Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद राजनीतिक

आप प्रत्याशी नवीन जयहिंद पर हैं 4 मुकदमें दर्ज, जब अमित शाह से पूछे सवाल तो दर्ज हुआ मामला

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद: फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से आम आदमी पार्टी व जननायक जनता पार्टी गठबंधन की तरफ से नामांकन दाखिल करने वाले नवीन जयहिंद के खिलाफ चार केस दर्ज हैं। जिनकी सुनवाई विभिन्न अदालतों में चल रही है। यह चारों मामले किसी अपराधिक घटना से संबंधित नहीं बल्कि सिस्टम के खिलाफ आवाज उठाने पर तत्कालीन सरकार के द्वारा दर्ज करवाए गए हैं। नामांकन पत्र दाखिल करते समय चुनाव आयोग के समक्ष दायर किए गए शपथ पत्र में नवीन जयहिंद ने जहां अपनी कुल संपत्ति महज 74 हजार 651 रुपए बताई है वहीं उनकी पत्नी स्वाति मालीवाल की कुल संपत्ति चार लाख 72 हजार 143 रुपए बताई गई है। शपथ पत्र के अनुसार वर्ष 2013 में नवीन जयहिंद ने आर.टी.आई कानून में संशोधन की मांग पर नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन का घेराव करने का प्रयास किया तो पुलिस ने उनके विरूद्ध मामला दर्ज कर दिया।

हरियाणा की वर्तमान भाजपा सरकार द्वारा गायों नाम पर शुरू की गई योजनाओं का जब कोई परिणाम नहीं आया तो नवीन जयहिंद के नेतृत्व में आप कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के सभी मंत्रियों के घरों के आगे खूंटा गाड अभियान चलाकर लावारिस गायों को वहां बांधना शुरू किया। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के रोहतक आवास पर खूटा गाड अभियान के विरूद्ध जयहिंद के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जब रोहतक में आए तो हरियाणा की बुरी हालत पर नवीन जयहिंद व साथियों ने शाह से पांच सवाल पूछने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेकर मामला दर्ज कर दिया। हरियाणा की भाजपा सरकार द्वारा पिछले साढे चार साल के दौरान काम की बजाए कांड किए गए तो आम आदमी पार्टी ने भाईचारा कांवड़ यात्रा निकाली। यह भी सरकार को पसंद नहीं आई और सरकार ने पानीपत में मामला दर्ज करवा दिया। चुनाव आयोग के समक्ष दायर पत्र में नवीन जयहिंद ने अपनी अंतिम वार्षिक आय दो लाख 71 हजार 203 रुपए बताई है। नवीन के पास दस हजार रुपए नगद तो 15 हजार 400 रुपए कीमत का सोना तथा 3224 रुपए की चांदी है। नवीन जयहिंद के एसबीआई स्थित बैंक खाते में 46 हजार 27 रुपए तथा आईडीबीआई स्थित बैंक खाते में 3996 रुपए जमा हैं।
000

व्यक्तिगत ब्यौरा नवीन जयहिंद
नाम नवीन जयहिन्द
पिता का नाम श्री धर्म प्रकाश
जन्म स्थान भैंसरू कलां, रोहतक
जन्मतिथि 01 जून, 1981
शिक्षा Ph.D. MMC(Journalism),M.P.ED, B.P.Ed, PG Diploma in Yoga
मोबाइल नंबर 9050906161

नवीन जयहिन्द जी का जन्म 1 जून 1981 को रोहतक जिले के भैंसरु कलां में एक बेहद सामान्य परिवार में हुआ। बचपन से ही शहीदे-आजम भगत सिह असफाक उल्लाखां, चंद्रशेखर आजाद और नेता जी सुभाष चन्द्र बोस के जीवन से अत्याधिक प्रभावित रहे। उनके विचारों से प्रभावित होकर उन्होंने अपने नाम के पीछे जयहिंद लिखकर संदेश दिया की जात-पात से पहले मेरा देश है। नवीन जयहिन्द ने पहला आंदोलन तब करा था जब वह दसवीं कक्षा में पढ़ते थे। वर्ष 2006-2007 में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के सहपाठी ने जयहिंद मोर्चे का गठन करवाया और छात्र राजनीति की शुरुआत की और एनसीसी, एनएसएस की तर्ज पर ब्लड डोनेशन कैंप लगाकर लगभग 6000 यूनिट से ज्यादा ब्लड इकठ्ठा करवा रैडक्रास के माध्यम से डोनेट किया। हरियाणा विश्वविद्यालय में रक्त दान पत्र के साथ एडमिशन में एक्स्ट्रा वेटेज के लिए पॉलिसी बनवाने में मुख्य भूमिका निभाई। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय रोहतक में जयहिन्द मोर्चा आज भी काम कर रहा है।


नवीन जयहिन्द की शैक्षणिक योगयता Ph.D. MMC(Journalism),M.P.ED, B.P.Ed, PG Diploma in Yoga.
राजनीति के साथ-साथ नवीन जयहिन्द की खेलो में भी बहुत रूचि है। जयहिन्द जी ने नेशनल लेवल पर कई बार यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधि के रूप में भाग लिया। शीघ्र ही, उन्होंने महसूस किया की सरकार में बहुप्रचलित भ्रष्टाचार के कारण प्रकिया में पारदर्शिता की कमी है और फैसला किया अब उन्होंने छात्र राजनीति छोडक़र देश की सेवा करनी चाहिए। उधर दिल्ली में अरविन्द केजरीवाल जी ने भी भ्रष्टाचार के विरुद युद्ध छेड़ रखा था। नवीन जयहिन्द जी के संघर्ष को देखकर अरविंद केजरीवाल काफी प्रभावित हुए। इसके बाद अरविंद जी के साथ नवीन जयहिन्द जी ने संपूर्ण भारत में आरटीआई के क्षेत्र और (स्वराज अभियान) में 2007 से अरविंद केजरीवाल के साथ काम किया। पांच अप्रैल 2011 को समाजसेवी अन्ना हजारे के सानिध्य में हुए जनलोकपाल आंदोलन में पूर्ण रूप से समर्पित होकर संघर्ष किया और अन्ना आंदोलन की 20 सदस्यी कमेटी का हिस्सा बने। इसके बाद जयहिन्द अन्ना हजारे और अरविन्द केजरीवाल जी के साथ तिहाड़ जेल में भी बंद रहे। सत्ता और भ्रष्टाचार के नशे में चूर सरकार ने देश के करोड़ो लोगो की भावनाओं का सम्मान नहीं किया
तब अरविन्द केजरीवाल जी ने सभी क्रांतिकारी लोगो को देश की सक्रिय राजनीति में कदम रखने का विकल्प दिया और फिर अरविन्द केजरीवाल जी के साथ 26 नवंबर 2012 को आम आदमी पार्टी की स्थापना की और नवीन जयहिन्द जी राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य बने। देश के बेटी निर्भया के साथ बलात्कार जैसे घिनौने जुर्म के खिलाफ सख्त कानून की आवाज उठाने पर पुलिस की लाठियां खाने की बात हो या सडक़ पर भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष करने की बात हो नवीन जयहिंद हमेशा से ही आगे रहे हैं। आम आदमी पार्टी द्वारा नवीन जयहिन्द के कार्यों से प्रभावित होकर आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेश का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। नियुक्त के बाद नवीन जयहिन्द ने समाज में राजनेताओ द्वारा घोले गए जातिवाद के जहर को मिटाने के लिए (मेरी जाति हिन्दुस्तानी मुहिम) को तपती गर्मी में प्रदेश के प्रत्येक जिले में चलाया , इसके बाद प्रदेश में जनता के मुद्दों को प्रशासन,सडक़ो से लेकर हरियाणा विधानसभा चंडीगढ़ में घेराव कर भ्रष्ट नेताओं के कानो में गूंज करवाई। वतर्मान में पूरे प्रदेश में विपक्ष होते हुए भी आम आदमी पार्टी हरियाणा में बिना किसी विधायक विपक्ष भूमिका निभा रही है।

Related posts

नगर निगम ने 4400 एलईडी स्ट्रीट लाइट्स खरीदने के लिए दिया आर्डर-कुलभूषण गोयल

Ajit Sinha

कोरोना का तांडव जारी: फरीदाबाद में आज आए कोरोना संक्रमण के 191 नए मामले।

Ajit Sinha

हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर आप ने तय की रणनीति: धर्मबीर भड़ाना

Ajit Sinha
//mordoops.com/4/2220576
error: Content is protected !!