Athrav – Online News Portal
दिल्ली

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गार्डन ऑफ फाईव सेंसेज, साकेत में 35वें गार्डन टूरिज़्म फेस्टिवल का उद्घाटन किया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:केजरीवाल सरकार द्वारा वसंत उत्सव का स्वागत करते हुए गार्डन ऑफ़ फाइव सेंसेज़ में 35वें गार्डन टूरिज्म फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इसका उद्घाटन किया। उपमुख्यमंत्री ने यहाँ स्टालों का निरीक्षण किया व उद्यान उत्सव के शुभारंभ पर पौधारोपण भी किया। 3 दिवसीय इस उत्सव का 17 फरवरी से 19 फरवरी तक आयोजन किया जाएगा। फेस्टिवल का मुख्य उद्देश्य दिल्ली को हरा भरा बनाना और लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता फैलाना है। पिछले 35 वर्षों से, यह फेस्टिवल हर साल वसंत के मौसम में आयोजित होता है। केजरीवाल सरकार के पर्यटन विभाग की ओर से इस साल गार्डन ऑफ़ फाइव सेंसेज को जी 20 के लिए ‘गार्डन ऑफ़ यूनिटी’ के रूप में सजाया गया है। 
35वें गार्डन टूरिज्म फेस्टिवल का उद्घाटन करते हुए  उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि , “यह दिल्ली के लोगों के लिए एक बहुत ही प्रतिष्ठित गार्डन फेस्टिवल  है। इसके दौरान गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज की सुंदरता और बढ़ जाती है जब दुनिया भर के पौधों को यहां प्रदर्शित किया जाता है। दो साल के अंतराल के बाद एक बार फिर से इस महोत्सव का आयोजन जोर शोर से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज दिल्ली की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है, जिसे कोई भी मिस नहीं कर सकता। यादगार फैमिली आउटिंग के लिए यह गार्डन सबसे अच्छी जगह है। बहुत जल्द सरकार गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज में और अधिक सुविधाएं जोड़ने जा रही है और इसे एक अंतरराष्ट्रीय उत्सव बना देगी। उपमुख्यमंत्री ने दिल्ली के लोगों से आग्रह किया कि वे अपने परिवारों के साथ इस उत्सव में गुणवत्तापूर्ण समय बिताने और प्रकृति के बारे में ज्ञान से खुद को समृद्ध करने के लिए आएं।
 
बता दें कि इस साल लोगों को आकर्षित करने के लिए व उद्यान के प्रति लोगों की उत्सुकता जगाने के उद्देश्य से विभिन्न प्रकार की पेड़-पौधों और फूलोँ से सजी हुई  पशु पक्षियों की आकृतिया प्रदर्शित होंगी।  20 एकड़ के हरे भरे क्षेत्र में फैला यह गार्डन यहाँ मौजूद पेड़-पौधों व फूलों की सैकड़ों प्रजातियों के साथ बड़ी संख्या में लोगों के लिए  आकर्षण का केंद्र बनेगा।पर्यावरणविदों और नागरिकों के लिए एक इंटरैक्टिव प्लेटफॉर्म बनाने के लिए, महोत्सव में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं का आयोजन होगा। पर्यटकों को एक शानदार अनुभव प्रदान करने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ-साथ फेस्टिवल में  देश के विभिन्न राज्यों के फूड स्टॉल भी लगाए गए हैं।इस फेस्टिवल में कनाडा से मेपल लीफ, फ्रांस से आइरिस, जर्मनी से कॉर्नफ्लावर, तुर्की से ट्यूलिप, रूस से कैमोमाइल, इटली से लिली सहित कई अन्य देशों के फूल आकर्षण का केंद्र हैं। महोत्सव के दौरान लोग सुबह 11:00 से रात 9 बजे तक इसका आनंद उठा सकेंगे।यहां पहुंचने के लिए निकटतम मेट्रो स्टेशन साकेत है। जहां से लोगों को गार्डन तक के लिए फ्री शटल सर्विस उपलब्ध है।
इस गार्डन फेस्टिवल में विदेशों से लगभग 300 किस्मों के पौधे और फूलों की प्रदर्शनी की गई है। साथ ही प्रदर्शनी में टेरारियम, जानवरों के आकार में फूल, गमले में लगे पौधे, पत्ते, औषधीय और हर्बल पौधे, हैंगिंग बास्केट, कटे हुए फूल और नर्सरी स्टॉल भी आकर्षण का केंद्र होंगी।

Related posts

ब्रेकिंग न्यूज़: भाजपा की चुनावी जीत बनी “लूट का लाइसेंस”: रणदीप सिंह सुरजेवाला

Ajit Sinha

वीडियो देखें: राहुल गांधी 120 वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं के साथ निकले भारत जोड़ो के 3600 किलो मीटर की पदयात्रा पर।

Ajit Sinha

नई दिल्ली: विपक्ष के पास गोवा के विकास का न कोई रोडमैप है, न एजेंडा ये केवल और केवल झूठे वादे कर सकते हैं-अमित शाह

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//vaikijie.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x