Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी दिल्ली

आईटीआई मयूर विहार में एडवांस्ड वेलिंड एंड रोबोटिक्स लैब की शुरुआत की


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: दिल्ली के युवाओं को स्किल्ड बनाने के क्रम में केजरीवाल सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए आईटीआई मयूर विहार में एडवांस्ड वेलिंड एंड रोबोटिक्स लैब की शुरुआत की है। गुरुवार को तकनीकी शिक्षा मंत्री आतिशी ने इसका उद्घाटन किया। वेल्डिंग व रोबोटिक्स वेल्डिंग के क्षेत्र में स्टेट ऑफ़ आर्ट सुविधाओं से लैस ये लैब अपने आप में सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस है, जहां अत्याधुनिक मशीनों के ज़रिए आईटीआई के छात्र इंडस्ट्री के माँगों के अनुरूप ज़रूरी स्किल ले सकेंगे। आज उद्घाटन के दौरान, तकनीकी शिक्षा मंत्री ने आईटीआई के एंबेसडर्स के साथ भी मुलाकात की। आईटीआई के ये छात्र एंबेसडर के रूप में स्कूलों में जाते है और बाक़ी छात्रों को तकनीकी शिक्षा को लेकर गाइडेंस देने का काम करते है। उद्घाटन के अवसर पर तकनीकी शिक्षा मंत्री आतिशी ने होमी जहांगीर भाभा आईटीआई, मयूर विहार के छात्रों और शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा, “इस अत्याधुनिक वेल्डिंग और रोबोटिक्स लैब में उपलब्ध कराई गई वर्ल्ड क्लास मशीनें और सुविधाएं यहां पढ़ने वाले छात्रों के लिए कई नए अवसर तैयार करेगी।

उन्होंने कहा कि, यहाँ इस लैब में छात्रों को जो सुविधाएं दी जा रही हैं, वैसी सुविधाएँ शायद प्राइवेट कॉलेजों-संस्थानों में भी देखने को नहीं मिलती है। इस लैब के ज़रिए हमारा उद्देश्य अपने आईटीआई के छात्रों को उन स्किल से लैस करना और जिसकी आज इंडस्ट्री में सबसे ज़्यादा माँग है। ऐसे में हमनें लैब में उन मशीनों को स्थापित किया है, जो सबसे हाईटेक हो। उन्होंने कहा कि हमारे संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों को सबसे शानदार शिक्षा और संसाधन देना हमेशा ही दिल्ली सरकार की प्राथमिकता रही है। यही कारण है कि, आधुनिक लैब के ज़रिए हम उन्हें वर्ल्ड के टॉप मशीनों पर काम करना सिखा रहे है ताकि वो तकनीकी की इस तेज़ी से बदलती दुनिया में पीछे न रहे। उन्होंने आगे साझा किया कि, मैं आज आईटीआई में कई उन छात्रों से मिली, जो दिल्ली सरकार के स्कूलों से पढ़कर निकले हैं, और उनके स्कूलों में पिछले 10 सालों में एक बड़ा बदलाव आया है। पहले सरकारी स्कूल अभिभावकों और बच्चों की पहली पसंद नहीं थे। बच्चे प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने का सपना देखते थे। लेकिन आज, दिल्ली सरकार के स्कूल हर मायने में प्राइवेट स्कूलों से आगे निकल गए हैं।”तकनीकी शिक्षा मंत्री ने आगे कहा, “मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि दिल्ली सरकार के स्कूलों के वे छात्र अपने साथ बहुत सकारात्मक आत्मविश्वास लेकर आए हैं। आज मैं विश्वास से कह सकता हूं कि हमारे दिल्ली सरकार के स्कूलों के छात्र और आईटीआई के छात्र किसी से कम नहीं हैं।क्योंकि उन्हें अपने संस्थानों में वर्ल्ड क्लास शिक्षा और एक्सपोज़र मिल रहा है। तकनीकी शिक्षा मंत्री आतिशी ने कहा कि, हमारे आईटीआई में पढ़ रहे छात्रों की पढ़ाई केवल किताबी पढ़ाई नहीं है, उनकी पढ़ाई प्रैक्टिस पर आधारित है जिसके लिए सबसे आधुनिक और उन्नत उपकरणों की ज़रूरत होती है। उन्हें इन मशीनों का जितना ज़्यादा एक्सपोज़र  मिलेगा, वे उतनी ही स्किल्ड बनेंगे, जॉब रेडी-इंडस्ट्री रेडी-मार्केट रेडी बनेंगे। इस दिशा में आज उद्घाटित रोबोटिक्स वेल्डिंग लैब एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने छात्रों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि, आईटीआई में बच्चे केवल छात्र के रूप में नहीं है बल्कि दिल्ली और देश के आर्थिक तरक़्क़ी का रास्ता है। ऐसे में हमारे छात्र यहाँ से जितनी अच्छी स्किल ट्रेनिंग लेकर जाएँगे, आगे इंडस्ट्री में जाकर जितना शानदार काम करेंगे उतना ही देश की आर्थिक तरक़्क़ी होगी। ये स्किल ट्रेनिंग केवल हमारे छात्रों को ही अच्छा भविष्य नहीं देगी बल्कि इस देश की भी एक शानदार भविष्य देगी।  तकनीकी शिक्षा मंत्री आतिशी ने साझा करते हुए कहा कि, दिल्ली सरकार इस साल से अपने सभी यूनिवर्सिटी और आईटीआई के छात्रों के लिए ‘बिजनेस ब्लास्टर्स सीनियर्स’ की शुरुआत कर रही है। इस कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों को अपना स्टार्टअप शुरू करने का मौका मिलेगा। मुझे यकीन है कि आने वाले समय में हमारे आईटीआई से इस देश के सबसे शानदार स्टार्टअप्स निकलेंगे। आने वाले समय में हमारे ITI छात्र अब ‘नौकरी मांगने वाले’ नहीं; नौकरी देने वाले बनेंगे। आईटीआई मयूर विहार में स्थापित एडवांस्ड वेल्डिंग और रोबोटिक्स लैब इन्वर्टर-आधारित आर्क वेल्डिंग पावर सोर्सेज़ से लैस है, जो शील्डेड मेटल आर्क वेल्डिंग (एसएमएडब्ल्यू), गैस मेटल आर्क वेल्डिंग (जीएमएडब्ल्यू), और गैस टंगस्टन आर्क वेल्डिंग (जीटीएडब्ल्यू) जैसी विभिन्न वेल्डिंग तकनीकों को कवर करती है।लैब में एक वर्चुअल वेल्डिंग सिम्युलेटर प्रणाली भी है, जो ट्रेनिज को वर्चुअल तरीके से सीखने में मदद करता है। इसके साथ-साथ यहाँ , एक रोबोटिक वेल्डिंग सेक्शन भी शामिल है, जिसमें कैलिब्रेशन, टूल पेलोड, लॉजिक उपयोग और ग्रिपर प्रोग्रामिंग शामिल है। 

Related posts

भारतीय जनता पार्टी की सरकार में पश्चिम बंगाल में हिंसा का दौर रुकेगा और विकास की धारा बहेगी- अमित शाह

Ajit Sinha

मयूर मलिक,और उसकी लिव -इन पार्टनर रेशमा खान उर्फ़ सीमा खान ने बलेनो कार में शख्स की चाकू मार की हत्या -अरेस्ट।

Ajit Sinha

भ्रष्टाचार की जांच: केंद्र सरकार, केंद्र शासित एजेंसी GEM के खिलाफ क्यों नहीं दिए CBI जांच के आदेश : सौरभ भारद्वाज

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x