Athrav – Online News Portal
दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे बोले – एकजुटता के साथ आपसी मतभेदों को भुलाकर कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करें


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों के नेताओं से कहा कि एकजुटता के साथ पार्टी के लिए काम करें और आपसी मतभेदों को भुलाकर कांग्रेस पार्टी की जीत सुनिश्चित करें। कांग्रेस पार्टी का मुख्य उद्देश्य देश के लोकतंत्र और संविधान को बचाना है। संविधान हमारे लिए ऑक्सीजन है और लोकतंत्र हमारे लिए भविष्य है। खरगे बुधवार को नई दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस एससी, एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक विभागों की तरफ से आयोजित ‘लीडरशिप डेवलपमेंट मिशन’ कार्यशाला में संबोधित कर रहे थे।

खड़गे ने कहा कि लीडरशिप डेवलपमेंट मिशन कांग्रेस पार्टी के जमीनी स्तर का काम है। इसके जरिए कांग्रेस पार्टी को अपने सामाजिक न्याय के एजेंडे को आगे बढ़ाना है। इस अभियान में मौजूदा और नई पीढ़ी के नेता दोनों शामिल हैं। इस मिशन का मकसद कांग्रेस पार्टी को चुनाव में मदद देना और उम्मीदवारों की जीत की संभावनाओं को बढ़ाना है। अगर कहीं कुछ कमजोरी दिखे तो उसे ताकत में बदलना है। इस मिशन से जुड़े साथी हमारे ‘हेल्पिंग हैंड’ हैं। उन्होंने बताया कि वे इस मिशन को लेकर खुश हैं और इससे जुड़े सभी साथियों को बधाई देते हैं। खड़गे ने कहा कि राहुल गांधी ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा के द्वारा देश में एक नया वातावरण बनाया है। राहुल गांधी ने देश के प्रमुख मुद्दों को जनता की चर्चा में ला दिया है। संगठन को मजबूत बनाने के लिए कांग्रेस पार्टी लगातार जोर दे रही है। उदयपुर के कांग्रेस चिंतन शिविर में लीडरशिप डेवलपमेंट मिशन की घोषणा की गई थी। जब तक आप मजबूत नहीं होंगे, अपने पैरों पर खड़े नहीं होंगे, अपने अंदर स्वाभिमान नहीं लाएंगे, आप आगे नहीं बढ़ सकते। हमें नेतृत्व को बढ़ावा देना होगा और स्थानीय नेतृत्व के साथ मिलकर काम करना होगा। खड़गे  ने कहा कि एससी और एसटी क्षेत्रों में कांग्रेस उम्मीदवारों का चयन इस मिशन का काम नहीं है। लेकिन जरूरत पड़ी तो उनकी राय ली जा सकती है, क्योंकि उन्होंने जमीनी स्तर पर काम किया है। प्रदेश कांग्रेस, जिला कांग्रेस और ब्लॉक अध्यक्षों के जिम्मे इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी है। जमीन पर इन्हें लीडरशिप को आगे ले जाने का काम करना है। उन्हें इस बात की खुशी है कि इस मिशन को बहुत अच्छे तरीके से डिजाइन किया गया है और संसाधन सामग्री भी काफी मेहनत से बनाई गई है। मिशन में हर पदाधिकारी की एक भूमिका और जिम्मेदारी तय की गई है।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मिशन को सफलता से संचालित करने के उद्देश्य से एलडीएम एप बनाई गई है। इस एप का शुभारंभ करते हुए वह उम्मीद करते हैं यह ऐप संवाद को और तेज एवं प्रभावी बनाने में मददगार साबित होगी। एलडीएम टीम के सदस्य ऐप की मदद से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेताओं द्वारा दिए जाने वाले कार्यों को एलडीएम पार्लियामेंट समन्वयकों और एलडीएम टीम लीडर्स के साथ सफलता से पूरा कर सकेंगे। एप से रिपोर्ट भेजना भी आसान होगा। इस एप से एलडीएम को जरूरी संसाधन सामग्री, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पत्र भी पहुंचेंगे। प्रमुख सदस्यों का डाटा भी ऐप में होगा। खड़गे ने कहा कि वह अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों के अध्यक्षों एवं फ्रंटल प्रमुखों से आह्वान करते हैं कि वो इस मिशन की निगरानी और दिशा देने के लिए अपना समय निकालें। उनका साथ दें, सहयोग करें। वह खुद भी समय-समय पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों और एलडीएम टीम के साथ मिशन के कार्यान्वयन की समीक्षा करेंगे। इसी तरह वह कांग्रेस के महासचिवों, प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों को सलाह देते  हैं कि वे महीने में कम से कम एक बार एलडीएम के जमीनी कामकाज की जांच करें। कोई परेशानी आ रही हो तो उसे दूर करने में मदद करें।खड़गे  ने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का हवाला देते हुए कहा कि 1956 की चिंतन बैठक के समापन भाषण में नेहरू ने कहा था कि 1920 से 1940 के दौरान कांग्रेस संगठन में कई बदलाव हुए। महात्मा गांधी के प्रेरक नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया गया। कांग्रेसजनों ने आपसी संवाद के द्वारा तमाम मुद्दों का हल निकाला। लोकतंत्र की अपनी खूबियां हैं लेकिन जिसे काम करना है, उसका प्रशिक्षित होना बेहद जरूरी है। नेहरू ने कहा था कि अनडिजायरेबल लोग कई जगह पदों को हासिल करने के लिए जोर लगाते हैं और इससे संगठन का नुकसान होता है। कांग्रेस पर ही लोकतंत्र को सफल बनाने की जिम्मेदारी है। इसलिए जरूरी है कि हम वैचारिक तौर पर मजबूत हों। वर्ष 1957 में युवा दिवस पर भी अपने संदेश में पंडित जवाहरलाल नेहरू ने कहा था कि राजनीति का काम केवल भाषण देना या प्रस्ताव पास करना ही नहीं है, इसका काम राष्ट्र निर्माण के महान काम को पूरा करना है। सेवा के महान काम के लिए युवकों को तैयार करने के लिए ये आह्वान है। दृढ़ता के साथ हम सब लोगों को काम करना चाहिए।  खड़गे ने कहा कि उस वक्त भी लीडरशिप मिशन के जैसा काम करने के लिए नेहरू  ने आह्वान किया था और उस ढंग से काम करवाया था। इसलिए कांग्रेस पार्टी 134 साल से जिंदा है। इस मिशन की सफलता के लिए उनका पूरा सहयोग रहेगा। कार्यशाला में एआईसीसी महासचिव (संगठन)  केसी वेणुगोपाल, एआईसीसी कोषाध्यक्ष पवन बंसल, एआईसीसी एससी, एसटी,ओबीसी और अल्पसंख्यक विभाग के समन्वयक के. राजू, एआईसीसी सचिव (संगठन) वामशी रेड्डी, एससी विभाग के अध्यक्ष राजेश लिलोठिया, अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद इमरान प्रतापगढ़ी, एसटी विभाग के अध्यक्ष शिवाजीराव मोघे, ओबीसी विभाग के अध्यक्ष  कैप्टन अजय यादव, कांग्रेस सेवा दल के मुख्य संगठक लालजी देसाई, अखिल भारतीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुश्री नेट्टा डिसूजा और आरजीपीआरएस उपाध्यक्ष हर्षवर्धन ने भी भाग लिया।

Related posts

गुरुग्राम ब्रेकिंग: देश के संविधान को बचाने की लड़ाई में करें सहयोग : संजय सिंह

Ajit Sinha

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी चुनाव जीत के बाद, ख़ुशी।

Ajit Sinha

जेजेपी ने जारी किया 111 वायदों वाला घोषणा पत्र, सभी 10 लोकसभा सीटों के लिए बताई विशेष योजनाएं

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//reemebal.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x