Athrav – Online News Portal
दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय वीडियो

लाइव वीडियो सुने: पीएम मोदी ने अभी तक आतंकी हमले की निंदा करते हुए कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी है- पवन खेड़ा


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली: कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि 7 दिन बीत चुके हैं, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने पुंछ आतंकी हमले (20 अप्रैल) पर, भारतीय सेना के पांच जवानों हवलदार मनदीप सिंह, लांस नायक कुलवंत सिंह, लांस नायक देबाशीष, सिपाही हरकिशन सिंह, सिपाही सेवक सिंह के बलिदान के प्रति संवेदना और आदर के एक शब्द भी नहीं बोले हैं। कल, पीएम मोदी को मुंबई में एक ‘गोदी मीडिया’ कार्यक्रम में ‘एक लड़की की आत्महत्या’ पर एक भद्दा व बेहद फूहड़ मज़ाक करते हुए देखा गया था। पीएम मोदी ने अभी तक आतंकी हमले की निंदा करते हुए कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी है। उनकी चुप्पी से लगता है कि जैसे कुछ हुआ ही नहीं। यहां तक कि ख़बरों के मुताबिक इस बुज़दिल आतंकवादी घटना में तालिबान के लिंक का संकेत मिलता है।

1. भाटा धूरियन जंगल क्षेत्र, जो जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में आतंकवादियों के लिए एक कुख्यात घुसपैठ मार्ग बना हुआ है, उसके पास भीमबेर गली से सांगियोत की ओर बढ़ रहा एक भारतीय सेना के वाहन पर संभवत: 6-7 आतंकियों ने हमला किया था, 5 जवान मौके पर ही शहीद हो गए, एक उधमपुर के अस्पताल में घायल हैं। वाहन पर गोलियों के 50 से अधिक निशान देखे गए जो आतंकवादियों द्वारा की गई गोलीबारी की तीव्रता को दर्शाता है।
2. कल, जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के प्रतिबंधित आतंकवादी समूह पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट (PAFF) ने सेना के ट्रक पर घात लगाकर हमला करने से पहले की बॉडी कैमरा द्वारा शूट की गई, सोशल मीडिया पर एक कथित तस्वीर जारी की है। पीएएफएफ के एक प्रवक्ता तनवीर अहमद राठेर के नाम के साथ वायरल तस्वीरों के साथ एक टेक्स्ट भी जारी किया गया था, जिसमें दावा किया गया था कि ट्रक के चालक को गोलियों की पहली गोली से मार दिया गया था। खुफिया सूत्रों ने पहले बताया था कि जांचकर्ताओं का मानना है कि एक स्पॉटर या ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) ट्रक पर नजर रख रहा था।
3. कई मीडिया रिपोर्टों से अब संकेत मिलता है कि अगस्त 2021 में अमरीका के अफगानिस्तान छोड़ने के बाद NATO द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली अत्यधिक penetrative and ricocheting ‘स्टील कोर’ गोलियों को तालिबान से लश्कर- ए-तैयबा (एलईटी) और जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) जैसे आतंकवादी समूहों ने हथिया लिया है। बख़्तरबंद ढाल को भेदने में सक्षम चीनी निर्मित ‘स्टील कोर’ की गोलियों का इस्तेमाल अफगानिस्तान युद्ध के दौरान NATO द्वारा किया गया था ।
4. ग़ौरतलब है कि 28 फरवरी को जारी अमेरिका की SIGAR (Special Inspector General for Afghanistan Reconstruction) की नवीनतम रिपोर्ट कहती है: “…तालिबान अपने राजस्व प्रवाह को बढ़ाने के लिए पकड़े गए हथियारों और उपकरणों के एक हिस्से को बेच सकता है। वैकल्पिक रूप से, तालिबान का पूरे Afghan National Security Forces (ANDSF) शस्त्रागार पर नियंत्रण नहीं हो सकता है, जिसका अर्थ यह हो सकता है कि उपकरण तस्करों या बंदूक डीलरों द्वारा चुराए या तस्कर किये जा सकते हैं और खुले बाजार में बेचे जा सकते हैं।
5. न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, अमेरिका निर्मित पिस्तौल, राइफल, ग्रेनेड, दूरबीन और night-vision goggles सहित अमेरिकी निर्मित उपकरण अफगान बंदूक डीलरों के हाथों में पहुंच गए हैं।
6. इस संदर्भ में, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि मोदी सरकार ने भारत की पिछली विदेश नीति के रुख को झुठलाते हुए तालिबान के साथ बातचीत शुरू कर दी है। 2023 के बजट में, मोदी सरकार ने अफगानिस्तान के लिए 200 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की। दिसंबर 2022 में काबुल में भारतीय तकनीकी टीम के सदस्यों ने तालिबान के शहरी विकास मंत्री हमदुल्ला नोमानी से मुलाकात की और बातचीत की। तालिबान ने देश में भारतीय परियोजनाओं के नवीनीकरण का आह्वान किया और भारत को न्यू काबुल टाउन में निवेश आमंत्रित किया, वीजा मुद्दे और छात्रवृत्ति को भी उठाया। (https://twitter.com/sidhant/status/1599355804943273984)

अतीत में कवच भेदी गोलियों की कई घटनाएं: लेकिन मोदी सरकार ने कोई सबक नहीं सीखा

Ø कवच भेदी गोलियों का उपयोग पहली बार कश्मीर में दिसंबर 2017 में पाया गया था जब जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकवादियों ने लेथापोरा में सीआरपीएफ शिविर पर आत्मघाती हमला किया था।

Ø जून 2019: अनंतनाग में सीआरपीएफ के जवानों पर हमले में आतंकवादियों द्वारा कवच भेदी गोलियों का इस्तेमाल किया गया था।

Ø 3 अप्रैल, 2019: सांबा से चार चीनी ग्रेनेड और तीन पिस्तौल जब्त किए गए, जिन्हें पाकिस्तान की तरफ से एक ड्रोन द्वारा गिराया गया था। 7 जनवरी 2019 को बालाकोट सेक्टर में मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों के पास से मैगजीन के साथ एक चीन निर्मित पिस्टल और पांच राउंड और दो चाइनीज हैंड ग्रेनेड बरामद किए गए थे.

Ø 24 दिसंबर 2022: सेना ने उरी सेक्टर में 12 चीनी पिस्तौल और 9 चीन निर्मित हथगोले बरामद किए

पुंछ और राजौरी में हाल ही में हुए आतंकी हमले –

Ø जनवरी 2023: बम धमाकों की दो अलग-अलग घटनाओं में धंगरी गांव में लक्षित आतंकी हमलों में छह लोगों की मौत हो गई। बमों की योजना कश्मीरी पंडितों के नरसंहार के प्रयास के लिए बनाई गई थी।

Ø अगस्त 2022: दरहल इलाके के परगल गांव में आत्मघाती हमला, जिसमें 4 जवान शहीद हो गए और दो अन्य घायल हो गए। कवच भेदी गोलियों का इस्तेमाल किया गया।

Ø अक्टूबर 2021: तीन सप्ताह से अधिक समय तक जारी एक तलाशी अभियान के दौरान वन क्षेत्र में चार दिनों के भीतर आतंकवादियों के साथ दो बड़ी मुठभेड़ों में 9 सैनिक मारे गए।

Ø अगस्त 2021: राजौरी में एक घर पर ग्रेनेड हमले में एक नाबालिग लड़के की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस आतंकवाद से लड़ने में राष्ट्र के साथ एकजुट है। हम यह ज्वलंत प्रश्न पूछना चाहते हैं:-
1. पुंछ आतंकी हमले पर चुप क्यों है मोदी सरकार? क्या यह सच नहीं है कि हमारे सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर कम से कम 18 बड़े आतंकी हमले हुए हैं जिनमें सीआरपीएफ कैंप, आर्मी कैंप, वायुसेना स्टेशन और सैन्य स्टेशन शामिल हैं- पुलवामा, पंपोर, उरी, पठानकोट, गुरदासपुर, अमरनाथ यात्रा हमला, सुंजवान सेना शिविर, जहाँ हमारे सैकड़ों कीमती जीवन खो गए हैं?
2. यह देखते हुए कि पुंछ हमले का तालिबान से संबंध है, क्या मोदी सरकार के लिए तालिबान के साथ अपनी कूटनीतिक पहल और जुड़ाव शुरू करना उचित है?
3. क्या यह सच नहीं है कि मोदी सरकार ने हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाल दिया है, जिससे की जम्मू-कश्मीर में 1,249 आतंकी हमले हुए, जिनमें 350 नागरिक मारे गए और 569 जवान शहीद हुए हैं?

Related posts

नौकर और उसके दोस्त को पुलिस ने अरेस्ट कर चोरी के 24 लाख 20 हजार रूपए को किया बरामद।

Ajit Sinha

केजरीवाल सरकार जीएसटी परिषद् की बैठक में कपडे पर बढ़े टैक्स का करेगी विरोध, टैक्स वापस लेने की करेगी मांग

Ajit Sinha

6 जनवरी को पानीपत में भारत जोड़ो रैली रिकार्डतोड़ होगी – दीपेंद्र हुड्डा

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//shooltuca.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x