Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

नगर निगम कमिश्नर अनीता यादव के आदेश का नहीं हो रहा असर ओल्ड जॉन में अवैध निर्माणों का सिलसिला नहीं थम रहा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद :ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के अधिकारीयों की लापरवाही कहे या मिलीभगत,यह तो फिलहाल समझ तो नहीं आ रहा हैं,क्यूंकि नहरपार इलाके में पहले तो बड़े बड़े अवैध निर्माण बनवा देते और अपने बड़े अधिकारीयों को खुश करने के लिए थोड़ी बहुत तोड़फोड़ कार्रवाई करने के लिए कई- कई अर्थमूभर मशीनें और भारी पुलिस लेकर पहुंच जाते हैं। ऐसे कई मामले सामने आए हैं। वैसे नगर निगम की कमिश्नर अनीता यादव कहती हैं अवैध निर्माण को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस मामले में एसडीओ सुशील कुमार का कहना हैं कि नहरपार इलाके में कुछ दिन पहले काफी तोड़फोड़ की गई थी फिर से कुछ पॉइंट चिन्हित किए गए हैं उसपर फिर से अगले कुछ दिनों में भारी तोड़फोड़ की कार्रवाई की जाएगी। इस बाबत उन्होनें जिला प्रशासन से भारी पुलिस फोर्स मांगी हुई हैं।

खबर हैं कि नहरपार के वजीर रोड पर पिछले कई दिनों से काफी बड़ा अवैध निर्माण बनाया जा रहा हैं जिसमें बेसमेंट,ग्राउंड फ्लोर व फस्ट फ्लोर जोकि निर्माणधीन हैं,अगर नगर निगम का कभी भी इस अवैध निर्माण को तोडना पड़े तो वह कितना तोड़ सकता हैं यह तो कोई भी समझ दार इंसान को छोड़ों वेवकूफ इंसान भी नजदीक से समझ सकता हैं, कि इस अवैध निर्माण को सही तरह से पोकलेन मशीन से ही तोडा जा सकता हैं। इस अवैध निर्माण के सामने अर्थमूभर मशीन की हाइट काफी छोटी हैं। ऐसे में चाह कर भी नगर निगम के अधिकारी पूरे अवैध निर्माणधीन बिल्डिंग को नहीं तोड़ सकता हैं।

ऐसे में निगम प्रशासन की लापरवाही नहीं बल्कि मिलीभगत को दर्शाता हैं। इसी तरह से लोगों का कहना हैं कि पिछले दिनों नगर निगम प्रशासन के द्वारा की गई तोड़फोड़ की बड़ी कार्रवाई में सिर्फ छोटे -छोटे दुकानों को निशाना बनाया गया था पर जो लोग कई अवैध कालोनियों को विकसित कर रहे हैं उसमें आधा अधूरा कार्रवाई करके चले आए, एक एसआरएस चौक के समीप एक बड़ा अवैध कालोनी बसाया जा रहा हैं जिसमें छोटे -छोटे दर्जनों क़्वार्टर टाइप से कलोनीनाजरों के द्वारा मकानें बनाई जा रहीं हैं उसमें तो नगर निगम के लोग 4 अर्थमूभर मशीनें व भारी पुलिस बल लेकर ऐसे पहुंचे कि जैसे की सारे अवैध निर्माणों का आज ही धवस्त कर देंगें पर वहां पर मामूली तोड़फोड़ की कार्रवाई करके दुम हिलाते हुए नगर निगम के अधिकारी अपने दस्ते को लेकर आगे बढ़ गए।



लोग यह भी बतातें हैं कि ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के लोग अपने बड़े अधिकारी को धोखे में रखने के लिए हल्की फुलखी तोड़फोड़ की कार्रवाई करते हैं जिसकों कागजी कार्रवाई में दर्शाया जा सकें। पिछले दिनों नहरपार इलाके में कई ऐसे अवैध कालोनियां विकसित की जा रही हैं। उसमें मात्र दो अवैध कालोनियों में आधाअधूरा कार्रवाई की गई हैं जोकि नगर निगम अधिकारी की मिलीभगत होने का इशारा करता हैं। उधर, नगर निगम की कमिश्नर श्रीमती अनीता यादव प्रेस नोट जारी करके यह कहती हैं कि किसी कीमत पर अवैध निर्माणों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, नहरपार आकर वह तो देखे की बड़े -बड़े अवैध निर्माण और अवैध कालोनियों में अवैध निर्माण फिर से कैसे बन रहे हैं। इस मामले में एसडीओ सुशील कुमार व भवन निरीक्षक मनीष सहरावत का कहना हैं कि नहरपार इलाके में पहले भी तोड़फोड़ की कार्रवाई की गई हैं फिर से नहरपार इलाके में तोड़फोड़ की कार्रवाई की जाएगी । इसके लिए उन्होनें जिला प्रशासन से भारी पुलिस बल मांगी हुई हैं,जल्दी ही बचे खुचे अवैध निर्माणों को तोड़ दिया जाएगा ।

Related posts

फरीदाबाद ब्रेकिंग: “अब किसी को डांटना नहीं पड़ेगा आई लव यू’ और फांसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: अलमारी से मिले माता वैष्णो देवी के चांदी के 3 किलोग्राम वजन के छत्तर, सम्मान मंदिर कमेटी को लौटाए। 

Ajit Sinha

केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने पलवल में लगभग साढे 6 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का किया शिलान्यास

Ajit Sinha
//augailou.com/4/2220576
error: Content is protected !!