Athrav – Online News Portal
अपराध गुडगाँव

विदेशी लोगों से लाखों की ठगी करने वाले फर्जी कॉल सेंटर का पुलिस ने किया पर्दाफाश, 7 अरेस्ट।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरुग्राम: यूएसए और कनाडा मूल के लोगों को तकनीकी सहायता देने के नाम पर ठगी करने वाले फर्जी कॉल सेंटर का थाना साइबर अपराध पूर्व गुरुग्राम की टीम ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस टीम ने छापेमारी के दौरान फर्जी कॉल सेंटर के मैनेजर सहित कुल 6 लोगों को अरेस्ट किया हैं। इनके कब्जे से 7 डेस्कटॉप कंप्यूटर सिस्टम सेट व 1 मोडम बरामद बरामद किए गए हैं। ये खुलासा आज एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने अपने कार्यालय के कांफ्रेंस हॉल में आयोजित प्रेस वार्ता में किए हैं।

एसीपी प्रीतपाल सांगवान ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि आज बुधवार निरीक्षक बिजेन्द्र, प्रबंधक थाना साइबर अपराध पूर्व, गुरुग्राम की टीम को अपने विश्वसनीय सूत्रों के माध्यम से एक सूचना मकान नं. 120 पी सेक्टर-42, गुरुग्राम में फर्जी कॉल सेंटर चलाकर यूएसए और कनाडा के लोगों के साथ धोखाधड़ी करके ठगी करने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई। उनका कहना हैं कि उपरोक्त सूचना पर तत्परता से कार्रवाई करते हुए प्रियांशु दीवान, एसीपी साइबर क्राइम , गुरुग्राम के नेतृत्व में निरीक्षक बिजेन्द्र, एसएचओ पीएस साइबर क्राइम ईस्ट व महिला निरीक्षक पूनम, एसएचओ पीएस सुशांत लोक , गुरुग्राम व एएसआई ललित साईबर सेल पूर्व की पुलिस टीमों की एक पुलिस रेङिग गठित की गई व कानूनी औपचारिकताओं को पूरा करते हुए गठित की गई पुलिस रेङिग टीम सूचना में बताए गए स्थान पर पहूंची जहां पर मकान के बेसमेन्ट में एक कॉल सैंटर चलाया जा रहा था । कॉल सैन्टर में मौके पर कुल 6 व्यक्ति मिले, जिन्होनें पुलिस टीम द्वारा पूछने पर अपना नाम *Thachang Tungshanao, विकास भड़ाना, पारस सूद, अविनाश, राम बिशुआ तथा अभिलाष सिंह (कॉल सैन्टर का मैनेजर)* बतलाया। पुलिस टीम द्वारा कॉल सैन्टर के मैनेजर से कॉल सैन्टर संचालन से सम्बन्धित दस्तावेज मांगे तो वो कोई दस्तावेज नही दिखा पाया। जिस पर पुलिस टीम द्वारा उक्त सभी आरोपितों के खिलाफ मुकदमा संख्या- 52 ,दिनांक 31.08.2022, धारा 420, 120 B & 66D, 75 IT ACT थाना साइबर गुरुग्राम में दर्ज किया गया।

उनका कहना है कि आरोपितों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि इस कॉल सेंटर का मालिक सचिन तनेजा विभिन्न माध्यमों से अमेरिका व कनाडा मूल के लोगों को तकनीकी सहायता जैसेः- NORTON ANTI VIRUS, MCAFEE, WBROO, WINDOW SUPPORT इत्यादि के लिए Advertisement pop-up भेजता है। कॉल सेंटर के मालिक द्वारा भेजे गए ADVERTISEMENT POPUP के कारण इनके पास (उपरोक्त आरोपी) Toll Free नम्बर पर कॉल प्राप्त होते और ये NORTON/ MCAFEE ANTIVIRUS, WBROO, WINDOWS SUPPORT व अन्य तकनीकी सहायता के नाम पर Dialler/X-Lite Application के माध्यम से बात करते और उन्हें अपने विश्वास में लेकर उनके (लोगों/पीड़ितों) कंप्यूटर का एक्सेस प्राप्त कर लेते और उन्हें तकनीकी स्पॉट देने के नाम पर 200-500 डॉलर ठग लेते है। ठगी किए गए डॉलर के ये गिफ्ट कार्ड खरीदवा कर रुपए प्राप्त कर लेते है। जिस मकान की बेसमेंट में ये यह फर्जी कॉल सेंटर चला रहे थे ये मकान कॉल सेंटर के मालिक सचिन तनेजा का है। ये सभी पहले एक कॉल सेंटर में काम करते थे और अब पिछले 01 साल से इस कॉल सेंटर में नौकरी कर रहे है। कॉल सेंटर का मालिक सचिन तनेजा इन्हें 40-45 हजार रुपए प्रतिमाह सैलरी देता है और सैलरी के अतिरिक्त इन्हें इन्सेन्टिव भी मिलता है। ये अब तक सैकङों लोगों को अपना शिकार बना चुके है, जिनसे करोड़ो रुपयों की ठगी कर चुके है। उनका कहना हैं कि पुलिस टीम द्वारा कॉल सैन्टर से अरेस्ट किए गए *उपरोक्त 6 आरोपितों के कब्जा से 7 डैक्सटॉप कम्पयूटर सिस्टम (कीबॉर्ड, माऊस, हैडफोन इत्यादि सहित) व 1 मोडम बरामद* किए है।

Related posts

पलवल ब्रेकिंग:1.5 करोड़ रूपए के गांजा पत्ती के साथ दो तस्करों को पुलिस ने किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: हरियाणा पुलिस, 53 कमांडो की टीमों के 424 पुलिस के जवान उतरे फील्ड में, प्रत्येक टीम में होंगे 8 कमांडो

Ajit Sinha

साइकिल पर कर्तव्य दिखाने वाले शख्स की हत्या करने के दो आरोपित को पुलिस ने किया अरेस्ट।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//haigrigo.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x