Athrav – Online News Portal
दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दुहाई से मोदीनगर नॉर्थ के बीच 17 किमी लंबे नए आरआरटीएस सेक्शन को दिखाई हरी झंडी।



अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली:प्रधानमंत्री ने आज नमो भारत ट्रेन का विस्तार करते हुए कोलकाता से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दुहाई से मोदीनगर नॉर्थ स्टेशन के बीच आरआरटीएस के 17 किमी के अतिरिक्त सेक्शन का उद्घाटन किया। मुरादनगर आरआरटीएस स्टेशन पर आयोजित उद्घाटन समारोह में आवासन और शहरी मामलों (एमओएचयूए) और पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी,केंद्रीय नागरिक उड्डयन, सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री, जनरल (डॉ.) विजय कुमार सिंह (सेवानिवृत्त),; संसद सदस्य, राजेंद्र अग्रवाल,; संसद सदस्य लक्ष्मीकांत वाजपेयी, संसद सदस्य; सत्यपाल सिंह, और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।  इस सेक्शन के उदघाटन से अब दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर पर पहले से परिचालित प्रायोरिटी सेक्शन से आगे दुहाई से मोदीनगर उत्तर तक 17 किमी का अतिरिक्त सेक्शन नमो भारत ट्रेनों के परिचालन के लिए तैयार है। इस सेक्शन में मुरादनगर, मोदीनगर साउथ और मोदी नगर नॉर्थ तीन स्टेशन हैं। इस नए सेक्शन के उद्घाटन के साथ अब नमो भारत सेवाएं दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर के 34 किमी लंबे सेक्शन पर निर्बाध रूप से उपलब्ध होंगी, जिसमें साहिबाबाद से मोदीनगर उत्तर तक आठ स्टेशन होंगे।

दिल्ली को मेरठ से जोड़ने वाले भारत के प्रथम आरआरटीएस कॉरिडोर की आधारशिला मार्च 2019 में  प्रधानमंत्री द्वारा रखी गई थी। इंफ्रास्ट्रक्चर विकास में नए मानक स्थापित
करते हुए केवल साढ़े चार वर्षों के भीतर, पांच स्टेशनों वाले प्रायोरिटी सेक्शन का निर्माण उल्लेखनीय रूप से पूर्ण किया गया है। 17 किमी लंबे प्रायोरिटी सेक्शन को अक्टूबर 2023 में प्रधानमंत्री द्वारा यात्री परिचालन के लिए हरी झंडी दिखाई गई थी। आवासन और शहरी मामलों (एमओएचयूए) और पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री  हरदीप सिंह पुरी ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा, "मुराद नगर से मोदी नगर नॉर्थ स्टेशन तक अतिरिक्त आरआरटीएस सेक्शन का शुभारंभ प्रगति की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में यह परियोजना 39;गति से प्रगति 39; का प्रतीक है, क्योंकि पूरे आरआरटीएस कॉरिडोर पर काम युद्ध स्तर पर जारी है। नमो भारत, नए भारत की प्रगति और सशक्तिकरण का माध्यम है।

यह सेमी-हाई-स्पीड रेल, विकास की मुख्यधारा के साथ एनसीआर के शहरी इलाकों को निर्बाध रूप से जोड़ रही है। नमो भारत शहरों को निर्बाध रूप से जोड़ने, सार्वजनिक परिवहन के उपयोग को बढ़ावा देने, बाजारों और अवसरों की पहुंच बढ़ाने और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने में एक अभूतपूर्व बदलाव की शुरुआत है। यह एक गेम-चेंजर है, जो स्मार्ट होने के साथ ही क्षेत्रों को और अधिक जोड़ने की दिशा में एक सराहनीय कदम है। आरआरटीएस जैसी परियोजना से परिवहन निर्बाध बनेगा, कामकाजी लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा मिलेगी और लोगो के जीवन की गुणवत्ता में भी बढ़ोतरी होगी।वहीं, एनसीआरटीसी के एमडी विनय कुमार सिंह ने कहा कि  प्रधानमंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व के तहत, भारत अत्याधुनिक शहरी पारगमन प्रणालियों को तैयार करने में उल्लेखनीय प्रगति का अनुभव कर रहा है, जिन्हें मेक-इन इंडिया के तहत देश के भीतर विकसित और निर्मित किया जा रहा है। इस अनूठी परियोजना के कार्यान्वयन में सराहनीय सहयोग देने के लिए हम, माननीय मंत्री (आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय), भारत सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार और हमारे सभी हितधारकों एवं भागीदारों के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हैं।

नमो भारत ट्रेन सेवा 8 मार्च 2024 (शुक्रवार) को सुबह 6:00 बजे से नए सेक्शन (मुरादनगर से मोदीनगर उत्तर) पर शुरू की जाएगी। यह ट्रेन सेवा साहिबाबाद से मोदीनगर उत्तर तक पूरे सेक्शन के लिए प्रातः 06:00 बजे से रात्रि 8:00 बजे तक यात्रियों के लिए उपलब्ध होगी। दोनों दिशाओं में पहली ट्रेन सुबह 06:00 बजे परिचालन शुरू करेगी और आखिरी ट्रेन टर्मिनल स्टेशनों यानी साहिबाबाद और मोदीनगर उत्तर से रात 8:00 बजे प्रस्थान करेगी।एनसीआरटीसी यात्रियों की सुविधा के लिए आरआरटीएस कनेक्ट मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से डिजिटल क्यूआर कोड-आधारित टिकट, 39;वन-टैप39; या ऑरिजिन-डेस्टिनेशन चयन द्वारा पेपर क्यूआर कोड-आधारित टिकट जैसे विभिन्न टिकटिंग विकल्प प्रदान कर रहा है। इसके साथ ही यात्री स्टेशनों पर लगाई गई टिकट वेंडिंग मशीनों (टीवीएम) से यूपीआई, नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड, डेबिट-क्रेडिट कार्ड और बैंक नोट के जरिए भी पेपर क्यू आर कोड जनरेट कर सकते हैं। इसके अलावा यात्री बेहतर यात्रा अनुभव के लिए आरआरटीएस कम्यूटर र कार्ड भी खरीद सकते हैं। भारत सरकार के एक राष्ट्र, एक कार्ड, दृष्टिकोण के अनुरूप, यह कम्यूटर कार्ड एक नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) है, जो सभी पारगमन प्रणालियों में यात्रा के लिए मान्य है और कहीं भी कार्ड से भुगतान करने में सक्षम है। प्रत्येक नमो भारत ट्रेन में 6 कोच हैं। एक स्टैंडर्ड कोच में 72 सीटें और प्रीमियम कोच में 62 सीटें उपलब्ध हैं। प्रत्येक नमो भारत ट्रेन में प्रीमियम कोच के साथ वाला डिब्बा महिलाओं के लिए आरक्षित है। इसके साथ ही, ट्रेन के अन्य डिब्बों में भी महिलाओं, दिव्यांगों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए सीटें आरक्षित हैं।
पीएम गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान के अनुरूप, आरआरटीएस स्टेशनों को हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, मेट्रो स्टेशनों, आईएसबीटी और सिटी बस स्टॉप के साथ सहजता से एकीकृत किया जा रहा है, जिससे सार्वजनिक परिवहन प्रणालियों के नेटवर्क का एक नेटवर्क तैयार किया जा रहा है। क्षेत्रीय गतिशीलता के लिए इस परिवर्तनकारी दृष्टिकोण का उद्देश्य आर्थिक गतिविधियों को विकेंद्रीकृत करना, रोजगार, शिक्षा और स्वास्थ्य देखभाल तक पहुंच में सुधार करना और यातायात की भीड़ और वायु प्रदूषण को काफी कम करना है। आरआरटीएस, एक अत्याधुनिक रेल-आधारित यातायात प्रणाली है, जिसके तहत चलने वाली नमो भारत ट्रेनों की डिजाइन गति 180 किमी प्रति घंटा और परिचालन गति 160 किमी प्रति घंटा है। आरआरटीएस कॉरिडोर, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में दूरियों को घटाने, समुदायों और गंतव्यों को करीब लाने के उद्देश्य से तैयार किया जा रहा है। 82 किमी लंबा दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर, दिल्ली और मेरठ के बीच यात्रा के समय को घटाकर एक घंटे से भी कम कर देगा। गाजियाबाद, मुरादनगर और मोदीनगर जैसे शहरी केंद्रों से गुजरते हुए, यह परियोजना रीजनल परिवहन में क्रांति लाने वाली है।

Related posts

20 करोड़ रूपए की ठगी करने वाले 51,500 रुपए के इनामी कुख्यात ठग कपिल देव राठी गिरफ्तार।

Ajit Sinha

कांग्रेस अध्यक्ष रहे राहुल गांधी आज ट्रैक्टर पर सवार होकर किसानों के समर्थन में पहुंचे विजय चौक

Ajit Sinha

ब्रेकिंग न्यूज़: हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष कुलदीप को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का प्रवक्ता नियुक्त।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//kaushooptawo.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x