Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

हमें अपनेे अंदर के रावण को समाप्त कर राम रूपी अच्छाइयों को बढ़ावा देना है- अरविंद केजरीवाल

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयाल की तरफ से परिसर में आयोजित संपूर्ण रामलीला समारोह में शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें अपनेे-अपने अंदर के रावण को समाप्त कर राम रूपी अच्छाइयों को बढ़ावा देना है। प्रभु श्रीरामचंद्र ने किसी व्यक्ति विशेष का नाश नहीं किया था, अधर्म का नाश किया था और हर युग में अधर्म है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि विधानसभा बहुत उबाउ और नीरस जगह मानी जाती है, जहां किस्म-किस्म की राजनीति और वाद-विवाद होते हैं। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष ने नई परंपरा शुरू कर प्यार व मोहब्बत को बढ़ाने का सिलसिला चालू किया है। दिल्ली विधानसभा के प्रांगण में आज आयोजित संपूर्ण रामलीला के समारोह में मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल बातौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। यह समारोह, दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल की तरफ से सभी पर्व व त्योहारों को विधानसभा परिसर में मनाने की शुरू की गई एक नई परंपरा की कड़ी में किया गया। 

विधानसभा में आयोजित संपूर्ण रामलीला समारोह में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली समेत सभी देशवासियों को दशहरा, दीपावली समेत सभी त्योहारों की बधाई एवं शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल ने हमारे विधानसभा के प्रांगण में सभी त्योहारों को मनाने का जो एक सुंदर प्रयास शुरू किया गया, इसके लिए उन्हें बहुत-बहुत बधाई। अब हम अपने विधानसभा के प्रांगण में सभी धर्मों के त्योहार मनाते हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि विधानसभा एक बहुत ही उबाऊ और नीरस जगह मानी जाती है। विधानसभा, वह जगह मानी जाती है, जहां पर किस्म-किस्म की राजनीति होती है, लड़ाई-झगड़े होते हैं और वाद-विवाद होते हैं। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष ने विधानसभा के प्रांगण में सभी त्योहारों को मनाने का सिलसिला चालू किया है, प्यार और मोहब्बत बढ़ाने का सिलसिला चालू किया है। एक तरह से पूरी विधानसभा जीवंत हो गई है। इस कड़ी में अब रामलीला मनाने का भी इस साल से सिलसिला उन्होंने चालू किया है। इसके लिए मैं उन्हें बहुत-बहुत बधाई देता हूं। 
मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दशहरा, एक तरह से बुराई के उपर अच्छाई का प्रतिक माना जाता है। ऐसा नहीं है कि प्रभु श्री रामचंद्र जी ने किसी व्यक्ति विशेष का नाश किया था। श्री रामचंद्र जी ने अधर्म का नाश किया था और हर युग में अधर्म है। हमारे अंदर भी एक तरह से कहीं रावण छिपा होता है। हमें अपने-अपने अंदर के रावण को समाप्त करना है और राम रूपी अच्छाइयों को बढ़ावा देना है। उसी तरह से समाज के अंदर भी रावण रूपी बुराइयों को खत्म कर अच्छाइयों को आगे बढ़ाना है। प्यार व मुहब्बत और भाई-चारे को आगे बढ़ाना है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कल चांदनी चौक स्थित लालकिला परिसर में लव-कुश रामलीला कमेटी की तरफ से आयोजित रामलीला समारोह में शामिल हुए थे। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने रावण, कुम्भकर्ण और मेघनाद के प्रतिक पुलते पर तीर चलाकर उनका दहन किए और प्रभु श्रीराम की आरती में भी शामिल हुए। समारोह में बातौर मुख्य अतिथि शामिल हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को झूले की मदद से स्टेज पर लाया गया था। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने समारोह में आधे घंटे से अधिक समय तक बैठ कर रामलीला मंचन को देखा। इस दौरान लव-कुश रामलीला कमेटी की तरफ से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सम्मानित किया गया। कमेटी के सदस्यों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को शॉल ओढ़ाई और पटका व पगड़ी पहनाई। साथ ही, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को राम दरबार, एक तलवार और एक गदा भी सप्रेम भेंट किया गया।

Related posts

दिल्लीवालों को मिलेगी दूषित पानी से मुक्ति, सीएम अरविंद केजरीवाल।

Ajit Sinha

राहुल गांधी बोले- कांग्रेस शासित राज्यों में होगी जाति जनगणना

Ajit Sinha

मोदी सरकार के 7 साल पूरे: बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने इस दिन को पूरे देश में ‘सेवा दिवस के रूप मनाने का निर्णय लिया है।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//wigrooglie.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x