Athrav – Online News Portal
Uncategorized

अखिलेश बोले- हमें आता है ‘आंधी’ में साइकिल चलना

 संवाददाता, सीतापुर :  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य में भाजपा की ‘आंधी’ चलने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दावे पर पलटवार करते हुए आज कहा कि समाजवादियों को आंधी को चीरकर साइकिल चलाने का हुनर बखूबी आता है।

अखिलेश ने सीतापुर और लखीमपुर में आयोजित एक चुनावी रैलियों में कहा कि प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की आंधी चल रही है, तो उन्हें पंजाब में भी कुछ हवा नजर आयी होगी, लेकिन हम समाजवादी लोग आंधी तूफान को हराकर सरकार बनाना जानते हैं। हम जानते हैं कि हवा के रुख के खिलाफ भी किस तरह साइकिल चलायी जाती है।

मोदी ने कल अलीगढ़ में आयोजित चुनावी रैली में सपा अध्यक्ष मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा कांग्रेस से गठबंधन पर तंज करते हुए कहा था कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की आंधी चल रही है। उन्होंने कहा था कि यहां एक प्रकार से केसरिया सागर मेरे सामने उफान पर नजर आ रहा है। जब आंधी तेज होती है तो छोटी उमर का इंसान भी उस आंधी में टिक नहीं पाता, इसलिये वह कोई सहारा ढूंढता है। इस बार भाजपा की आंधी इतनी तेज है कि यहां के मुख्यमंत्री किसी को भी पकड़ लेते हैं। वह और लोगों को पकड़ने में लगे हैं, लेकिन यह आंधी उनको ना टिकने देगी, ना बचने देगी।

अखिलेश ने प्रधानमंत्री पर उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था के बारे में गलत आंकड़े पेश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भगवान जाने कि मोदी कहां से आंकड़े ले आते हैं। हमारा मानना है कि लोकतंत्र में प्रधानमंत्री का हर शब्द सही होगा लेकिन उन्हें जनता के सामने आंकड़े रखने में ईमानदारी दिखानी चाहिये। उन्होंने कहा कि अगर कानून-व्यवस्था ध्वस्त होने के मामले में अग्रणी तीन प्रदेशों पर नजर डालें तो उन सभी राज्यों में भाजपा की सरकार है। अखिलेश ने अपनी सरकार की तमाम उपलब्धियां गिनाईं और अपने चुनाव घोषणापत्र में किये गये एक-एक वादे को पूरा करने का वचन दिया।

 

 

Related posts

महेंद्रगढ़ :आधुनिक प्रगतिशील युग में हर व्यक्ति को कानूनी जानकारी होना बेहद जरूरी:जज पूनम कंवर

Ajit Sinha

जरूरी हो तो मैं सोनिया-मनमोहन से कर लूं बात : आडवाणी

Ajit Sinha

जाट आंदोलन : 12 वें दिन प्रदेश में शांति का माहौल रहा

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//gleeglis.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x