Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद:11 वर्षीय बच्चे का किडनेपर एसी मैकेनिक और उसका बचपन का दोस्त कुत्तों को ट्रैनिग देने वाला निकला, अरेस्ट  

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद” पल्ला थाना पुलिस ने आज सीसीटीवी फुटेज की सहायता से 11 वर्षीय बच्चे का अपहरण करने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया हैं। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपितों के नाम अमन व सिद्धार्थ उर्फ़ सोनू बताया गया हैं। इनमें एक आरोपित  एसी मैकेनिक हैं जबकि सिद्धार्थ  कुत्तों को ट्रैनिग देता हैं। यह जानकारी आज डीसीपी सेंट्रल मुकेश मल्होत्रा ने प्रेस रिलीज के माध्यम से दी हैं।  

डीसीपी  मुकेश मल्होत्रा ने  जानकारी देते हुए बताया कि आरोपित  अमन एसी  ठीक करने का कार्य करता हैं और आरोपित सिद्धार्थ उर्फ़ सोनू कुतों को ट्रेनिंग देने का कार्य करता हैं ।  दोनों आरोपित  बचपन से दोस्त हैं। उनका कहना हैं कि लॉकडाउन में काम ठप्प होने की वजह से दोनों आरोपितों  ने शॉर्टकट से पैसे कमाने के चक्कर में बच्चे को अपहरण  करके फिरौती मांगने का प्लान बनाया। इसके लिए आरोपित सिद्धार्थ उर्फ़ सोनू ने अपने साथी अमन को बताया कि वह करीब 3 साल से फरीदाबाद सेक्टर- 91 में रहने वाली एक महिला पूनम को जानता है जो कुतों को खरीदने व बेचने का कार्य करती है और वह कई बार उससे कुत्ते के छोटे बच्चे लेकर आता रहा हैं।  उसने बताया कि उस मेडम के पास बहुत पैसा है।  उसका एक 11 वर्षीय लड़का है जिसको अपहरण  करके वह फिरौती मांगेंगे। योजना के मुताबिक दोनों आरोपित अपनी स्कूटी लेकर 13 अक्टूबर को शाम लगभग 6 बजे बच्चे को अपहरण करने की नियत से सेक्टर -91 में गए। वहां आरोपित सिद्धार्थ उर्फ़ सोनू पूनम के 11 वर्षीय बच्चे को अकेला पाकर उसे बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया और दोनों उसे गाजीपुर के एक होटल में ले गए। अपने बच्चे को न पाकर पूनम ने इसकी शिकायत थाना पल्ला में की। इस शिकायत पर सख्त  कार्रवाई  करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया गया और थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सतीश कुमार ने विशेष टीम बनाकर मामले की जांच श शुरू कर दी।

थाना पल्ला की पुलिस टीम ने मौके पर जा कर पूनम के घर के आस पास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाले तो पूनम ने आरोपित सिद्धार्थ  उर्फ़  सोनू को पहचान लिया और बताया कि इसे वह 3 साल से जानती है। महिला ने आरोपित सिद्धार्थ उर्फ़  सोनू का मोबाइल नंबर पुलिस टीम को दिया जिसकी लोकेशन कल्याणपुरी, दिल्ली की मिली ।आरोपित के घर का एड्रेस निकलवाकर जब उसके घर पर पता किया गया तो पता चला की वह 3 दिन से अपने घर नहीं आया है। उसके घर वालों ने उसके दोस्त का नंबर पुलिस को दिया तो उसके दोस्त की मदद से पुलिस आरोपित सिद्धार्थ उर्फ़  सोनू को पकड़ने में कामयाब हो गई। आरोपित  सोनू ने पूछताछ करने पर बताया कि  उनका 11 वर्षीय बच्चा गाजीपुर के एक होटल में है,वो बच्चे की माँ से फिरौती मांगने ही वाले थे कि पुलिस ने इससे पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया। बच्चे को होटल से सकुशल बरामद करके उसकी माँ  के हवाले कर दिया गया और आरोपित  सोनू से पूछताछ करके दूसरे आरोपी अमन को भी गिरफ्तार कर लिया गया। 

Related posts

फरीदाबाद में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने और घटने का सिलसिला जारी, अब मरीजों की संख्या 185 तक पहुंची। 

webmaster

विदेशी लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने के जुर्म में ऑटो चालक व उसके साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

webmaster

कृषि मंत्री जय प्रकाश दलाल ने आज गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर पुलिस कर्मियों  को किया सम्मानित। 

webmaster
error: Content is protected !!