Athrav – Online News Portal
हरियाणा

एचकेआरएन के तहत 534 कंडक्टरों को मिला रोजगार-मुख्यमंत्री मनोहर लाल


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट चंडीगढ़:हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के विज़न के अनुरूप सरकारी विभागों, बोर्डों और निगमों में जरूरत के अनुसार तत्काल मैनपावर की आवश्यकता को पूरा करने के लिए हरियाणा कौशल रोजगार निगम के माध्यम से अनुबंध आधार पर नियमित अंतराल पर नियुक्तियां दी जा रही हैं। इसी कड़ी में आज एक बार फिर मुख्यमंत्री ने एक क्लिक के माध्यम से विभिन्न विभागों में कार्य करने हेतु 534 कंडक्टरों को शॉर्ट लिस्ट किया। इसके अतिरिक्त 896 लोगों को 5 मई, 2023 को शॉर्ट लिस्ट किया गया था जिनमें से 538 उम्मीदवारों को उनकी सहमति के उपरांत डिप्लॉयमेंट ऑफर लेटर भेजे गए जिनमें मुख्यतः 108 एनालिटिकल एसोसिएट्स,55 आयुष योग सहायक, 34 डाटा एंट्री ऑपरेटर, 92 फायरमैन/फायर ड्राइवर, 57 जुनियर  इंजीनियर, 60 लैब सुपरवाइजर इत्यादि शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने जॉब ऑफर प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा पारदर्शी तरीके से सरकारी भर्तियांकी जा रही हैं। एचकेआरएन के माध्यम से दी जाने वाली नौकरियों में भी पूरी पारदर्शिता बरती जा रही है, जिससे युवाओं में ख़ुशी की लहर है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का ध्येय जरूरतमंद परिवारों अर्थात अंत्योदय परिवारों के सदस्यों को एचकेआरएन के तहत प्राथमिकता देते हुए उन्हें रोजगार के अवसर मुहैया करवाना है, ताकि ऐसे परिवारों का आर्थिक उत्थान हो सके और वे आगे बढ़ सकें.उन्होंने कहा कि सरकार को लगातार आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत सेवा प्रदाताओं द्वारा रखे गए कर्मचारियों के शोषण की शिकायतें प्राप्त होती थी, इसलिए वर्तमान सरकार ने कौशल रोजगार निगम का गठन करने का निर्णय लिया था। अब सभी अनुबंध कर्मचारियों की नियुक्ति निगम के माध्यम से पारदर्शी तरीके से हो रही है। उन्होंने कहा कि पहले  डीसी रेट पर अस्थाई कर्मचारी रखे जाते थे। विभिन्न जिलों में अलग-अलग  डीसी रेट के कारण कुछ परेशानी भी आती थी। अब एचकेआरएन में मासिक-पे को भी रेगुलराइज किया गया है और इन कर्मचारियों को ईपीएफ, ईएसआईसी इत्यादि का भी पूरा लाभ मिल रहा है। बैठक के दौरान  मुख्यमंत्री ने एचकेआरएन  की विभिन्न  कार्यों की समीक्षा  की तथा  एचकेआरएन  की कार्यप्रणाली को और अधिक  सुगम बनाने के लिए अपने सुझाव दिए।इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मुख्य सचिव संजीव कौशल, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव  वी उमाशंकर तथा उप-प्रधान सचिव व  हरियाणा कौशल  रोजगार  निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री के.एम.पाण्डुरंग व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

विवाहिता के झूठे केस में फंसाने की शिकायत पर गृह मंत्री अनिल विज ने दिए एसआईटी गठित करने निर्देश

Ajit Sinha

हरियाणा: वालंटियर्स को प्लेटफॉर्म देगी सरकार – सीएम मनोहर लाल

Ajit Sinha

फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र  नहीं है तो वह आयोग द्वारा निर्दिष्ट 11 वैकल्पिक पहचान पत्र दिखा कर अपना वोट डाल सकता है।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//rndnoibattor.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x