Athrav – Online News Portal
खेल गुडगाँव

डीएवी नेशनल स्पोर्ट्स -2019 में गुरुग्राम की गौरिका सांगवान ने आर्चरी में कांस्य पदक जीतकर किया जिला का नाम रोशन।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम:आज से पानीपत में हल्की बूंदाबांदी के बीच शुरू हुए डीएवी नेशनल स्पोर्ट्स 2019 ( अंडर-19 गर्ल्स) में पहले ही दिन गुरुग्राम जिला की अच्छी शुरुआत हुई और खेल प्रतियोगिता के पहले दिन खेली गई अर्चरी प्रतियोगिता में गुरुग्राम के डीएवी पब्लिक स्कूल सेक्टर 14 की 11वीं की छात्रा गौरिका सांगवान ने आर्चरी के रिकर्व राउंड में कांस्य पदक हासिल कर जिला का नाम रोशन किया है। पूरे देश से अपने-अपने जोन में जीत कर आई डीएवी स्कूलो की अंडर-19 लड़कियों की यह राष्ट्रीय प्रतियोगिता 27 से 30 नवंबर तक हरियाणा के पानीपत में आयोजित हो रही है। इसी प्रकार की लड़कों की प्रतियोगिताएं दिसंबर में हैदराबाद में होँगी।

गुरुग्राम से खिलाड़ियों के साथ गई खेल प्रशिक्षका मालती ने बताया कि आर्चरी के रिकर्व राउंड में डीएवी पब्लिक स्कूल सेक्टर- 14 की छात्रा गौरिका सांगवान ने पहले फरीदाबाद में डीएवी जोनल प्रतियोगिता में रजत पदक हासिल किया था और उसका डीएवी नेशनल स्पोर्ट्स के लिए दिल्ली एनसीआर की टीम में चयन हुआ था। उस टीम में गुरुग्राम जिला से अकेली गौरिका ही थी, अन्य तीन खिलाड़ी फरीदाबाद तथा नोएडा से थी। उन्होंने बताया कि जोनल लेवल के बाद अब अंडर-19 लड़कियों के राष्ट्रीय स्तर के मुकाबले डीएवी नेशनल स्पोर्ट्स 2019 आज से 30 नवंबर तक पानीपत के डीएवी थर्मल स्कूल में आयोजित किए जा रहे हैं, जबकि लड़कों के अंडर-19 डीएवी नेशनल दिसंबर में हैदराबाद में होंगे। उन्होंने बताया कि आज से शुरू हुई प्रतियोगिता में सबसे पहले आर्चरी का रिकर्व ग्राउंड का मुकाबला हुआ जिसमें डीएवी पब्लिक स्कूल सेक्टर 14 की छात्रा गौरिका सांगवान ने कांस्य पदक हासिल कर जिला का नाम रोशन किया। टीम मुकाबलों में दिल्ली एनसीआर जोन की टीम को स्वर्ण पदक मिला है, जिसकी गौरिका भी एक सदस्य थी।


उन्होंने बताया कि डीएवी नेशनल स्पोर्ट्स 2019 में पहले 4 स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी अब स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसजीएफआई) नेशनल में डीएवी संस्था की तरफ से एक टीम के रूप में भाग लेंगे। इस लिहाज से गौरिका भी एसजीएफआई नेशनल स्पोर्ट्स में खेलने जाएगी, जो संभवत जनवरी माह में रांची में आयोजित होंगे। उन्होंने कहा कि गौरिका पढ़ाई में भी अच्छी है और 11वीं नॉन मेडिकल संकाय की छात्रा है। पढ़ाई का प्रेशर होने और प्रेक्टिस के लिए कम समय निकाल पाने के बावजूद भी वह आर्चरी में अच्छा प्रदर्शन कर रही है। खेल प्रशिक्षक मालती ने बताया कि स्कूल की प्राचार्या श्रीमती अपर्णा एरी ने भी इस उपलब्धि पर गौरिका को बधाई दी है और आशा जताई है कि वह एसजीएफआई नेशनल में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगी। प्राचार्या ने कहा कि पढ़ाई के साथ साथ खेल भी विद्यार्थी के ऑल राउंड पर्सनैलिटी डेवलपमेंट में सहायक होते हैं और फिर अब भारत सरकार ने सभी को स्वस्थ रखने के लिए फिट इंडिया मूवमेंट भी चला रखी है। गौरिका से जब उसके प्रदर्शन के बारे में बात की गई तो उसने कहा कि हालांकि एसजीएफआई नेशनल बड़ा मुकाबला है लेकिन वह और ज्यादा मेहनत से अभ्यास करके उसमें भी पदक जीतने की कोशिश करेंगी। वह गुरुग्राम के सेक्टर 45 में आर्चरी कोच कपिल कौशिक द्वारा चलाई जा रही द्रोणाचार्य अकादमी में अभ्यास करती हैं। कोच कपिल ने भी उसे इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

Related posts

रेरा के हस्तक्षेप के बाद सुलझा यह विवाद: आईएलडी ट्रेड सेंटर में दुकानदारों को मिला रखरखाव का हक।

Ajit Sinha

रेवेन्यू विभाग से सेवानिवृत हुए,ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज के पहले जिलाध्यक्ष बने थे, वेदपाल सैनी

Ajit Sinha

25 फरवरी को आयोजित होने जा रही गुरुग्राम मैराथन बनी अंतरराष्ट्रीय इवेंट: डीसी

Ajit Sinha
//oopsiksaicki.com/4/2220576
error: Content is protected !!