Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

बच्चा पैदा नहीं हुआ, फरीदाबाद के भ्रष्ट अधिकारियों ने बना दिया MBBS का सर्टीफिकेट: पाराशर

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद: फरीदाबाद नगर निगम अधिकारियों को अगर पैसा मिले तो बच्चा पैदा होने से पहले ही उसे एमबीबीएस की डिग्री दे दें। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एल एन पाराशर का जिन्होंने कुछ माह पहले खुलासा किया था कि नगर निगम के अधिकारियों ने बच्चा पैदा होने से पहले जन्म प्रमाणपत्र बना दिया था। अब पाराशर ने खुलासा किया है कि नगर निगम के अधिकारियों ने जन्म प्रमाणपत्र ही नहीं बनाया बल्कि अजन्मे बच्चे को एमबीबीएस की डिग्री भी बना दिया।

पाराशर का कहना है कि हल में मैंने सैनिक कालोनी के पास 12th एवेन्यू के बारे में कंप्लीशन घोटाले का खुलासा किया था जिसमे नगर निगम अधिकारियों ने फ़्लैट बनने के पहले ही कंप्लीशन सर्टीफिकेट बना दी थी। अब निगम के कुछ अधिकारियों और फरीदाबाद के तहसीलदारों के कई और काले कारनामों के बारे में खुलासा हुआ है। पाराशर ने कहा कि मुझे आरटीआई के माध्यम से जानकारी मिली है कि 12th एवेन्यू के भू-माफियाओं ने कई और काले कारनामें भ्रष्ट अधिकारियों से मिलकर किए हैं। पाराशर ने बताया कि रजिस्ट्री नमबर 7723, 20 दिसंबर 2018 को हुई थी और ये खाली प्लाट 18 जुलाई 2018 को लिया गया था जिसकी रजिस्ट्री का नंबर 3467 है। इस पर बनी हुई बिल्डिंग का कंप्लीशन 29 दिसंबर 2012 का दिखाया गया है यानि लगभग एक साल पहले ये खाली प्लाट था और इसकी कंप्लीशन सर्टीफिकेट 7 साल पहले की दिखाई गई है।


पाराशर ने कहा कि नगर निगम अधिकारियों और तहसीलदारों से मिलकर माफियाओं ने एक बड़ी जालसाजी की है और ये जालसाजी बिना मिलीभगत हो ही नहीं सकती। पराशर ने कहा कि आशीष मनचंदा, वरुण मनचंदा और दीपक विरमानी जो तीनों वीपी स्पेसेज मालिक हैं और इन तीनों ने अधिकारियों से मिलकर फर्जी कॉम्पीशन, फर्जी रजिस्ट्री, और एक एक स्टाम्प से कई कई रजिस्ट्री का खेल खेलते हैं। पाराशर ने कहा कि इन पर एक नेता का हाँथ है और हो सकता है वो नेता भी इस फर्जीवाड़े में हिस्सा लेता हो। पाराशर ने कहा कि यहाँ सरेआम धोखाधड़ी की जा रही है। स्टाम्प चोरी, आयकर चोरी, जीएसटी चोरी जैसे कई चोरियां कर रहे हैं। पाराशर ने कहा कि इन भ्रष्टों के काले कारनामों के बारे में मैं डीजीपी हरियाणा और पुलिस कमिश्नर फरीदाबाद को पत्र लिख रहा हूँ और हरियाणा के सीएम को पत्र लिख मैं सीबीआई जांच की मांग कर रहा हूँ। वकील पाराशर ने कहा कि इन भ्रष्टो ने मिलकर सरकार को कई करोड़ का चूना लगाया है।

Related posts

फरीदाबाद: जितना संभव हो उतना अनुसंधान करें, क्योंकि खोज विकास का एकमात्र साधन है : श्याम किशोर सहाय

Ajit Sinha

फरीदाबाद: देशभर में ठगी की 335 वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह के पांच आरोपितों को पुलिस ने किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: बच्चों को पढाई के साथ देश की संस्कृति का भी दें ज्ञान : कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा

Ajit Sinha
//awhauchoa.net/4/2220576
error: Content is protected !!