Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी हरियाणा

हरियाणा के प्राध्यापकों ने भरी अपने अधिकारों की रक्षा हेतु हुंकार


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़:हरियाणा के कोने कोने से कॉलेज और यूनिवर्सिटी शिक्षक भारी संख्या में पंचकूला के सेक्टर- 5 स्थित उच्चतर शिक्षा निदेशालय के आगे भीषण गर्मी में अपना आक्रोश जताने के लिए लामबंद हुए। हरियाणा फैडरेशन ऑफ यूनिवर्सिटी एण्ड कॉलेज टीचर्स ऑर्गेनाइजेशनज (एचफुक्टो) के बैनर तले प्रदेश की स्टेट यूनिवर्सिटियों, सरकारी एवं एडिड कॉलेजों के हजारों शिक्षकों शिक्षा और शिक्षकों के हितों के लिए सड़क पर उतर कर आक्रोश जताया।
एचफुक्टो के अध्यक्ष डॉ.विकास सिवाच, महासचिव डॉ.सुनील कुमार ने रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूरानी पैन्शन स्कीम बहाल करने, सैल्फ फाईनेंस शिक्षकों को बजटेड में करने,रिक्तियों को भरने, रैगुलेशनज़ की विसंगतियों को दूर करने , 

एम फिल-पीएचडी इंक्रीमेंट देने,विभिन्न स्तरों पर तुरंत-त्वरित पदोन्नति करने,एडिड कॉलेजों के लिए ग्रैच्युटी, बढ़ा हुआ मकान किराया भत्ता ,मैडिकल स्कीम ,यूजीसी के अनुसार रिटायरमेंट आयु पैंसठ वर्ष करने ,कैशलेस मैडिकल स्कीम देने,सरकारी कॉलेजों के शिक्षकों को गैर-शैक्षणिक कामों से मुक्त करने,न्यायोचित ट्रांसफर पॉलिसी देने,पदोन्नति में रूरल सर्विस की शर्त हटाने,गुरु जम्भेश्वर,कुरुक्षेत्र,पर्फार्मिंग रोहतक,एमडीयू समेत सभी  यूनिर्वसिटियों के शिक्षकों की सुनवाई करने की मांगें चिर लम्बित हैं।ए.आई.फुक्टो सचिव डॉ.नरेन्द्र चाहर, एचसीटीए अध्यक्ष डॉ.दयानन्द मलिक, एचजीसीटीए अध्यक्ष डॉ.अमित चौधरी ने कहा कि हमारी सुनवाई नहीं हो रही।विवश होकर आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ रहा है। हिसार, कुरुक्षेत्र, यूनिर्वसिटियों में पिछले पन्द्रह दिन में तीन बड़े आक्रोश प्रदर्शनों ने जता दिया है कि प्रदेश के शिक्षक बहुत ज्यादा पीड़ित और दुखी हैं।

Related posts

केजरीवाल सरकार ने प्रदूषण कम होने के बाद प्रतिबंध हटाए, स्कूल -कॉलेज सोमवार से खुलेंगे

Ajit Sinha

हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से 25  एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किए हैं।

Ajit Sinha

चंडीगढ़: आंगनवाडी कार्यकर्ताओं के सुपरवाइजर पदोन्नति के लिए खुलेंगे रास्ते

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//whoursie.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x