Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शिमला में विधान सभा चौक से होटल पीटरहॉफ तक किया रोड शो, शानदार स्वागत।

अजीत सिन्हा / नई दिल्ली
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज शनिवार को शिमला में विधानसभा चौक से होटल पीटरहॉफ तक एक भव्य रोड शो किया और इसके पश्चात् उन्होंने पीटरहॉफ में आयोजित विशाल जन-सभा को संबोधित किया। नड्डा विधानसभा से पीटरहॉफ तक ओपन जीप में गए। रोड शो के कार्यक्रम में पारंपरिक वेशभूषा में कलाकारों ने अपनी कला का शानदार जौहर दिखाया। शिमला पहुँचने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह एवं हिमाचल प्रदेश के भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना सहित कई वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारियों ने उनका स्वागत किया। लगभग 15 हजार से अधिक पार्टी कार्यकर्ताओं ने ढोल नगाड़ों से राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत किया। कार्यकर्ताओं में नड्डा के आगमन से जोश देखते ही बनता था। नड्डा अपने स्वागत से गद्गद और अभिभूत थे। ज्ञात हो कि भाजपा अध्यक्ष आज, शनिवार से 12 अप्रैल, मंगलवार तक देवभूमि हिमाचल प्रदेश के चार दिनों के विस्तृत प्रवास पर हैं।

अपने भव्य स्वागत से अभिभूत नड्डा ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह मेरा स्वागत नहीं है बल्कि यह भारतीय जनता पार्टी का स्वागत है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा हिमाचल प्रदेश सहित समग्र राष्ट्र के विकास एवं गरीब कल्याण कार्यों का स्वागत है। अभी हाल ही में पांच राज्यों में विधान सभा चुनाव हुए जिसमें से चार राज्यों में प्रचंड जनादेश के साथ भाजपा की पुनः सरकार बनी है। मैं इस ऐतिहासिक जनादेश के लिए चारों राज्यों की जनता को धन्यवाद देता हूँ। आजादी के 70 सालों तक कांग्रेस एवं उसके सहयोगियों की सरकार में गाँव, गरीब, किसान दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित और महिलाओं के नाम पर केवल और केवल राजनीति होती थी लेकिन वास्तव में इनका सशक्ति करण किसी ने किया तो वे हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं। प्रधानमंत्री ने समाज में विकास के अंतिम पायदान पर खड़े लोगों को समाज की मुख्यधारा में लाने का महती कार्य किया है। प्रधानमंत्री द्वारा देश के लगभग 60 करोड़ लोगों के जीवन-स्तर में व्यापक बदलाव लाया गया। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा की जनता ने इन कार्यों पर विधान सभा चुनाव में मुहर लगाने का काम किया है। हाल ही में संपन्न हुए विधान सभा चुनावों की चर्चा को और आगे बढ़ाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इस चुनाव में बहुत सी चीजें बदली है। उत्तर प्रदेश में पहली बार किसी की सरकार 38 साल बाद लागातार दोबारा बनी है।

उत्तर प्रदेश में पहली बार कोई मुख्यमंत्री पांच साल का कार्यकाल सफलता पूर्वक पूरा कर दोबारा पूर्ण बहुमत से जनता के आशीर्वाद से मुख्यमंत्री पद पर आसीन हुआ है। इस बार यूपी में 23 जिलों में भाजपा ने क्लीन स्वीप किया है। यह भी पहली बार हुआ कि जिस पार्टी ने यूपी में लगभग 40 साल तक शासन किया और देश में आजादी के लगभग 55 वर्ष तक जिनकी सरकार रही, वह यूपी में 377 सीटों पर जमानत जब्त करा बैठी जबकि उन्होंने यूपी की 399 सीटों पर चुनाव लड़ा था। इतना ही नहीं, उत्तराखंड में पहली बार (जब से उत्तराखंड राज्य बना है, तबसे) किसी पार्टी की सरकार लगातार दोबारा दो-तिहाई बहुमत से चुन कर सत्ता में आई है। भाजपा को इस बार 70 में से 47 सीटों पर विजय प्राप्त हुई। चौंकाने वाली बात तो यह है कि ‘आम आदमी पार्टी की 70 में से 68 सीटों पर जमानत जब्त हो गई। मणिपुर को कांग्रेस की सरकार में बंद, ब्लॉकेड और उग्रवाद के लिए जाना जाता था लेकिन भाजपा की सरकार में मणिपुर में भी शांति, समृद्धि और विकास के एक नए युग की सुबह हुई। इसका परिणाम यह हुआ कि मणिपुर में दोबारा भाजपा की सरकार आई और भाजपा को इस बार पूर्ण बहुमत प्राप्त हुआ। गोवा में भाजपा ने लगातार तीसरी बार सरकार सरकार बनाई है और वह भी पिछली बार की तुलना में अधिक सीटों के साथ। उन्होंने कहा कि अब हिमाचल प्रदेश और गुजरात की बारी है। हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार और राज्य सरकार के कार्यों की उपलब्धि को लेकर गाँव-गाँव, घर-घर तक जाना है।

नड्डा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने विगत पांच वर्षों में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किया है। हिमाचल प्रदेश ने कृषि उत्पादों का वैल्यू एडिशन हुआ है। प्रदेश में 9 फूड पार्क स्थापित हुए हैं। बीते कुछ वर्षों में हिमाचल प्रदेश देश के एक फार्मास्युटिकल हब के रूप में प्रतिष्ठित हुआ है। हिमाचल प्रदेश से 12 बड़ी दवा कंपनियों के प्रोडक्ट आज दुनिया भर में जा रहे हैं। कांग्रेस पर जोरदार हमला करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जब-जब कांग्रेस की सरकार आई, उसने हिमाचल प्रदेश का हक छीनने का पाप किया जबकि जब-जब भाजपा की सरकार आई, हिमाचल प्रदेश को उसका हक और सम्मान दोनों मिला है। कांग्रेस की सरकार ने तो हिमाचल प्रदेश का विशेष राज्य का दर्जा तक हटा दिया था। श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार ने हिमाचल प्रदेश को औद्योगिक पैकेज दिया था पर कांग्रेस सरकार के रवैये के कारण हिमाचल प्रदेश विकास में पिछड़ता चला गया है। मनमोहन सरकार में तो केंद्र सरकार की योजनाओं में भी हिमाचल प्रदेश को 40% तक का अंशदान देना पड़ता था। इतना ही नहीं,मनमोहन सरकार तो 50% अंशदान की सिफारिश करती थी। वह भी तब जब हिमाचल प्रदेश में और केंद्र में, दोनों जगह कांग्रेस पार्टी की ही सरकार थी। कांग्रेस की सरकार में वित्त आयोग ने भी हिमाचल प्रदेश के साथ दोहरा रवैया अपनाया था। 2014 में जब नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने तो उन्होंने बिना मांगे ही हिमाचल प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दे दिया। अब केंद्रीय योजनाओं के लिए फंड हेतु केंद्र 90% का योगदान करता है जबकि हिमाचल प्रदेश को केवल 10% अंशदान ही करना पड़ता है। इससे हिमाचल प्रदेश पर वित्तीय बोझ भी कम हुआ है जिसका सीधा लाभ राज्य के गरीबों और किसानों को मिल रहा है। विशेष राज्य के दर्जे में पंजाब और हरियाणा के नाम पर राजनीति करने वाली कांग्रेस हिमाचल प्रदेश के साथ-साथ हरियाणा और अब पंजाब से भी साफ हो गई। नड्डा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोल डैम की परिकल्पना 60 की दशक में की गई थी लेकिन इस पर कांग्रेस की सरकार ने कोई कार्य नहीं किया। श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार आने पर इस डैम का शिलान्यास किया गया। कांग्रेस की सरकार आने के बाद फिर से यह योजना ठंडे बस्ते में चली गई।

Related posts

प्रियंका बोलीं- पीएम मोदी ने अग्निवीर योजना लाकर युवाओं की आशाएं तोड़ीं, कांग्रेस सरकार बनते ही रद्द होगी

Ajit Sinha

भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक: आम आदमी पार्टी को यू—ट्यूबर पार्टी करार दिया जो यह पार्टी केवल बयानबाजी तक सीमित है।

Ajit Sinha

सोशल मीडिया पर हाथी के बच्चे की मस्ती करते हुए का वायरल वीडियो को खूब देखा जा रहा हैं-देखेँ

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//loazuptaice.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x