Athrav – Online News Portal
गुडगाँव स्वास्थ्य

4 टी-टेस्टिंग, ट्रैकिंग ,ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट से टूटेगी कोरोना संक्रमण की चैन: उपायुक्त यश गर्ग

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: उपायुक्त डॉ यश गर्ग ने कहा कि कोरोना जैसे घातक वायरस के फैलाव को रोकने के लिए जिला प्रशासन युद्ध स्तर पर प्रयासरत है। प्रशासन की ओर से कोरोना संक्रमण की चैन को तोडऩे के लिए हर संभव कदम उठाए जा रहे हैं। ऑक्सीजन व अन्य जीवन रक्षक दवाईयोंं की आपूर्ति मेंं निरंतर बढ़ोतरी की जा रही है। जिला में लॉकडाउन नियमों की पालना सुनिश्चित करने के साथ-साथ आमजन से  सहयोग की अपील की जा रही है कि वे लॉकडाउन के नियमों की पालना करें, फेस मास्क पहनें, बार-बार हाथ धोते रहें, दो गज की दूरी बनाकर रखें। 

उपायुक्त ने कहा कि जिला मेंं नागरिक धैर्य बरतें , किसी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें। जमाखोरी, कालाबाजारी करने वालोंं पर जिला प्रशासन की पैनी नजर है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की अवधि में खादय पदार्थो की आपूर्ति में कमी नहींं होने दी जाएगी।स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। 18 वर्ष से अधिक आयु के  नागरिक भी अपना पंजीकरण करवाकर कोरोना का टीका लगवाएं। कोरोना संक्रमण के लक्षण प्रतीत होने पर तुरंत अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र जाकर डाक्टरी  परामर्श से टेस्टिंग करवाएं और जब तक कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट नहीं आती तब तक घर मेंं अपने आपको आइसोलेट कर लें। यह आपकी और आपके परिवार की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए जरूरी है।उपायुक्त ने कहा कि ऑक्सीजन व अन्य जीवन रक्षक दवाईयोंं की आपूर्ति की निरंतर बढ़ोतरी हो रही है। जिला प्रशासन द्वारा गठित अधिकारियों की टीमें निरंतर ऑक्सीजन आपूर्ति सहित अन्य चिकित्सा सुविधाओं की निंरतर निगरानी रख रहे हैं ताकि किसी भी कोरोना पीडि़त मरीज को ईलाज के दौरान कोई परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेट किए गए मरीजों से स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा लगातार संपर्क किया जा रहा है। सरकार के आदेशानुसार  जिला मेंं प्राईवेट अस्पतालों मेंं कोरोना के ईलाज और प्राइवेट एंबूलेंंस के लिए रेट निर्धारित कर दिए हैं। अगर किसी प्राइवेट अस्पताल या एंबूलेंंस द्वारा निर्धारित रेट से ज्यादा पैसे लेने की शिकायत मिली तो तत्काल कानूनन कार्यवाही अमल मेंं लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि आमजन जिला हैल्पलाइन नंबर 1950 पर शिकायत दर्ज करवा सकते हैंं। सिविल सर्जन वीरेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला गुरुग्राम में 18 वर्ष से 45 वर्ष तक की आयु के नागरिकोंं को कोरोना वैक्सिनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है। जिनका रजिस्टे्रशन हो चुका है, उनको टीका लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 45 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों , फ्रंटलाइन वर्करों तथा हेल्थ केयर वर्करों का दूसरी डोज़ के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य नहीं है, लेकिन पहली डोज़ के लिए उनका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है । 45 वर्ष से अधिक आयु के नागरिक अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड आदि पहचान पत्र साथ लेकर आएं और कोरोना रोधी  टीका लगवाएं ।

Related posts

इंडियन ओवरसीज बैंक व केनरा बैंक ने अर्थ व्यवस्था को मजबूत करने की दिशा में कार्यशाला का आयोजन किया।

webmaster

कंटेनमेंट जोन के बाहर अनलाॅक-1 के आदेश के बाद सभी औद्योगिक इकाईयों ने संचालन शुरू कर दिया है: डीसी

webmaster

हरेरा ने प्रमोटर्स और आवंटियों के बीच विवादों के सौहार्दपूर्ण समाधान के लिए एक संपूर्ण मध्यस्थता फोरम की स्थापना की है।

webmaster
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x