Athrav – Online News Portal
अपराध चंडीगढ़ फरीदाबाद हरियाणा

डीजीपी शत्रुजीत कपूर ने आयोजित पासिंग आउट परेड में शिरकत की, परेड टुकड़ियों का किया निरीक्षण,ली सलामी। 


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: हरियाणा पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने आज पुलिस ट्रेनिंग सेंटर सुनारिया के पीओपी ग्राउंड में आयोजित भूतपूर्व सैनिकों के रिक्रूटमेंट के बेसिक कोर्स बैच नंबर एस-14 की पासिंग आउट परेड का निरीक्षण किया व सलामी ली।इस बैच में सभी 452 सिपाही भूतपूर्व सैनिक शामिल है। पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने परेड की सलामी लेने उपरांत जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि दीक्षांत परेड किसी भी पुलिस कर्मचारी के लिए एक गौरवमयी पल होता है। उन्होंने सभी जवानों को रिक्रूटमेंट बेसिक कोर्स के उपरांत बेहतरीन दीक्षांत परेड की बधाई देते हुए कहा कि इस बैच में सभी 452 सिपाही भूतपूर्व सैनिक शामिल है। इन्होंने सेना में प्रशिक्षण प्राप्त करके देश की सेवा की है। इनका अनुभव अब प्रदेश के नागरिकों को भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस के हर कर्मचारी का कर्तव्य नागरिकों के जान-माल की सुरक्षा के साथ-साथ कानून व्यवस्था बनाये रखना है। आज की इस परेड में इन जवानों ने अपने कर्तव्य के पथ पर जान की परवाह ना करने की जो शपथ ली है, उसे वे अपने पूरे सेवाकाल के दौरान याद रखे। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस अपराध को पूरी तरह खत्म करने के लिए कानूनी व विभागीय हर आवश्यकता पूरी कर रही है। हर जिला में महिला सुरक्षा के मद्देनजर महिला थाना व महिला डेस्क स्थापित किये गए है। प्रदेश में नशे के कारोबार को पूरी तरह से खत्म करने और युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए विशेष हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो बनाया है, जो हर जिला में नशा मुक्ति अभियान चलाने के साथ-साथ नशे के कारोबार में लिप्त नशा तस्करों के खिलाफ सख्त कार्यवाही कर रहा है। हरियाणा पुलिस द्वारा आयोजित साइक्लोथॉन में हुई अपार जन भागीदारी इस बात का प्रमाण है कि प्रदेश की जनता नशे के खिलाफ पूरी तरह सजग है तथा जनता नशे के खिलाफ एकजुट होकर कार्य कर रही है।उन्होंने कहा कि साइबर अपराध से निपटने के लिए हर जिला में साइबर थाना बनाया गया है। हरियाणा पुलिस के साइबर सेल ने साइबर अपराध नियंत्रण को लेकर देशभर में में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए पहला स्थान प्राप्त किया है। इस संदर्भ में साइबर हेल्पलाइन 1930 पर तैनात टीम ने बेहतरीन काम किया है। उन्होंने नवनियुक्त सिपाहियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि समाज को पुलिस से सेवा,सुरक्षा व सहयोग की अपेक्षा रहती है। उनकी इन अपेक्षाओं के मापदंडों पर खरा उतरने के लिए पुलिस का हर जवान पूरी कर्तव्यनिष्ठा से कार्य कर रहा है। इस नए बैच को अपने नियुक्ति स्थान पर कर्तव्यनिष्ठा की इस समृद्ध परम्परा को लगातार आगे बढ़ाना है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि इस बैच से निकला हुआ हर सिपाही एक अच्छा पुलिसकर्मी बनने के साथ-साथ एक अच्छा नागरिक भी बनेगा।दीक्षांत परेड समारोह में भूतपूर्व सैनिक काडर के 452 सिपाहियों की 8 टुकड़ी ने मार्च पास्ट किया। इस अवसर पर डीजीपी शत्रुजीत कपूर ने प्रशिक्षण के दौरान प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सिपाही नवीन को 51000 रुपये का नकद पुरस्कार, सिपाही जसविंदर को द्वितीय स्थान प्राप्त करने पर 31000 रुपये नकद पुरस्कार तथा सिपाही अमनपाल को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर 21000 रुपये का नकद पुरस्कार व प्रशंसा पत्र दिया। इसके साथ-साथ डीजीपी ने प्रशिक्षक एएसआई सुशील कुमार व प्रशिक्षक एएसआई तेज सिंह को भी पुरस्कृत किया। इस अवसर पर रोहतक मंडल के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक केके राव ने अपने स्वागत संबोधन में कहा कि दीक्षांत समारोह प्रत्येक वर्दीधारी के लिए स्वर्णिम अवसर है। उन्होंने सभी 452 सिपाहियों को उनके 6 माह के पुलिस प्रशिक्षण के पूरे होने पर बधाई दी।  उन्होंने पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में चलाये जा रहे विभिन्न कोर्सेज के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 30 अक्टूबर 2023 को आरंभ हुए इस बैच में 452 जवान शामिल हैं। ये सभी जवान अपनी सेवाएँ भारतीय सेना में देकर प्रदेश पुलिस में शामिल हुए हैं। इनमें 50 पोस्ट ग्रेजुएट तथा 295 ग्रेजुएट, 82 जवान 12वीं व 25 जवान दसवीं पास हैं। इस बैच में 451 जवान हरियाणा प्रदेश व 01 जवान दिल्ली राज्य का निवासी है। इनमें 401 ग्रामीण व 51 शहरी पृष्ठभूमि से हैं। इन जवानों को नवीनतम पाठ्यक्रमानुसार प्रशिक्षित किया गया है।डीआईजी शिवचरण अत्री ने अपने धन्यवाद भाषण में सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ नए भर्ती सिपाहियों, पुलिस कर्मचारियों व उनके परिजनों तथा मीडिया का धन्यवाद करते हुए कहा कि आज इस केंद्र से प्रशिक्षण प्राप्त किए सभी सिपाही अपने अच्छे आचरण व सद्भावना व ईमानदारी से लोगों की सेवा करते हुए पुलिस का नाम रोशन करेंगे। पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय सुनारिया प्रमुख पुलिस उप महानिरीक्षक शिवचरण अत्री भापुसे ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेंट किया तथा सभी का आभार व्यक्त किया। पासिंग आउट परेड के अवसर पर रोहतक मंडल व सुनारिया स्थित पुलिस परिसर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक केके राव, पुलिस ट्रेनिंग केंद्र के पुलिस उप महानिरीक्षक शिव चरण अत्री, रोहतक के पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग, चरखी दादरी की पुलिस अधीक्षक पूजा वशिष्ठ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लोगेश कुमार, सुनारिया स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के पुलिस अधीक्षक ध्यान चंद, कमांडेंट थर्ड आईआरबी सुनारिया एंड वुमेन बटालियन सुनारिया भारती डबास, सहायक निदेशक आरएफएसएल पीटीसी सुनारिया दलबीर व डीएवी स्कूल सुनारिया की प्राचार्या रीना  सहित पुलिस के अधिकारी, कर्मचारी व नव नियुक्त सिपाहियों के परिजन उपस्थित थे।

Related posts

फरीदाबाद: ग्रीन फील्ड में भाजपा प्रत्याशी कृष्ण पाल को भारी मतों से जिताने और मोदी को फिर से पीएम बनाने के लगे नारे -वीडियो।

Ajit Sinha

मानव सुपर 21 आईआईटी कोचिंग के लिए चयनित छात्रों की कोचिंग शुरू की गई

Ajit Sinha

फरीदाबाद :पुलिस कमिश्नर संजय कुमार का शहरवासियों से अपील कानून ब्यवस्था बनाए रखने में पुलिस प्रशासन का करें सहयोग।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//zeekaihu.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x