Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद : जेल के 18 कैंदियों के 14 दिवसीय आध्यात्मिक चारित्रिक विकास सुधार पर लिखी गई है यह पुस्तक

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: शहर के प्रख्यात उद्योगपति और सार्क चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज जनरल असेंबली मेंबर के सदस्य एस एस बांगा द्वारा संपादित पुस्तक ‘तिहाड़ से हरिद्वार’ तक विमोचन दिल्ली के कॉन्सिट्यूशनल क्लब में किया गया। यह पुस्तक तिहाड़ जेल के 18 कैदियों के 14 दिवसीय आध्यात्मिक चारित्रिक विकास बंदी सुधार पर ध्यान केंद्रित कर लिखी गई है। इसका लोकपर्ण राज्यसभा सांसद सरदार त्रिलोचन ङ्क्षसह, प्रभात झा, महामंडलेश्वर मार्तण्डपुरी, योगऋषि स्वामी आशुतोष महाराज, दीपक झा ने सहित बड़ी संख्या में सामाजिक, आध्यात्मिक, आर्थिक और राजनीतिक जगत के दिग्गजों के बीच किया गया है।
उद्योगपति एस एस बांगा ने बताया कि यह पुस्तक नहीं एक यात्रा है। एक यात्रा अंधकार से प्रकाश, असत्य से सत्य की ओर ले जाने की। जब पहली बार यह पुस्तक पर चर्चा हो रही थी। मुझे लगा कि उद्योगजगत के क्षेत्र में सक्रिय मेरे जैसे शख्स के लिए यह कैसे संभव हो सकता है। मेरा मानना है कि हर शख्स में आध्यात्म, सुधार आदि का कौतूहल रहता है। इस कौतूहल ने ही मुझे पुस्तक के संपादन को प्रेरित किया। यह पुस्तक भारतयी जेल, कैदी आदि के बारे में कई अनजानी तथ्य बताती है। इस पुस्तक में जब 18 कैदी एक आध्यात्मिक, चारित्रिक सुधार यात्रा पर निकलते हैं तो उन 14 दिनों में क्या हुआ। वह संपूर्ण घटनाक्रम को इस पुस्तक में दिया गया है। साथ ही देश-विदेश की कुछ जेलों के बारे में जानकारी भी दी गई है। उद्योगपति बांगा की एक अन्य पुस्तक बैटल ऑफ बनारस इस वर्ष आने वाली है। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी के बनारस राजनीति यात्रा की विस्तृत जानकारी होगी।

Related posts

चकबंदी के लिए गांव-गांव जाएंगे नायब तहसीलदार, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने 57 नायब तहसीलदारों की लगाई ड्यूटी

Ajit Sinha

फरीदाबाद :फरीदाबाद की जनता कर रही त्राहि-त्राहि, मंत्री विपुल गोयल देख रहे है मुख्यमंत्री बनने के सपने : विकास चौधरी

Ajit Sinha

फरीदाबाद: शहीद लेफ्टिनेंट ऋषभ शर्मा के निवास पर पहुंचे पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल, उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//thoadsaibsou.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x