Athrav – Online News Portal
अपराध दिल्ली राष्ट्रीय हरियाणा

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से ली मुख्यमंत्रियों व पुलिस महानिदेशकों की बैठक

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
चंडीगढ़:केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नशीले पदार्थों की तस्करी और राष्ट्रीय सुरक्षा विषय पर आयोजित राष्ट्रीयसम्मेलन में नशे को रोकने के लिए देश के राज्यों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा करते हुए नशे पर पूर्ण रोकथाम लगाने के निर्देश दिए। वीडियो कांफ्रेंस के जरिए आयोजित इस क्षेत्रीय सम्मेलन में विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों तथा पुलिस महानिदेशकों ने हिस्सा लिया। गृहमंत्री अमित शाह से मिले निर्देशों की अनुपालना के संकल्प के साथ नशे के विरूद्ध मुहिम को तीव्रता प्रदान करने पर बल मिला।मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस में हरियाणा के नूंह जिले में नशे का कारोबार को खत्म करने की भी जानकारी देते हुए बताया कि 500 पुलिस कर्मियों ने नूंह में नशे के व्यापारियों को काबू किया और नशे के बड़े नेटवर्क को तोड़ा है। उन्होंने कहा कि बार्डर पर बसे गांवों में विशेष रूप से नशे के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।

प्रदेश में नशा मुक्ति व पुनर्वास के लिए ग्राम व वार्ड स्तर से लेकर राज्य स्तर तक मिशन टीमों का गठन किया गया है, जिसमें गांव के सरपंच, संत समाज सहित अन्य मौजिज व्यक्तियों को शामिल किया गया है ताकि हरियाणा को नशामुक्त बनाया जा सके। उन्होंने बताया कि प्रदेश में नशा पीड़ितों की मदद करने के लिए अपने क्षेत्र में ड्रग पैडलिंग की गतिविधियों के बारे में जनता से जानकारी एकत्र करने के लिए टोल फ्री एंटी-ड्रग हेल्पलाईन नंबर 9050891508 भी शुरू किया गया है। इस नम्बर का भरपूर प्रयोग किया जा रहा हैं। इस नम्बर पर अब तक 5542 कॉल आई जो नशा पीड़ितों की सहायता करने और सप्लाई चैन को तोड़ने के लिए उपयोगी सिद्व हो रहा है। मुख्यमंत्री ने बताया कि गत वर्ष के दौरान राज्य में 3824 एफआईआर दर्ज कर 6000 व्यक्तियों को गिरफतार किया गया। इनमें 10 नाईजीरिया के सप्लायर भी शामिल है। इसके अलावा नशे के कारोबार से जुड़े 71 व्यक्तियों की 46 करोड़ रुपए की सम्पति अटैच की गई है। उन्होंने कहा कि 40 स्नीफर डॉग को ट्रेनिंग करवाई गई है। एनडीपीएस एक्ट को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने के लिए लीगल एडवाईजर की सहायता ली जा रही है। राज्य में एफएसएल की भी ट्रेनिंग करवाई गई है और 8 नई एफएसएल बनाई गई है जिनमें से सिरसा में एफएसएल ने कार्य करना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि स्टेट एक्शन प्लान बनाकर सर्वे करवाया जा रहा है जिसमें नशे से पीड़ितों के अभिभावकों को भी शामिल किया जा रहा है। इसके अलावा दोषियों को पकड़ने के लिए सोफ्टवेयर तैयार किया गया है। राज्य में 52 नशामुक्ति केन्द्र चलाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि रेवाड़ी, हिसार व अम्बाला में 9 करोड़ रुपए के मादक पदार्थो को नष्ट किया गया जबकि पूर्व में भी 100 करोड़ के मादक पदार्थो को नष्ट किया गया।मुख्यमंत्री ने बताया कि नशे के उद्देश्य से उपयोग की जाने वाली दवाओं की अवैध बिक्री को रोकने के लिए हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन विभाग द्वारा राज्य के सभी केमिस्ट स्टोर के लिए एक मोबाइल एप साथी तैयार किया गया है। इस ऐप के लागू होने के बाद व्यसन के लिए उपयोग की जाने वाली ऐसी कोई दवा केमिस्ट द्वारा बिना प्रिस्क्रिप्शन के नहीं बेची जा सकती। इसके अलावा नशे के प्रति प्रदेश के युवाओं को जागरूक करने के लिए राहगिरी कार्यक्रम भी शुरू किया गया है, जिसके तहत अनेक गतिविधियों के माध्यम से युवाओं को नशे के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक किया जा रहा है।इस वीडियो कांफ्रेंस में चण्डीगढ से मुख्य सचिव संजीव कौशल, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह विभाग टी वी एस एन प्रसाद, पुलिस महानिदेशक पी के अग्रवाल, एडीजीपी सीआईडी आलोक मित्तल, आईजीपी लॉ एण्ड ऑर्डर संजय राय सहित कई वरिष्ठ अधिकारी क्षेत्रीय सम्मेलन से जुड़े।

Related posts

ब्रेकिंग न्यूज़: एसडीओ, जेई व बिचौलिया 2 लाख की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार।

Ajit Sinha

लूट के दौरान गोली मारकर हत्या की सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने वाले छेनू गिरोह का शार्प शूटर अरेस्ट।

Ajit Sinha

विक्की और सोनू के साथ-साथ विक्की के पिता नेपाल सिंह को बदला लेने  की नियत से, उन्हें मारने का अवसर तलाश रहा था।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//whoursie.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x