Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

सभी थाना प्रबंधक ईमानदारी से काम करें, गरीब को न्याय दें, जो हम कर्म करते हैं उनका फल मिलता है कर्म ही अटल है – विकास अरोड़ा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद:नवनियुक्त पुलिस विकास कुमार अरोड़ा द्वारा आज अपने कार्यालय के कांफ्रेंस हॉल में सभी डीसीपी, एसीपी व थाना प्रबंधकों, चौकी प्रभारी, क्राइम ब्रांच प्रभारी व आर्थिक अपराध सेल प्रभारी के साथ प्रथम मीटिंग में अपराध की समीक्षा की गई। इस दौरान उन्होंने पहले सभी थाना प्रबंधक व अधिकारियों से उनके क्षेत्र में हो रहे अपराध की जानकारी प्राप्त की और अपराध पर अंकुश व अपराधियों की धर-पकड़ के निर्देश दिए और संगीन अपराधों की फाइल पर अधिकारी स्वयं नजर रखेंगे। अपराध नियंत्रण की समीक्षा करते हुए उन्होंने डीसीपी व एसीपी को भी अपने स्तर पर कार्यालय में अपराध बैठक आयोजित करने का निर्देश दिया। फरीदाबाद पुलिस अब आपराधिक इतिहास वाले अपराधियों के बारे में संबंधित राज्य व जिले के पुलिस अधिकारी से जानकारी साझा करते हुए उसकी कुंडली खंगालेगी। महिलाओं की सुरक्षा रहेगी प्राथमिकता । महिलाओं से छेड़छाड़ व अभद्र व्यवहार रोकने के लिए टीम गठित कर उसे सहयोगी पुलिस बल के साथ चिन्हित व महिला सुरक्षा को लेकर संवेदनशील स्थानों पर तैनात किया जाएगा।

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि 15 दिनों के अंदर लंबित शिकायतों का प्रभावी निष्पादन करने का निर्देश देते हुए व्यक्तिगत रूप में थानेदारों के साथ अपराध नियंत्रण की दोबारा समीक्षा की जाने की बात कही। न्यायोचित पुलिसिंग पर उन्होंने थानेदारों से कहा कि किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त होने पर न्याय के सभी पक्षों पर विचार करते हुए आगे उनके खिलाफ सख्त प्रभावी कदम उठायें। अवैध हथियार, प्रतिबंधित नशा सामग्री और वाहन चोरी के मामले में नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए पुलिस अब अपराध श्रृंखला के अंतिम स्रोत तक पहुँचकर कार्रवाई करेगी। पुलिस कमिश्नर ने सभी थाना के मालखाना प्रदर्शन की सूची अध्ययन करने के साथ थाना द्वारा जब्त अवैध शराब को विनष्ट करने का निर्देश दिया। डायल 112 के अंतर्गत उपलब्ध ईआरवी वाहनों को संसाधन के रूप में उपयोग कर अपराध पर अंकुश लगाने का निर्देश दिया। जिले के सभी थाना क्षेत्रों में जातीय व धार्मिक विषय पर उपजे विवाद को समाप्त करने की त्वरित पहल करते हुए अब फरीदाबाद पुलिस की ओर से शुरुआत में ही विवाद/शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी। बात-बात पर सड़क जाम कर हंगामा करने वाले उपद्रवियों के विरूद्ध तुरंत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। सड़क निर्माण में कमी के कारण होने वाली दुर्घटनाओं में अब संबंधित विभाग के अधिकारियों व ठेकेदार को भी दुर्घटना की पुलिस अनुसंधान में शामिल किया जाएगा और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही सभी अधिकारियों को ईमानदारी से कार्य करने का स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी पुलिसकर्मी के विरूद्ध शिकायत मिलने पर कार्रवाई होगी। विकास कुमार अरोड़ा ने अधिकारियों को आपसी तालमेल बनाकर कार्य करने तथा गरीब व वंचित वर्गों की व्यथा का सहानुभूतिपूर्वक समाधान करने की बात कहते हुए यह संदेश साझा किया कि अच्छे कार्यों से हमारी अंतःप्रेरणा समृद्ध होती है और इसके बेहतर परिणाम से सुरक्षा संपन्न होती है।

Related posts

ब्रेकिंग न्यूज़: दिल्ली विश्वविद्यालय की एक महिला प्रोफेसर से व्हाट्सएप वीडियो कॉल पर अश्लील हरकत के आरोपित अरेस्ट।

Ajit Sinha

ऑपरेशन आक्रमण- 7ः हरियाणा पुलिस का बदमाशों व अवैध गतिविधियों के खिलाफ बड़ा एक्शन- शत्रुजीत कपूर

Ajit Sinha

एक करोड़ कीमत का गांजा के साथ महिला समेत 7 अरेस्ट

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//vaikijie.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x