Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

सीएम विंडो पर आई शिकायतों के निपटारे में गुरूग्राम जिला पूरे हरियाणा प्रदेश में पहले स्थान पर आया है: राकेश गुप्ता

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम: सीएम विंडो पर आई शिकायतों के निपटारे में गुरूग्राम जिला पूरे हरियाणा प्रदेश में पहले स्थान पर आया है। इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी प्रोजेक्ट के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डा. राकेश गुप्ता ने उपायुक्त अमित खत्री तथा जिला प्रशासन की टीम को बधाई दी है।डा. गुप्ता आज सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति की समीक्षा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक के माध्यम से कर रहे थे। इस समीक्षा के दौरान बताया गया कि गुरूग्राम जिला सीएम विंडो पर आई शिकायतों के निपटारे में प्रदेश में टाॅप पर है। बताया गया कि गुरूग्राम में सीएम विंडो पर मिली तीन महीने से पुरानी कोई भी शिकायत लंबित नहीं है। सीएम विंडो पर गुरूग्राम में 5859 शिकायतें मिली जिनका निपटारा समयबद्ध तरीके से किया गया। इस कार्य के लिए नगराधीश मनीषा शर्मा जिला मंे नोडल अधिकारी नियुक्त हैं।

इस विषय में गुरूग्राम को 81.69 स्कोर मिला है। सीएम विंडो के मामले में गुरूग्राम के बाद करनाल का दूसरा स्थान है जिसे 80.83 स्कोर हासिल हुआ है। इसी प्रकार सोशल मीडिया ग्रीवेंस टैªकर में भी गुरूग्राम जिला में सुधार हुआ है। इस मद में गुरूग्राम जिला करनाल और पंचकूला के बाद तीसरे स्थान पर आ गया है जबकि पिछली बैठक के समय गुरूग्राम का प्रदेश में 7वां स्थान था। पिछली बैठक के बाद अब तक जिला में सोशल मीडिया के माध्यम से 841 शिकायतें प्राप्त हुई जिनका अधिकांश का निपटारा राईट टू सर्विस एक्ट में दी गई अवधि में किया गया और जिला का फाईनल स्कोर 92 रहा। डा. गुप्ता ने आज पीसी पीएनडीटी एक्ट, पोक्सो एक्ट, सीएम विंडो व सोशल मीडिया ग्रीवेंस टैªकर, हरपथ एैप व पोर्टल, हरियाणा वीजन जीरो, महिला सुरक्षा, स्वच्छ सर्वेक्षण अंतोदय सरल प्रोजेक्ट, उच्चत्तर शिक्षा, सक्षम हरियाणा (शिक्षा) तथा रोजगार एवं स्किल अपग्रेडेशन की योजना ओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान बताया गया कि जनवरी 2020 से हरपथ एैप दोबारा से लांच किया गया है। इससे पहले हरपथ पोर्टल अक्तुबर 2019 में लांच किया गया था। गुरूग्राम जिला में हरपथ पोर्टल तथा एैप के माध्यम से 6566 शिकायतें प्राप्त हुई जिनमंे सेे 6406 पर कार्यवाही की गई।
इनमें से 2753 शिकायतों का समाधान किया गया है और गलत ढंग से शिकायत को बंद करने के कारण 2022 शिकायतों को पुनः खोला गया है। डा. राकेश गुप्ता ने आज की बैठक में सभी जिलों तथा विभागों को हरपथ पोर्टल तथा एैप के माध्यम से मिली शिकायतों का 27 मार्च तक निपटारा करने के आदेश दिए हैं। हरपथ पोर्टल तथा एैप पर सड़को में गड्ढे की शिकायत फोटो के साथ अपलोड की जाती है और फोटो या छोटी वीडियो क्लिप अपलोड करते समय शिकायतकर्ता के फोन का जीपीएस आॅन होना चाहिए ताकि उसकी लोकेशन निपटारा करने वाली ऐजेंसी को पता चल जाए। सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए लागू किए जा रहे हरियाणा वीजन जीरो प्रोजेक्ट की समीक्षा के दौरान बताया गया कि फरवरी माह में गुरूग्राम जिला में सड़क दुर्घटनाओं में मृत्यु दर 17.8 प्रतिशत कम हुई है। इस मद में गुरूग्राम जिला जनवरी माह में प्रदेश में 21वें स्थान पर था लेकिन फरवरी में इसमें सुधार होने के कारण अब गुरूग्राम प्रदेश में छठे स्थान पर आ गया है। आंकड़ो के अनुसार फरवरी माह मंे गुरूग्राम जिला में 88 कै्रश हुए जिनमें 73 घायल और 37 गंभीर रूप से घायल हुए, जबकि जनवरी माह में 85 कै्रश की घटनाएं हुई थी जिनमें 69 घायल और 45 गंभीर रूप से घायल हुए थे। 

Related posts

पुलिस की हर कोई क्यों कर रहा तारीफ, खोए हुए 65 फोनों को तलाश कर उनके मालिकों को लौटाएं मोबाइल फोन: सीपी

Ajit Sinha

प्रियंका पिलानिया की उपकप्तानी में भारतीय महिला कबड्डी टीम ने रचा इतिहास, गोल्ड मेडल पर किया कब्ज़ा

Ajit Sinha

नकली सीबीआई अधिकारी बनकर शख्स का अपहरण करने, लाखों रुपए व 300 ग्राम सोना ऐंठने के एक आरोपी गिरफ्तार।

Ajit Sinha
//vekseptaufin.com/4/2220576
error: Content is protected !!