Athrav – Online News Portal
गुडगाँव स्वास्थ्य हरियाणा

गुरुग्राम के पारस अस्पताल पर एफआईआर दर्ज कर लगाया 16 लाख रूपए से अधिक का जुर्माना

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चण्डीगढ़: आज के इस सूचना प्रौद्योगिकी के युग में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा आरम्भ की गई सीएम विंडो जहां लोगों के लिए एक ओर आसान, असरदार व भरोसेमंद व्यवस्था सिद्ध हो रही है तो वहीं दूसरी ओर आरटीआई एक्टिविस्ट व व्हिसल ब्लोअर्स का भी इसके प्रति विश्वास बढ़ा है क्योंकि उनकी शिकायत पर गुरुग्राम के पारस अस्पताल पर एफआई आर दर्ज व 16 लाख रुपये से अधिक का जुर्माना लगाया गया है। मुख्यमंत्री के ओएसडी  भूपेश्वर दयाल, जो चंडीगढ़ मुख्यालय से निरंतर सीएम विंडो व मुख्यमंत्री के ट्विटर हैंडल पर आई शिकायतों व सुझावों पर संज्ञान लेकर समाधान करवाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं,के अनुसार मुख्यमंत्री की इस व्यवस्था पर आम जनता के साथ-साथ अब  आरटीआई एक्टिविस्ट व व्हिसल ब्लोअर्स का भी विश्वास बढ़ा है। उन्होंने बताया कि गुरुग्राम के आरटीआई एक्टिविस्ट व व्हिसल ब्लोअर्स के ग्रुप ‘अधिकार’ के एक सदस्य रमेश यादव ने सीएम विंडो पर शिकायत की थी कि गुरुग्राम के सेक्टर-43 स्थित पारस अस्पताल में पार्किंग के नाम पर एक माफिया अवैध वसूली कर रहा है।

अस्पताल के बेसमेंट-2 पर अस्पताल प्रबंधन ने नगर निगम से प्रॉपर्टी टैक्स में सौ फीसदी छूट ले रखी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में हमने सेक्टर-43 के चौकी इंचार्ज और उसके बाद पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम को भी शिकायत दी थी, परंतु उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। अब भी अस्पताल में पार्किंग के नाम पर अवैध वसूली जारी है । लगता है कि पुलिस व अस्पताल प्रशासन की मिलीभगत से माफिया यह अवैध वसूली कर रहा है। भूपेश्वर दयाल ने बताया कि सीएम विंडो द्वारा इस मामले में कड़ा संज्ञान लिया गया और जिस पर नगर निगम गुरुग्राम के अधिकारियों की एक टीम ने अस्पताल साइट का दौरा किया और पाया कि अस्पताल प्रबंधन ने बेसमेंट-2 का फ्री पार्किंग के लिए उपयोग करते हेतु नगर निगम से प्रॉपर्टी टैक्स में सौ फीसदी छूट ले रखी है। परंतु वर्तमान में इसका उपयोग अस्पताल द्वारा फ्री पार्किंग के लिए नहीं बल्कि अन्य कार्यों के लिए किया जा रहा है। अस्पताल के पास इसके अलावा व्यावसायिक पार्किंग के लिए कोई अन्य जगह उपलब्ध नहीं है। उन्होंने बताया कि नगर निगम के अधिकारियों द्वारा अस्पताल की ओर से उपलब्ध करवाए गए दस्तावेजों के आधार पर 16,27,582 रुपये का प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने के आदेश जारी किये। उन्होंने बताया कि अस्पताल प्रबंधन ने 25 जनवरी, 2021 को इसमें से 12,89,647 रुपये की राशि जमा करवा दी तथा शेष राशि को माफ करने का अनुरोध किया। नगर निगम आयुक्त द्वारा इसकी पुनर्गणना की गई और पाया गया कि 16,27, 582 रुपये के प्रॉपर्टी टैक्स की गणना खुली जगह में पार्किंग के आधार पर की गई है जबकि यह कवर्ड एरिया से की जानी चाहिए, जिसे बाद में ठीक कर लिया गया है।   भूपेश्वर दयाल ने बताया कि पुलिस ने भी अस्पताल प्रबंधन के विरुद्ध पुलिस थाना सुशांत लोक में 29 जुलाई, 2021 को आईपीसी की धारा 384 के तहत एफआईआर संख्या 0178 दर्ज की है, जिसकी एक प्रति आरटीआई एक्टिविस्ट रमेश यादव को निशुल्क उपलब्ध करवा दी गई है और उन्होंने सीएम विंडो की कार्रवाई पर संतुष्टि जाहिर की है। इसी प्रकार, एक अन्य मामले में भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय, खानपुर कलां (सोनीपत) की सेवानिवृत्त प्रोफेसर डॉ. शंकुतला सहारण ने सीएम विंडो पर शिकायत दी थी कि विश्वविद्यालय द्वारा पहली जुलाई, 2019 से 31 दिसम्बर, 2019 तक की अवधि का 11190 रुपये की दर पर 5 प्रतिशत के हिसाब से बेसिक पेंशन में डीए नहीं दिया गया। इसके अलावा, उनका 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुसार पहली जनवरी, 2016 से 31 मार्च, 2019 की अवधि का बकाया तथा एलटीसी भी विश्वविद्यालय की ओर लंबित है।  भूपेश्वर दयाल के अनुसार सीएम विंडो द्वारा इस संबंध में जब विश्वविद्यालय के अधिकारियों को सम्पर्क किया गया तो उन्होंने अपनी गलती मानते हुए बताया कि प्रोफेसर डॉ. शंकुतला सहारण के सारे बकाया की राशि में से 19,653 रुपये टीडीएस काटकर जो 1,76,874 रुपये बनती है, को चेक नम्बर 1,07,883 के माध्यम से उनको भेज दिए गए हैं।

Related posts

हरियाणा ब्रेकिंग: शिक्षा और स्वास्थ्य तंत्र को पूरी तरह बर्बाद करना चाहती है बीजेपी-जेजेपी सरकार- भूपेंद्र सिंह हुड्डा

Ajit Sinha

चुनावी लॉलीपॉप: हर हाथ को काम, हर महिला को सुरक्षा और बुर्जगों को देंगे सम्मान: दुष्यंत चौटाला

Ajit Sinha

गावों को 24 घंटे बिजली मुहैया करवाने और शहरों में स्मार्ट मीटर लगाने के कार्य में भी तेजी लाई जाए: मुख्य सचिव

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//kirteexe.tv/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x