Athrav – Online News Portal
उत्तर प्रदेश दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय

पीएम नरेंद्र मोदी ने कमीशन की राजनीति को मिशन की राजनीति बनाया, स्वार्थ की राजनीति को सेवा का माध्यम बनाया-नड्डा 

अजीत सिन्हा / नई दिल्ली 
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज चौधरी लॉन, नरिया, बीएचयू (वाराणसी) मेंविभिन्न वर्गों के सामाजिक नेताओं के साथ संवाद किया और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश में हो रहे विकास के परिवर्तन को रेखांकित करते हुए भारतीय जनता पार्टी की कार्यसंस्कृति की चर्चा की। नड्डा ने कहा कि बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी अध्यात्म का उद्गम स्थान तो है ही, साथ ही साथ राजनीति के कार्य संस्कृति में बदलाव का भी उद्गम स्थान बन रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में काशी की जनता को एक कर्मयोगी जन-प्रतिनिधि मिला है जो देश के जन-जन के कल्याण के लिए कटिबद्ध हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में राजनीति की परिभाषा बदल गई है। प्रधानमंत्री ने कमीशन की राजनीति को मिशन की राजनीति बनाया, स्वार्थ की राजनीति को सेवा का माध्यम बनाया और तुष्टिकरण की राजनीति को सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की राजनीति बनाया। मोदी सरकार का सिद्धांत है – न्याय सबके लिए लेकिन तुष्टिकरण किसी के लिए भी नहीं। प्रधानमंत्री ने विकासवाद की संस्कृति शुरू की। काशी के लोग भाग्यशाली हैं कि वे इस परिवर्तन के गवाह हैं।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि 2014 से पहले देश की क्या स्थिति थी, यह सबको मालूम है। पहले हर जगह भ्रष्टाचार की बात होती थी, देश में आये दिन घपले-घोटाले के समाचार अखबारों की सुर्खियाँ बनते थे लेकिन आज मोदी के नेतृत्व में विकास की कहानियां देश का प्रतिनिधित्व करती हैं। उन्होंने का कि कोविड मैनेजमेंट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया को रास्ता दिखाने का काम भारत ने किया। मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में भारत आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ चला है। क्या किसी ने कल्पना भी की थी कि भारत दो-दो मेड इन इंडिया कोविड वैक्सीन का निर्माण करेगा और दुनिया की मानवता को बचाने का नया अध्याय लिखेगा? नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति एवं गृह मंत्री अमित शाह की कुशल रणनीति के बल पर धारा 370 धाराशायी हुआ। कांग्रेस ने माहौल को बिगाड़ने की भरपूर कोशिश की, गुपकर ने भी मिल कर चुनाव लड़ा लेकिन जम्मू-कश्मीर में पहली बार हुए डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट काउंसिल (DDC) के चुनाव में भाजपा न केवल सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी बल्कि सबसे ज्यादा वोट भी भाजपा को ही मिला। कहाँ गए जम्मू-कश्मीर में खून-खराबे की बात करने वाले? ये मोदी सरकार है जिसके अथक प्रयासों से अयोध्या में भगवान्श्री राम की जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनने का सपना साकार हो रहा है जबकि कांग्रेस की सरकार ने तो भगवान् श्री राम पर भी प्रश्नचिह्न लगा दिए थे। मुस्लिम बहनों को ट्रिपल तलाक के अभिशाप से भी आजादी मिली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आरक्षण की वर्तमान व्यवस्था में कोई फेर-बदल किये बगैर आर्थिक आधार पर देश के गरीबों के लिए 10% आरक्षण का प्रावधान किया। ये सारे बहुप्रतीक्षित कार्य इसलिए संपन्न हुए क्योंकि मोदी सरकार की नीति और नीयत स्पष्ट है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत देशभर में जहां 11 करोड टॉयलेट्स बने, वहीं उत्तर प्रदेश में लगभग 2 करोड टॉयलेट्स का निर्माण हुआ। यह केवल इज्जत घर नहीं बल्कि मातृशक्ति के सशक्तिकरण के माध्यम हैं। कांग्रेस ने जन-धन योजना का भी मजाक उड़ाया था लेकिन इंदिरा गांधी जी ने 1971-72 में बैंकों का राष्ट्रीयकरण करते हुए यह कहा था किससे गरीबों के लिए बैंक के दरवाजे खुलेंगे लेकिन 2014 तक देशभर में केवल पौने तीन करोड़ बैंक अकाउंट ही खुले थे। आज प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देशभर में 50 करोड़ खाताधारक हैं जिसमें से लगभग 41 करोड जन धन खाते हैं। इन 41 करोड़ जनधन खातों में से 7 करोड़ अकाउंट अकेले उत्तर प्रदेश में खुले हैं। इसी तरह उज्जवला योजना में भी जहां देश के 8 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को गैस कनेक्शन मिले वहीं उत्तर प्रदेश में 1.47 करोड़ गैस कनेक्शन वितरित किए गए। प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के तहत उत्तर प्रदेश के 1.,28 करोड़ घरों में बिजली पहुंचाई गई। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत अब तक देश के लगभग 9 करोड किसानों के
अकाउंट में 1.13 लाख करोड़ की राशि पहुंचाई जा चुकी है। जितना काम किसानों के लिए मोदी सरकार ने विगत छः वर्षों में किया, उतना कांग्रेस की सरकारों ने आजादी के 70 सालों में भी नहीं किया। नड्डा ने बुद्धिजीवियों का आह्वान करते हुए कहा कि उजाले की इज्जत तभी होती है जब अंधेरे की पहचान होती है। आज आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के करोड़ों गरीब लोगों का कल्याण हो रहा है। उज्ज्वला, उजाला, सौभाग्य आदि योजनाओं से महिला सशक्तिकरण के काम हो रहे हैं। वाराणसी में संत रविदास जी के नाम पर बहुत बड़ा उद्यान बन रहा है। पिछले अक्टूबर से लेकर अब तक में वाराणसी में प्रधानमंत्री ने 10,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को शुरू किया है। सारे उत्तर प्रदेश में विकास की ऐसी ही गाथा लिखी जा रही है। गोरखपुर में एम्स बन रहा है। विगत छः वर्षों में ही तीस नए मेडिकल कॉलेज खोलने की शुरुआत हुई है। आज पूरा उत्तर प्रदेश बदलती हुई विकास की तस्वीर देख रहा है। योगी आदित्यनाथ के सुशासन की बदौलत अब अपराधी छुपने के लिए बिल ढूँढ रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के शासन में विकास की कहानी के साथ साथ उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था में भी आमूलचूल परिवर्तन आया है। आज हम गर्व के साथ कह सकते हैं कि योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति में काफी सकारात्मक बदलाव आया है।

Related posts

दिल्ली के शराब घोटाले में सुप्रीम कोर्ट ने मनीष सिसोदिया और अरविंद केजरीवाल को दिया करारा झटका-बीजेपी

Ajit Sinha

जान गंवाने वाले 17 कोरोना वॉरियर्स के परिवारों को एक करोड़ की सम्मान राशि देने की दी मंजूरी- सीएम

Ajit Sinha

नई दिल्ली: स्थानीय लोगों के अनुसार, रेप के बाद बच्ची की हत्या की गई है और जबरन अंतिम संस्कार भी करा दिया गया।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//bauptost.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x