Athrav – Online News Portal
गुडगाँव राजनीतिक

भाजपा नेता कुलभूषण ने अपनी सरकार की कथनी और करनी पर उठाए सवाल और सीएम को लिख डाला पत्र-जरूर पढ़े

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: भाजपा नेता कुलभूषण भारद्वाज ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखकर सरकार की कार्यशैली और कथनी पर सवाल खड़े किए हैं। पत्र में उन्होंने कहा कि कटनी के विपरीत कार्यों से संगठन में सरकार की मानहानि हो रही है ऐसे में मुख्यमंत्री को संज्ञान लेना चाहिए। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में सीधे मुख्यमंत्री को ही संबोधित करते हुए कुलभूषण भारद्वाज ने कहा कि मैं विद्यार्थी जीवन से भारतीय जनता पार्टी का समर्पित कार्यकर्ता रहा हूं और नियमित संगठन के विचारों को आत्मसात करता रहा हूं। मैने अभी तक के अपने जीवन में पार्टी की नीतियों की पूजा की है और लोगों को संगठन के साथ जोड़कर पार्टी को मजबूत बननाने का कार्य किया है। वर्ष 1996 से अनव्रत भाजपा को प्रदेश में स्थापित करने का संकल्प लेकर कार्य किया है। अपने पिता स्वर्गीय अवधप्रकाश भारद्वाज से ही संगठन और संघ की सेवा का संकल्प विरासत में मिला है।

भाजपा ने अपनी नीतियों और सिद्धांतों के कारण ही लोगों के दिलों पर राज किया है। पार्टी की इन्हीं नीतियों तथा कर्मठ कार्यकर्ताओं के त्याग, बलिदान व समर्पण के कारण ही नरेंद्र मोदी के प्रयासों से वर्ष 2014 में प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हुआ तथा आपके कुशल नेतृत्व में हमारी सरकार बनी। आपने संगठन की विचारधारा पर चलकर प्रदेश में ऐसे जनहित के अनगिनत कार्य किए जिनसे प्रदेश में व्याप्त अराजकता, भाई भतीजावाद, भ्रष्टाचार और पर्ची-खर्ची की परंपरा समाप्त हुई तथा जनसामान्य का शासन के प्रति विश्वास बहाल हुआ। जिस दौर में लोग नोटों के बैग भरकर नौकरियां हासिल करने के लिए नेताओं के चक्कर लगाते थे उस दौर में आपने काबिल होनहार नौजवानों को उनका हक बिना किसी सिफारिश के उनकी योग्यता के अनुसार दिया। हरियाणा एक-हरियाणवी एक के नारे ने प्रदेशभर में भाईचारे की बागडोर को मजबूत किया तथा लोगों के मन से भेदभाव दूर किए। आपके नेतृत्व संभालने के बाद लोगों को आशा की किरण दिखाई देने लगी कि अब प्रदेश से भय, भूख और भ्रष्टाचार समाप्त हो जाएगा, इसके लिए आपने अथक प्रयास किए और काफी हद तक इन हालातों पर काबू भी पाया। यह हमारे जैसे लाखों कार्यकर्ताओं के लिए गौरव की बात है कि प्रदेश का नेतृत्व आप जैसे कुशल हाथों में है। मुख्यमंत्री को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मान्यवर, बेहद रोष और खेद के साथ आपके संज्ञान में यह विषय डालना चाहता हूं कि पिछले कुछ समय से सरकार के कई ऐसे निर्णय आए हैं जिन्हें आमजन के साथ पार्टी की नीतियों और रीतियों से जुड़े कार्यकर्ता स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। या तो निर्णय आपको अंधेरे में रखकर लिए गए लगते हैं या आपके आसपास मौजूद चाटुकारों ने अपने स्वार्थ की खातिर लोगों के मन को आहत करने वाले फैसले करवा लिए। मुझे पूर्ण विश्वास है कि प्रदेश का मुखिया होने के नाते आपको भी इन फैसलों से दुख अवश्य हुआ होगा। इनमें से कुछ ऐसे फैसलों को मैं आपके संज्ञान में क्रमानुसार विनम्रता पूर्वक लाना चाहता हूं। कुलभूषण भारद्वाज ने कहा कि कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा से कौन वाफिक नहीं है। सेक्टर- 12 ए में करीब 300 करोड़ रुपये कीमत वाली हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा अधिग्रहित जमीन को साजिशन अधिग्रहण मुक्त करके सीएलयू प्रदान करने का कार्य किया गया। यह फैसला गलत तरीके से संभवतः आपको अंधेरे में रखकर करवा लिया गया। आपके द्वारा बैठाई गई जांचों में यह प्रमाणित भी हो चुका है कि यह खेल भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबियों ने उच्च स्तर के अधिकािरयों को भारी भरकम चढ़ावा देकर खेला है। आपके संज्ञान में न्याय की उम्मीद के साथ वर्ष 2018 में यह विषय लाया गया लेकिन चार साल बीतने के बाद भी अभी तक इस घोटाले में कोई निर्णायक फैसला आपने नहीं लिया। इससे गुरुग्राम की जनता निराश और हताश है। क्योंकि लोगों को आस थी कि उन्हें भाजपा का कुशल नेतृत्व भ्रष्टाचार और भू माफिया से मुक्ति दिलवा सकेगा। आपसे करबद्ध प्रार्थना है कि इस जमीन की मलकियत पुनः हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को सौंप, दोषी अधिकारियों और बिल्डर को जेल भेजा जाए। भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष एवं लीगल सेल हरियाणा के महासचिव कुलभूषण ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान उपजे हालातों से आप भली भांति वाफिक ही हैं। इस दुख की घड़ी में कई अफसरों ने अपने निजी स्वार्थ के लिए न सिर्फ प्रदेश सरकार की छवि का धूमिल किया अपुति आमजन का आर्थिक और मानसिक शोषण करने का नंगा नाच किया। अफसरों ने सीएसआर का करोड़ों रुपयों का फंड अस्थाई ढ़ांचागत व्यवस्था खड़ी करने के नाम पर पानी में बहा दिया तथा जो पैसा लोगों के हितार्थ प्रयोग किया जा सकता था उससे अपना घर भर लिया। सेक्टर- 38 के ताउ दवीलाल स्टेडियम में जिस फील्ड हाॅस्पिटल का उद्घाटन आपको अंधेरे में रखकर करवा लिया उसकी दुर्गति की दास्तां देश, विदेशों की मीड़िया ने बयां की। ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होना सरकार की कड़े फैसले लेने वाली छवि को बट्टा लगाता है। कुलभूषण भारद्वाज ने कहा कि इन दिनों लोगों में आम चर्चा है कि प्रदेश का कामकाज भ्रष्ट अफसरों के हाथ में है। बिल्डर्स की शह पर किए गए मानेसर भूमि घोटाले ने पूरे देश का ध्यान कांग्रेस के शासनकाल में हरियाणा में किसानों की उपजाउ भूमि हड़पने की नीति की ओर खींचा था। आपके नेतृत्व में बनी भाजपा की सरकार ने इस जमीन घोटाले का पर्दाफाश करने के लिए धींगड़ा आयोग का गठन किया साथ ही इस मामले की जांच सीबीआई से करवाई। इसमें यह साफ हो गया कि करीब 14 हजार करोड़ रुपये का घोटाला किसानों के साथ किया गया। इस मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा को प्रमुख आरोपी तथा आईएएस अधिकारी टीसी गुप्ता को दूसरे नंबर पर आरोपी बनाया गया था। लेकिन एक आश्चार्यजनक फैसले ने पांच गांवों के हजारों किसान ही नहीं बल्कि शासन से न्याय की आस लगाने वाले देशभर के गरीब लोगों की उम्मीदों को रौंद दिया। यह चैकाने वाली बात है कि सीबीआई के पहले आरोपी ने दूसरे नंबर के आरोपी की सिफारिश आप सरीखे ईमानदार व कर्मठ व्यक्तित्व के समक्ष सेवा का अधिकार आयोग का चेयरमैन बनाने के लिए की और आपने भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे इन दोनों लोगों की सिफारिश स्वीकार कर ली। आपके इस फैसले से पूरी पार्टी और हम जैसे लाखों कार्यकर्ता अवसाद में हैं। क्योंकि भाजपा की भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टोलरेंस की नीति के अनुरूप जिन आरोपियों को जेल की सलाखों के पीछे होने चाहिए था उन्हें आपने अपने करीब ला बैठाया। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के खोरी गांव में अरावली पहाड़ी पर बने 8 हजार गरीबों के आशियाने इन दिनों सुप्रीम कोर्ट के फैसले और पूर्व की सरकारों की गलत नीतियों के कारण संकट में हैं। लेकिन चंद किलोमीटर दूर गुरुग्राम में अरावली पहाड़ियों पर हजारों अमीरजादे अय्याशी के संसाधनों के तौर पर आलीशान फार्म हाउस,गेस्ट हाउस, रेस्त्रां, नाइट क्लब आदि बनाकर न सिर्फ दिल्ली और समूचे एनसीआर के पर्यावरण का बेड़ा गर्क कर रहे हैं बल्कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों को भी ठेंगा दिखा रहे हैं। हैरत इस बात की है कि ये फार्म हाउस सरेआम बनाए जा रहे हैं और इन्हें तोड़ने की बात तो दूर इनका निर्माण कार्य रूकवाने का साहस भी सरकार के पास दिखाई नहीं देता। जिन अफसरों की जिम्मेदारी यहां निगरानी की है जब वे कार्रवाई करने के नाम दफ्तर से निकलते  हैं तो सिर्फ अपनी जेब भरकर वापस लौट आते हैं। पत्र में मुख्यमंत्री को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी, अब प्रदेश में भाजपा का चेहरा आप हैं। अर्थात आपके नेतृत्व वाली सरकार का प्रत्येक फैसला भविष्य का आधार बनेगा। प्रत्येक गलत फैसला हमें पुनः सत्ता से दूर ले जाएगा और हरेक सही फैसला लोगों के दिलों में भाजपा की जगह बनाएगा, चाहे वह फैसला थोड़ा सख्त ही क्यों न हो। अब समय आ गया है कि आप अर्जुन की भांति अपना गांडीव उठाओ को भ्रष्टाचारियों का दमन करने का निश्चय कर प्रदेश में शांति, न्याय, ईमानदारी और भाईचारे की परिपाटी को आगे बढ़ाओ। मैने कई दफा इन विषयों के संदर्भ में आपको निजी तौर पर अवगत करवाने के लिए समय मांगा लेकिन न आपने और न ही आपके कार्यालय की ओर से निजी मुलाकात का अवसर प्रदान किया। इस पत्र में माध्यम से मैं जनसामान्य की पीड़ा आप तक पहुंचाने का इस उम्मीद में प्रयास कर रहा हूं कि आप लोगों की व्यथा समझेंगे और संज्ञान लेकर निदान करेंगे।

Related posts

गुरुग्राम: हथियार के बल मंदिर में लूट की वारदात को अंजाम देने के तीन आरोपितों को पुलिस ने किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

झुग्गी-झोपड़ी में डोर-टू-डोर प्रचार करने पहुंची प्रियंका गांधी ने महिलाओं की सुनी समस्या

Ajit Sinha

खून के बदले खून: पिता के हत्या का बदला, 10 वर्ष बाद दोस्तों के साथ मिलकर राहुल सोलंकी की हत्या करके लिया -अरेस्ट।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//wissoony.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x