Athrav – Online News Portal
राजनीतिक हरियाणा

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के दो साल पूरा होने पर विशेष

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़:एक किसान नेता के रूप में देश भर में अपनी पहचान स्थापित करने वाले ओमप्रकाश धनखड़ को हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी की कमान संभाले आज दो साल पूरे हो गए हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की राष्ट्र सर्वोपरि की भावना को जीवन में उतारकर छात्र जीवन से ही पार्टी के जरिए देश की सेवा में जुटे ओमप्रकाश धनखड़ के दो सालों का कार्य बहुत ही प्रभावित करने वाला रहा है। ऐसे में जब हरियाणा में कांग्रेस के नेता गुटबाजी और परिवारवाद के चलते अपना-अपना व्यक्तिगत खेमा बचाने के लिए ही जद्दोजहद कर रहे हैं, तो भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धनखड़ की कार्यशैली और क्रियाशीलता 2024 चुनाव में पार्टी की जीत का मजबूत आधार  रख रही है।19 जुलाई 2020 को कोरोना महामारी की विभीषिका और किसान आंदोलन की चुनौती के बीच मिले दायित्व का सफलतापूर्वक निर्वहन करते हुए आगे बढ़ना धनखड़ के लिए आसान नहीं था।

यहां तक कि ऐसे माहौल में टीम खड़े करना भी बड़ी चुनौती थी, लेकिन धनखड़ अपनी नेतृत्व क्षमता का परिचय देते हुए न केवल अब तक की सबसे बड़ी टीम (360 सदस्यों वाली प्रदेश कार्यकारिणी) बनाने में कामयाब हुए बल्कि इन दो वर्षों में निकाय चुनाव और राज्यसभा में भाजपा की जीत का डंका बजाया और दो विधानसभाओं बड़ौदा और ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा की स्थिति को पहले के मुकाबले ऐतिहासिक रूप से बेहतर किया। हालांकि ओमप्रकाश धनखड़ खुद इन चुनावों में जीत और वोटों में बढ़ोतरी का श्रेय नरेंद्र मोदी सरकार, मनोहर सरकार के कार्यों और कार्यकर्ताओं की मेहनत को देते हैं, लेकिन दो सालों में धनखड़ द्वारा किए गए सिलसिलेवार कार्यक्रमों की एक लंबी फेहरिस्त बताती है कि हर सफलता में धनखड़ की भूमिका भी महत्वपूर्ण रही है। गहन अध्ययन के साथ सटीक विषय का चयन कर उसे ज्वलंत मुद्दा बनाने में धनखड़ को महारथ है। बड़े से बड़े काम में कार्यकर्ता को लगा कर काम करवा लेना इन्हें अच्छी तरह से आता है।

दो साल में लगभग दो दर्जन से अधिक प्रदेश स्तरीय अभियान और कार्यक्रमों का आयोजन कर लाखों लोगों तक पार्टी नीतियों, मोदी सरकार और मनोहर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को  कार्यकर्ताओं के माध्यम से पहुंचाने का काम धनखड़ ने बड़े ही योजनाबद्ध तरीके से किया है। जब कोरोना महामारी के कारण लोग घर से निकलने में भी कतरा रहे थे और किसान आंदोलन के चलते भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को गांवों में नहीं घुसने देने का एक वातावरण होने की झूठी बात को बल देकर विरोधियों द्वारा प्रचारित किया जा रहा था तो प्रदेश अध्यक्ष का दिमाग मजबूत टीम बनाने और आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा बनाने के लिए जूझ रहा था। धनखड़ खुद स्वीकारते हैं कि जिस समय में कमान मिली उस समय एक मजबूत टीम खड़ा करना वास्तव में चुनौती भरा था। हालांकि कभी हार न मानने वाले धनखड़ लगातार टीम को बढ़ाते रहे और पुराने विभागों और प्रकोष्ठों के अलावा भी 15 से ज्यादा नए विभाग और 20 से अधिक नए प्रकोष्ठों की टीम खड़ा करने में कामयाब हो गए। इसके साथ-साथ ही उनके दिमाग से निकली तिरंगा यात्रा की रूपरेखा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को एक नई ऊर्जा दी। शहीदों के सम्मान और तिरंगे के प्रति गौरव की भावना को दर्शाने के लिए प्रदेश भर में हुई 100 तिरंगा यात्राओं में लगभग 6 लाख से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया। बड़ी संख्या में भाजपा की तिरंगा यात्राओं में उमड़े लोगों की संख्या को देखकर हरियाणा में किसान आंदोलन के नाम पर हल्ला करने वालों की हिम्मत भी इस तिरंगा यात्रा का विरोध करने की हिम्मत नहीं हो पाई थी। इसके उपरांत एक के बाद एक कार्यक्रमों की रूपरेखा बनाते गए। एक मजबूत टीम और तिरंगा यात्रा ने ओमप्रकाश धनखड़ को इस विपरीत परिस्थिति में ताकत देने का काम किया। ओमप्रकाश धनखड़ के अब तक के कार्यकाल के दौरान पार्टी का जनसंपर्क काफी सघन हुआ है। यशस्वी प्रधानमंत्री मोदी के 8 साल, मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार के 7 साल के कार्यों का समूचे हरियाणा में जनता के बीच शानदार यशोगान किया गया। धनखड़ के नेतृत्व में भाजपा के कार्य संस्कार और निश्छल देशभक्ति के भावों का संचार समूचे हरियाणा में किया गया। इसके तहत हरियाणा में पहली बार एक ही दिन में 307 मंडलों में बैठक की गई, जिसमें लगभग 22 हज़ार कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। मंगलसेन जयंती पर 18438 बूथों पर 554482 परिवारों से संपर्क किया। इसमें 55 हज़ार कार्यकर्ताओं ने अपना सक्रिय सहयोग दिया।ओमप्रकाश धनखड़ की अगुवाई में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती को सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया, जिसमें 16,600 बूथों पर संगोष्ठी आयोजित की गई। जिनमें लगभग 2 लाख लोगों ने भाग लिया और राज्य के सभी बूथों पर  अटल जी के चित्र पहुंचाये गए। वीर बाल दिवस के आयोजन की घोषणा के पश्चात प्रधानमंत्री मोदी  को 13000 धन्यवाद पत्र प्रेषित किये गए। धनखड़ के नेतृत्व में ही आज़ादी का अमृत महोत्सव जोर शोर से मनाया गया। दिसंबर 2021 में 129 कार्यकर्ता काला पानी पहुंचे। धनखड़ ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार के साथ 30 दिसंबर को पोर्टब्लेयर के उस फ्लैग प्वाइंट पर तिरंगा फहराया, जहां कभी नेता जी सुभाष चंद्र बोस ने तिरंगा फहराया था। वाईपर द्वीप और सेलुलर जेल की बलिदानी मिट्टी हरियाणा लाकर कार्यकर्ताओं के माध्यम से सभी जिलों में पहुंचाई गई। इस मिट्टी से हजारों लोगों ने तिलक कर इतिहास में भुला दिए बलिदानियों को याद किया। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में समूचे हरियाणा में मनाया गया। जिसके लिये 12 लाख निमंत्रण पत्र वितरित किये गए। साथ ही प्रदेश की 90 विधानसभा के 307 मंडलों में करीब 6755 कार्यक्रम आयोजित कर हरियाणा के 5188 शहीद परिवारों का सम्मान किया गया। 40 हजार स्थानों पर नेता जी की तस्वीर पहुंचाई गई। इसके अलावा लाला लाजपत राय की जयंती पर समूचे 22 जिलों में कार्यक्रम आयोजित किये गए, जिसमें करीब 3522 कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।सभी 22 जिलों में प्रधानमंत्री मोदी की सरकार के बजट भाषण  को लाइव सुनाया गया। शहीद चंदशेखर आज़ाद के बलिदान दिवस पर वंदेमातरम कार्यक्रम किया और इससे पहले धनखड़ की अगुवाई में प्रयागराज जाकर भाजपा प्रतिनिधि मंडल ने चंद्र शेखर आजाद को नमन किया। शहीद भगतसिंह, राजगुरु, सुखदेव के बलिदान दिवस पर सभी 307 मंडलों में 343 कार्यक्रम आयोजित किये गए, जिसमें करीब 50 हज़ार लोगों ने शहीदों को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किये। धनखड़ इस अवसर पर भी कार्यकर्ताओं के साथ शहीदों के गांव और जलियांवाला बाग पहुंचकर उन्हें नमन किया। पार्टी के स्थापना दिवस पर लगभग सभी बूथों पर कार्यकर्ताओं के घरों पर पार्टी के 88000 झंडे लगाये गए।  प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में प्रदेश में अंबेडकर जयंती, ज्योतिबा फुले जयंती, अनुसूचित जाति मोर्चा, महिला मोर्चा, युवा मोर्चा आदि के गरिमामय समारोह समय व-समय पर आयोजित किए गए, जिनमें हजारों कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया और लाखों लोगों से सीधे संपर्क किया गया। मोदी जी के जन्मदिवस पर सेवा और समर्पण कार्यक्रमों के जरिए विभिन्न सेवा कार्य किए गए। मोदी सरकार के 8 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में 6 मई से 26 मई 21 लाख लोगों से संपर्क किया गया। यह धनखड़ का ही नेतृत्व रहा जिसके तहत कार्यकर्ताओं ने 26 मई के दिन 19 लाख लोगों से एक ही दिन में संपर्क कर लोगों तक मोदी सरकार के 8 सालों के कार्यों की बुकलेट “सेवा, सुशासन और गरीब कल्याण” पहुंचाई। 28 मई को हिसार में आयोजित एक दिवसीय प्रदेश कार्यकारिणी और फरीदाबाद में इसी माह  में दो दिन पहले 15 से 17 जुलाई तक तीन दिवसीय प्रदेश प्रशिक्षण शिविर के सफल आयोजन भी धनखड़ की उपलब्धियों में शामिल हो गए हैं। उक्त दोनों कार्यक्रमों में मुख्यमंत्री मनोहर, प्रदेश प्रभारी विनोद तावड़े और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, गजेंद्र सिंह शेखावत, भूपेंद्र यादव के साथ-साथ प्रदेश के अधिकांश नेताओं से धनखड़ का शानदार तालमेल दिखाई दिया, जो बताता है कि धनखड़ कुशल राजनीतिज्ञ के अलावा सौम्य स्वभाव के भी धनी हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का गुरुग्राम में पार्टी कार्यालय के उद्घाटन पर पहुंचने और नरेंद्र मोदी के  “मन की बात”  कार्यक्रम को नड्डा द्वारा गुरुग्राम में सुनने पहुंचना भी यह साफ करता है कि धनखड़ अपने कार्य से केंद्रीय नेतृत्व को भी प्रभावित करने में कामयाब हुए हैं। धनखड़  ने भाजपा को हरियाणा में अब तक अपनी राजनैतिक सूझ बूझ और अथक मेहनत से लगातार धाकड़ बनाया है। भाजपा के प्रदेश सह मीडिया प्रमुख अरविंद सैनी के मुताबिक पिछले दो साल में प्रदेश अध्यक्ष के नाते ओमप्रकाश धनखड़ ने पार्टी को एक नया आयाम दिया है। सैनी के मुताबिक धनखड़ प्रयोगधर्मी है और वे हर काम के लिए कार्यकर्ता और हर कार्यकर्ता को काम के फार्मूले में विश्वास रखते हैं। यही कारण है कि धनखड़ के नेतृत्व में आज हरियाणा में भाजपा की एक मजबूत टीम है। अरविंद सैनी के मुताबिक 2 साल पहले ओमप्रकाश धनखड़ को जब 19 जुलाई 2020 को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपी गई थी तो परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण थी, लेकिन श्री धनखड़ ने सभी चुनौतियों को मात देते हुए संगठन को मजबूत करते हुए 2024 में जीत का आधार मजबूत किया है।

Related posts

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रदेशअध्यक्षों की नियुक्ति के प्रस्ताव को तुरंत प्रभाव से मंजूरी दे दी है-लिस्ट जरूर पढ़े

Ajit Sinha

भूपेंद्र सिंह हुड्डा खिलाड़ियों को समर्थन देने पहुंचे जंतर-मंतर, कहा, खिलाड़ियों को न्याय दिलाना हम सबका फ़र्ज़ है।

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: 23 प्रतिशत की वृद्धि के साथ जीएसटी कलेक्शन में हरियाणा देश में चौथे नंबर पर – डिप्टी सीएम

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//rndnoibattor.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x