Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय

नई दिल्ली: स्वर्गीय भोलानाथ विज जी का व्यक्तित्व सभी को साथ जोड़ने वाला था-जे पी नड्डा

अजीत सिन्हा / नई दिल्ली
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज बुधवार को दिल्ली के स्वामी अमरदेव पब्लिक स्कूल, डेरावल नगर में स्वर्गीय भोलानाथ विज की पुण्यस्मृति में आयोजित सार्थक चौपाल कार्यक्रम को संबोधित किया और स्वर्गीय भोलानाथ विज जी के व्यक्तित्व और कृतित्व को नमन करते हुए सार्थक चौपाल कार्यक्रम की भूरि-भूरि सराहना की। कार्यक्रम में ऋषिपुरुष प्रेम कुमार गोयल, समाज सेवा के हमेशा समर्पित रहने वाले राजकुमार भाटिया, भाजपा के सांसद हर्षवर्धन, सार्थक चौपाल की मुख्य संरक्षिका श्रीमती किरण चोपड़ा, चांदनी चौक जिला भाजपा अध्यक्ष विकेश सेठी सहित कई गणमान्य लोग और बड़ी संख्या में माताएं-बहनें उपस्थित थीं। नड्डा ने कहा कि स्वर्गीय भोलानाथ विज जी का व्यक्तित्व सभी को साथ जोड़ने वाला था। उनका सारा जीवन लगातार सत्य की खोज में लगा रहा और महिलाओं के सशक्तिकरण एवं समाज सेवा के प्रति समर्पित रहा। वे सभी जगह एक अनुशासित कार्यकर्ता के रूप में कार्य करते रहे। कोरोना काल में भी जब हर कोई डर रहा था, संस्थाओं और संगठन का कार्य तक रुक गया था, उस समय श्रद्धेय भोलानाथ ने अपने जीवन की चिंता किए बगैर चौपाल का कार्य चलाए रखा और जन-जन की मदद की।

शायद इसी कारण वे बीमार पड़े लेकिन सेवा, तपस्या और जन-जन के कल्याण के प्रति समर्पित जीवन को आदर्श मानते हुए अपने प्राणों का उत्सर्ग कर दिया। मैं पिछले वर्ष भी चौपाल के कार्यक्रम में शामिल हुआ था लेकिन यह तो किसी के जेहन में भी नहीं था कि श्रद्धेय भोलानाथ जी इतनी जल्दी हम लोगों का साथ छोड़ कर चले जायेंगे। उनका जाना मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। मैं आयोजकों को धन्यवाद देना चाहता हूँ कि उन्होंने सार्थक चौपाल कार्यक्रम को बड़े आयाम पर ले जाने का प्रयास किया है, यही श्रद्धेय विज जी को हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि जब मैं संगठन के लिए काम के लिए 1986 में दिल्ली आया था तो पालक के रूप में राजकुमार भाटिया का सान्निध्य मिला और सम्माननीय भोलानाथ विज से उनके माध्यम से मैं मिला। विषम परिस्थितियों में मुझे श्रद्धेय भोलानाथ विज जी से सहायता मिली। उनका जो आभामंडल और व्यक्तित्व था, वह सबको साथ में लेकर चलने वाला था। उनकी मुस्कराहट, उनका धैर्य, संयम सब अद्भुत था। सही मायने में उन्हें जीवन का मिशन तब मिला, जब वे चौपाल के कार्यक्रम से जुड़े। साल 2010 में चौपाल कार्यक्रम शुरू हुआ। जब मेरे एक सहयोगी एक बड़े आर्थिक संकट में फंस गए थे, तब विज की सहायता से वे उस संकट से उबरे थे। आज वे हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उन्होंने समाज की सेवा के लिए अपना सब कुछ अर्पित कर दिया था। उन्होंने चौपाल के माध्यम से माताओं-बहनों को आत्मनिर्भर बनने का रास्ता दिखाया। कोरोना काल में भी उन्होंने माताओं-बहनों को की सेवा को अपना धर्म समझते हुए उनके सशक्तिकरण के लिए, युवाओं के सशक्तिकरण के लिए और समाज के अंतिम वर्ग के लोगों को विकास की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए अनवरत साधना की। नड्डा ने कहा कि कांग्रेस ने गरीबों के सशक्तिकरण के बारे में कभी नहीं सोचा। उन्होंने गरीबों को गरीब
बनाए की नीति पर काम किया, उन्होंने उनके सशक्तिकरण के लिए कोई भी कार्य नहीं किया। किसी योजना के तहत कुछ बाँट देना और बाद में उन पर अहसान जता कर वोट हड़पने की साजिश – यही तो कांग्रेस की नीति थी। नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद 43 करोड़ लोगों के बैंक खाते खोले गए, उज्ज्वला योजना के तहत लगभग 9 करोड़ गरीब महिलाओं को लकड़ी के चूल्हे के धुएं से मुक्ति दिलाई गई, हर घर में सौभाग्य योजना से बिजली पहुंचाई गई, अब हर घर में जल से नल पहुंचाया जा रहा है। देश के लगभग 55 करोड़ लोगों को आयुष्मान भारत का लाभ दिया गया है। सार्थक चौपाल ने माइक्रोफाइनेंसिंग के जरिये महिलाओं को जोड़ा है, यह महिला सशक्तिकरण की दिशा में
उठाया गया एक बहुत बड़ा कदम है। हमें अपनी सोच को और ऊपर उठाने की जरूरत हैं। यह तो अभी शुरुआत है, हमें इस कार्यक्रम को और आगे ले जाने की जरूरत है। इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाने में मैं हर संभव योगदान देने के लिए सदैव तत्पर रहूँगा।

Related posts

मॉडल स्कूल खोलने के नाम एक सम्पति दो अलग- अलग बैंकों से 6 करोड़ रूपए के लोन लेने के एक आरोपित को किया अरेस्ट 

Ajit Sinha

समजवादी पार्टी एमएलसी के फ्लैट में एक शख्स की हत्या, बर्थडे पार्टी में चली थी गोली

Ajit Sinha

इस महिला पुलिस को कौन नहीं चाहेगा सलूट करना, देखिए इस वायरल वीडियो में, इस वीडियो को लाखों लोग देख चुके हैं।  

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//kirteexe.tv/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x