Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच,एसटीएफ में तैनात रहा था विकास चौधरी की हत्या की साजिश रचने वाला हवलदार राजू ,गिरफ्तार

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद: हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी की हत्या साजिश रचने के आरोप हरियाणा पुलिस के एक हवलदार को एसआईटी ने गिरफ्तार किया हैं। पकड़े गए हवलदार राजू अपने करीबी दोस्त प्रदीप धारीवाल के जरिए विकास चौधरी के बारे में जानकारी हासिल करता था और कौशल गैंग के सरगना कौशल व कुख्यात शूटर सचिन खेड़ी तक पहुंचाता था। इसके बाद गैगेस्टर सचिन विकास चौधरी की गतिविधियों पर बारीकी से रेकी किया था। हवलदार राजू गैंगेस्टर कौशल, सचिन खेड़ी, अमित डागर नाहरपुर रूपा ,नीरज फरीदपुर को सूचना देने के एवज मोटी रकम लेता था। एक बाद उसने कौशल की मां से तीन लाख रूपए लिए थे।

पुलिस के मुताबिक हवलदार राजू और विकास चौधरी का पीएसओ प्रदीप धारीवाल आपस में अच्छे दोस्त हैं,आरोपी प्रदीप धारीवाल तक़रीबन 5 -6 सालों तक हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी के साथ रहा था। हवलदार राजू व पीएसओ प्रदीप धारीवाल ने आपस में विचार विमर्श किया कि विकास चौधरी को धमकी देकर इससे अच्छी खासी रकम ऐंठी जा सकती हैं। क्यूंकि वह जनता था कि हवलदार राजू गैंगेस्टर कौशल,सचिन खेड़ी, अमित डागर ,नीरज के संपर्क में हैं और वह इस कार्य को आसानी से करवा सकता हैं। और हवलदार राजू ने ऐसा ही किया।पीएसओ प्रदीप धारीवाल ने विकास चौधरी और मनोज अग्रवाल का फोन नंबर गैंगेस्टर कौशल हवलदार राजू को मुहैया करवाया और राजू ने गैंगेस्टर कौशल को दोनों के नंबर दे दिए। इसके बाद धमकी देने का खेल शुरू हुआ।

उस समय तक आरोपी हवलदार राजू व प्रदीप धारीवाल इस बात से पक्के रहे होंगें की कौशल तो दुबई में हैं इस लिए उनका यह साजिश एक राज बन कर रह जाएगी। जब पुलिस ने कौशल को एसटीएफ ने पकड़ा तो इन सभी कच्ची ईटों की दीवार धीरे-धीरे ढहती हुई चली गई और सभी लोग एक-एक करके पुलिस के हथ्थे चढ़ गए। पुलिस ने पहले ही खुलासा किया था कि कौशल की रंगदारी को लेकर कई बार दोनों के बीच फोन पर गाली गलौज हुई थी। इसके बाद गैंगेस्टर कौशल ने विकास चौधरी की हत्या की साजिश रची और अपने शूटरों से उसकी हत्या करवा दी।



क्राईम ब्रांच फरीदाबाद आरोपी अमित डागर को प्रोडेक्शन वारंट पर लेकर पहले ही पूछताछ कर चुकी है। आरोपी नीरज को भौंडसी जेल से प्रोडेक्शन वारंट पर लेकर 4 दिन का पुलिस रिमांड लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी प्रदीप धारीवाल को विकास चौधरी हत्या केस में अभी-अभी गिरफतार कर लिया गया है। जिससे पूछताछ की जाएगी।प्रोडेक्शन वारंट पर लेकर की जा रही पूछताछ में आरोपी नीरज ने बताया कि कौशल और वह भौंडसी जेल के एक ही ब्लाक में बंद थें। जिससे उनकी दोस्ती हो गई थी। जोकि अमित डागर एवं सचिन के भी संपर्क में रहता था। आरोपी हवलदार राजू हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी की हत्या के बाद भी गैंगेस्टर कौशल व सचिन खेड़ी के संपर्क में था और सभी जानकारियां फोन पर आरोपी कौशल व सचिन को उपलब्ध कराता था। आपको जानकारी के लिए बतादें कि हवलदार राजू क्राइम ब्रांच,सेक्टर -30 के इंचार्ज रहे नरेंद्र चौहान व सतेंद्र रावल के समय में क्राइम ब्रांच ,सेक्टर -30 में तैनात रहा था। खबर के मुताबिक इंस्पेक्टर नरेंद्र चौहान के समय में भी हवलदार राजू के कारनामें उजागर हुए थे वह कौन सा कारनामा था, यह तो नहीं मालूम पर फंसा जरूर था

पर उस दौरान पुलिस ऑफिसर ने इस लिए माफ़ कर दिया था कि रोजी रोटी का सवाल हैं पर हवलदार राजू सुधरने के बजाए अपनी गलत हरकतों का सिलसिला लगातार जारी रखा और वह एक बड़ी वारदात में अपनी भूमिका निभा डाला। इसके बाद उसका तबादला सेक्टर-56 के क्राइम ब्रांच में हो गया। इसके थोड़ी दिनों के बाद उसका तबादला हरियाणा एसटीएफ में हो गया और इसके थोड़ी दिनों के बाद फिर से उसका तबादला पंचकूला में हो गया। इसके बाद उसने पंचकूला से तबादला करवा कर फरीदाबाद लाइन में आ गया और वह पिछले दो महीनों से छुट्टी पर चल रहा था। यह भी मालूम हुआ हैं कि हवलदार राजू ने दो शादियां की हुई हैं, जिनमें पहली पत्नी को तलाक दे कर,हरियाणा पुलिस की एक महिला पुलिस कर्मी के साथ शादी रचा ली। आरोपी हवलदार राजू गांव दीघौट,पलवल का रहने वाला हैं।

Related posts

फरीदाबाद : विनिर्माण क्षेत्र में सुधारों को लेकर तीन दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ, कार्यशाला का संचालन डाॅ. ओम प्रकाश मिश्रा ने किया।

Ajit Sinha

फरीदाबाद : ग्रीन फिल्ड कालोनी में नवरात्रों के पावन अवसर दो अलग -अलग जगहों पर विशाल भंडारे का आयोजन किया गया।

Ajit Sinha

सेक्टर -10, रिहायशी क्षेत्र में चल रहे दो दर्जन से अधिक प्रतिष्ठानों को कल सील किए जाएंगे

Ajit Sinha
//zuhempih.com/4/2220576
error: Content is protected !!