना तय हो चुका है: सीएम मनोहर लाल 

Ajit Sinha

डॉ मार्कण्डेय आहूजा की “सेल्फ़ मैनेजमेंट एंड गीता” किताब लंदन में लॉन्च

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: 17 मेडिकल स्टोरों के ड्रग्स लाईसेंस सस्पेंड, 5 के ड्रग्स लाइसेंस केंसिल- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//oulsools.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x