Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में फहराया166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के कोने-कोने में 500 विशाल राष्ट्रीय ध्वज लगाने का अपना वादा आज पूरा कर दिया। सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा फहराते हुए कहा कि हमने दिल्ली में इतने तिरंगे लगाने का प्रण लिया था कि अगर कोई दिल्ली वासी अपने घर से बाहर निकले तो उसको कहीं न कहीं एक तिरंगा जरूर दिखाई देना चाहिए। आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर हमें यह प्रण लेना है कि हम भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाकर रहेंगे। हमें देश में ऐसी व्यवस्था बनानी पड़ेगी कि हर बच्चे को अच्छी शिक्षा, हर व्यक्ति को अच्छा इलाज और रोजगार का मौलिक अधिकार होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमारा देश परिवारवाद और दोस्तवाद की वजह से पीछे रह गया। इसे खत्म करना होगा और अब देश के अंदर भारतवाद होगा। देश में एक पार्टी ऐसी है, जिसने सरकारी पैसा केवल एक परिवार के लिए लुटा दिया और दूसरी पार्टी ऐसी है, जिसने सरकारी पैसा अपने दोस्तों के लिए लुटा दिया। अब सरकारी पैसा रोजगार, बच्चों को मुफ्त शिक्षा और सबको चिकित्सा दिलाने पर खर्च किया जाएगा। मुफ्त शिक्षा व इलाज की सुविधा देना फ्री-बी नहीं है, अपने दोस्तों के 10 लाख करोड़ रुपए के कर्जे माफ करना फ्री-बी है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर पूरी दिल्ली में जगह-जगह 500 विशाल तिरंगे लगाने का वादा किया था। आज यह वादा पूरा हो गया। मुख्यमंत्री श्री  अरविंद केजरीवाल ने आज पटपड़गंज में स्थापित 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा फहराकर इस वादे को पूरा किया। इस दौरान सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आजादी की 75वीं सालगिरह सभी देशवासियों को मुबारक हो। अभी हम जब अपने राष्ट्रीय ध्वज को उपर चढ़ते हुए देख रहे थे, तो उस वक्त कितना शानदार दृश्य था। भगवान करें, हमारा यह तिरंगा हमेशा के लिए ऐसे ही बुलंदियों पर रहे और ऐसे ही लहराता रहे और इस तिरंगे की आन-बान-शान के लिए अगर हमें अपनी जान भी न्यौछावर करनी पड़े, तो छोटी बात होगी। एक साल पहले, हम लोगों ने प्रण लिया था कि दिल्ली के अंदर इतने तिरंगे लगाएंगे कि अगर कोई दिल्ली वासी अपने घर से बाहर निकल कर सब्जी, दूध लेने या दफ्तर के लिए निकलेगा, तो उसको कहीं न कहीं एक तिरंगा जरूर दिखाई देना चाहिए। हमारा मकसद था कि लोग जब अपने घर से निकले, तो दिन में तीन या चार बार उनको तिरंगे दर्शन हो जाएं। जब हम तिरंगा देखते हैं, तो दिल के अंदर धक-धक होती है। देशभक्ति जागती है। देश के लिए कुछ कर गुजरने की इच्छा जागती है। आदमी कुछ गलत काम कर भी रहा हो, तो एक बार हिचक जाता है कि देश के लिए मेरे को यह नहीं करना चाहिए। इस भावना से हमने यह शुरू किया। मुझे बड़ी खुशी है कि आज पूरी दिल्ली में 500 तिरंगे लग चुके हैं। 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर हमें एक प्रण और लेना है कि हम अपने भारत देश को दुनिया का नंबर वन देश बनाकर रहेंगे। 75 साल में कई ऐसे देश हैं, जो हमारे बाद आजाद हुए, लेकिन हमसे आगे निकल गए। कई ऐसे देश हैं, जो द्वितीय विश्व युद्ध में ध्वस्त हो गए। द्वितीय विश्व युद्ध में जापान, जर्मनी खत्म हो गए थे, लेकिन हमसे आगे निकल गए। हमसे आगे क्यों निकल गए, हम में क्या कमी है। हमारे पास सबकुछ है। दुनिया के सबसे अधिक बुद्धिमान लोग भारत में रहते हैं। सबसे मेहनती लोग भारत में रहते हैं, फिर भी हम पीछे क्यों रह गए? इसीलिए आजादी की इस 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हम सब लोगों को प्रण लेना है कि हमें जो भी करना पड़े, हम अपने देश को आगे बढ़ाएंगे। हमारा देश कैसे आगे बढ़ेगा? हमारे देश के अंदर आज इतने सारे बच्चे हैं, उनको अच्छी शिक्षा नहीं मिलती है, क्योंकि वो गरीबों के बच्चे हैं। पूरे देश के अंदर कई ऐसे सरकारी स्कूल हैं, जिनका बेड़ा गर्क है। कई ऐसे सरकारी स्कूल हैं, जो बिल्कुल खंडहर बने पड़े हैं। दिल्ली में भी पहले यही हाल था। हमने दिल्ली में सभी सरकारी स्कूल अच्छे और शानदार कर दिए। अगर दिल्ली में सरकारी स्कूल अच्छे और शानदार हो सकते हैं, तो पूरे देश में भी हो सकता है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज हमें प्रण लेना है कि देश के अंदर हमें ऐसी व्यवस्था कायम करनी पड़ेगी कि इस देश के अंदर पैसा होने वाले एक-एक बच्चे को अच्छी और शानदार शिक्षा मिलनी चाहिए। चाहे वो अमीर का बच्चा हो या फिर गरीब का बच्चा हो। आज 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हमारे देश के एक-एक इंसान को, एक-एक भारतवासी को अच्छे से अच्छा इलाज मिलना चाहिए। हमने दिल्ली के सरकारी अस्पतालों को तो बहुत अच्छे कर दिए, बाकी देश भर में जो सरकारी अस्पताल हैं, उनमें इलाज के नाम पर कुछ नहीं मिलता है। हमें ऐसी व्यवस्था कायम करनी है कि देश के हर गरीब-अमीर आदमी को अच्छे से अच्छा इलाज मिलना चाहिए। आज इतने लोग बेरोजगार घूम रहे हैं और बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। जब तक हम अपने हर युवा की उर्जा का इस्तेमाल नहीं करेंगे, हर युवा को अच्छा रोजगार नहीं दिला पाएंगे, तब तक देश आगे नहीं बढ़ सकता। आज आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हमें यह सारे प्रण लेने हैं। सीएम  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मेरे को दुख होता है कि कुछ लोग आजकल कह रहे हैं कि गरीबों को जो फ्री शिक्षा मिल रही है, यह बंद होनी चाहिए। मैं सोच रहा था कि एक रिक्शावाला, मजदूर, ड्राइवर या एक गरीब आदमी इतना भी नहीं कमा पाता है कि वो दो वक्त की भरपेट रोटी खा ले। वो कह रहे है कि गरीबों को फ्री-बी दी जा रही है। मेरे को तो समझ नहीं आता कि यह फ्री-बी होती क्या है? वो कह रहे हैं कि गरीबों को फ्री शिक्षा नहीं मिलनी चाहिए। या तो सरकारी स्कूलों को बंद कर दिया जाए या फिर सरकारी स्कूलों में फीस लगा दी जाए। अगर सरकारी स्कूलों में फीस लगा दिए जाएंगे, तो गरीब बच्चे कहां जाएंगे। वैसे ही हमारे देश के अंदर गरीबों के बच्चो को ठीक से शिक्षा नहीं मिलती है। अगर सरकारी स्कूल भी बंद कर दिए, तो हमारे देश में 70 से 80 फीसद बच्चे अनपढ़ रह जाएंगे। यह बिल्कुल नहीं होना चाहिए। आज आजादी के 75 साल के अवसर पर हमें कसम खानी है कि हमारे देश के हर बच्चे को अच्छी शिक्षा मिलनी चाहिए। चाहे गरीब का बच्चा हो या अमीर का हो। दुनिया में 39 अमीर देश ऐसे हैं, जहां सभी बच्चों को फ्री में अच्छी शिक्षा मिलती है। वो अमीर देश कैसे बने? वो इसीलिए अमीर देश बने, क्योंकि उन्होंने अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दी। वहीं, हम कह रहे हैं कि अपने बच्चों की शिक्षा बंद कर देंगे। सरकारी स्कूल बंद कर देंगे। बच्चों को पढ़ाने के पैसे लेंगे। यह क्या बात हुई। अब यह बात चल रही है कि सारे सरकारी अस्पताल बंद कर देने चाहिए। गरीबों से दवाइयों और इलाज के पैसे लेने चाहिए। एक गरीब आदमी के घर में किसी को गंभीर बीमारी हो गई, तो वो इलाज ही नहीं करा पाएगा। यह नहीं होना चाहिए। हमारे देश में पैदा होने वाले हर भारतवासी के बच्चे को अच्छी शिक्षा का मौलिक अधिकार होना चाहिए। उसके घर के लोगों को इलाज का मौलिक अधिकार होना चाहिए। रोजगार का मौलिक अधिकार होना चाहिए। इसको फ्री-बी या फ्री की रेवड़ियां नहीं कहना चाहिए। हम सब लोगों को मिलकर आज यह प्रण लेना पड़ेगा कि 75 साल बीत गए, अब और नहीं बर्दाश्त करेंगे, अब तो भारत का नंबर वन देश बनाकर रहेंगे। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमारे देश को आजाद हुए 75 साल हो गए। इस वक्त हमें यह भी सोचने की जरूरत है कि पिछले 75 साल में बहुत सारे देश हमसे आगे निकल गए, हमारा देश पीछे क्यों रह गया। हमारा देश परिवारवाद और दोस्तवाद की वजह से पीछे रह गया। देश में एक पार्टी ऐसी है, जिसने केवल और केवल एक परिवार के लिए काम किया। सारा सरकारी पैसा केवल एक परिवार के लिए लुटा दिया। दूसरी पार्टी ऐसी है, जिसने केवल अपने दोस्तों के लिए काम किया। सारा पैसा अपने दोस्तों के लिए लुटा दिया। आज आजादी के 75 साल पूरे होने के अवसर पर हमें प्रण लेना पड़ेगा कि अब इस देश से परिवारवाद खत्म करना है। दोस्तवाद खत्म करना है। अब सरकारी पैसा परिवार और दोस्तों के उपर खर्च नहीं किया जाएगा, अब सरकारी पैसा गरीब जनता के बच्चों की शिक्षा पर खर्च किया जाएगा। अब सरकारी पैसा गरीबों के बच्चों को रोजगार दिलाने पर किया जाएगा। अब सरकारी पैसा लोगों को मुफ्त चिकित्सा दिलाने पर खर्च किया जाएगा। अब इस देश के अंदर भारतवाद होगा, परिवार और दोस्तवाद को खत्म किया जाएगा।सीएम  अरविंद केजरीवाल ने फ्री-बी के सवाल पर कहा कि मुफ्त शिक्षा देना फ्री-बी नहीं है। लोगों का मुफ्त इलाज करना फ्री-बी नहीं है। यह किसी भी जिम्मेदार सरकार का काम है। अपने दोस्तों के 10 लाख करोड़ रुपए के कर्जे माफ करना, यह फ्री-बी है। अपने दोस्तों के टैक्स माफ करना, यह फ्री-बी है। हम देख रहे हैं कि पूरे देश के अंदर सबके उपर इनकम टैक्स की रेड हो रही है। सब पर ईडी और सीबीआई की रेड हो रही है, लेकिन इनके दोस्तों पर रेड नहीं हो रही है। पहले एक परिवार के लिए देश चल रहा था, अब कुछ दोस्तों के लिए देश चल रहा है। बच्चों को पढ़ा रहे हैं, तो ये कह रहे हैं कि फ्री-बी हो रहा है। बच्चों को शिक्षा देना किसी भी सरकार का धर्म है और इसको फ्री-बी नहीं कहा जा सकता है।

Related posts

पानी की उपलब्धता बढ़ाने के लिए नए एसटीपी का काम तेजी से पूरा करें- अरविंद केजरीवाल

Ajit Sinha

बाढ़ और बरसात से दिल्ली में बढ़ा डेंगू-मलेरिया का खतरा, रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने कसी कमर

Ajit Sinha

लूट हुई 50 लाख रुपए की, शिकायत दर्ज कराई 5 लाख रुपए चोरी होने की, ये खुलासा 6 लुटेरें के पकड़े जाने के बाद हुआ।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//kirteexe.tv/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x