Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद : सेक्टर -37,12 /2 में मामा को अवैध निर्माणों को करवाने के एवज में एक एससीओ दिया गया हो,पहले भी एक निगम अधिकारी को भी दिया गया था ऑफर।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 

फरीदाबाद : जिला प्रशासन ने बीते बुधवार को भाजपा नेताओं द्वारा बनाएं गए 12 /2,  सेक्टर -37  में  काफी बड़े -बड़े एससीओ अब लोगों को खटकने लगे हैं क्यूंकि इन एससीओ के पीछे अवैध रूप से बने बिल्डिंगों को ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम ने धवस्त कर दिया हैं। इस मामले में एसडीएम रीगन कुमार का कहना हैं कि तक़रीबन 1800 गजों पर बने एससीओ पर अदालत से स्टे हैं और  इसकी अगली तारीख15 नवम्वर को लगी हैं जिसे जल्द निरस्त कराने की कोशिश करेंगें । इसके बाद इन एससीओ को भी तोड़ दिया जाएगा।

बताया गया हैं कि 12 /2, सेक्टर -37 में मुख्य रोड पर बने इन बड़े -बड़े एससीओ भी अवैध रूप से बनाई गई हैं जिसे बीते बुधवार को जिला प्रशासन ने छुआ तक नहीं जबकि इसके पीछे के हिस्से में चार मंजिलों तक बने 4 से 5 बिल्डिंगों को पोकलेन व जेसीबी मशीनों की सहायता से तोड़ दिया गया । लोगों की मानें तो उन्होनें पैसों से प्लाटों को खरीद कर बिल्डिंगें बनाई थी, भाजपा नेताओं ने इन प्लाटों को बिल्डरों को दिलवाने में अहम भूमिका निभाई हैं और इन प्लाटों के बेचने  के एवज में मोटा मुनाफा कमाया। इसके बाद इन इमारतों एंव एससीओ को बनवाने के एवज में केंद्रीय राज्य मंत्री के एक मामा ने संभवता हैं कि पैसों के बदलें एक एससीओ अपने नाम करवा लिया होगा। लोगों का कहना हैं कि इन एससीओ के एनएच 2 से सेक्टर -37 की ओर आने पर पहले नंबर का एक एससीओ हैं ऐसा बताया गया हैं।  खबर हैं कि जब  इन एससीओ  का नींव रखा गया था उस समय भी ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम ने तोड़फोड़ की थी उस दौरान भी एक निगम अधिकारी को एससीओ देने की बात atharv news  की जानकारी में आई थी पर उन्होनें अवैध निर्माण करवाने के एवज यह ऑफर लेने से बिल्कुल मना कर दिया था। संभवता हैं कि वहीँ  एससीओ का ऑफर इसके बाद में शहर के एक मामा को दे दिया गया होगा।

माना जा रहा हैं कि उसी के बाद ही 12 /2, सेक्टर -37 में अवैध निर्माणों की रफ़्तार तेज गति से चला  हैं और काफी कम समय में बड़ी -बड़ी एससीओ बन कर तैयार हो गईं हैं। बताया गया हैं कि यह जमीन तो पूर्व मंत्री का बेटा का हैं और जो शख्स इन जमीनों को बेचवाने में अहम भूमिका निभाई हैं वहीँ लोग अवैध निर्माणों को बनवाने का ठेका अवश्य लिया होगा और अपने  नेटवर्क में शहर के मामा को शामिल कर लिया पर मामा को भी बिल्कुल ये मालूम नहीं होगा एक दिन ऐसा भी आएगा की जिन लोगों से एससीओ या पैसा लिया हूँ एक दिन लौटना भी पर सकता हैं, क्यूंकि बीते बुधवार को बड़ी -बड़ी इमारतों को टूटने के बाद ऐसी  समस्याएं  उन लोगों के सामने तो आ ही  जाती हैं।  खबर हैं कि जिन -जिन लोगों की बिल्डिंगें टूटी हैं उन लोगों का दवाव अब के समय में उन लोगों पर और जाएदा बढ़ गई हैं, उन्हें जल्द -जल्द से लिए गए पैसे वापिस करने या  एडजेस्ट करने की बात की जा रहीं हैं।  मालूम हैं कि एससीओ के जितने भी मालिक हैं अभी के वक़्त में भाजपा नेता हैं और उनका नाता भाजपा के मंत्री से जुड़ा हैं। देखना हैं कि इन एससीओ के ऊपर नगर निगम  अपना पोकलेन व जेसीबी मशीनों को कब चलाता हैं इसके लिए लोगों को बेसब्री से  इंतजार हैं या सत्ता में बैठे लोग इसे बचा लेती हैं।

Related posts

निगम कमिश्नर अनीता यादव ने कहा शहर में पानी की किल्लत बर्दाश्त नहीं, हुई तो समझों हो गई कार्रवाई

Ajit Sinha

फरीदाबाद: बीती रात गांव तिलपत में एक शख्स की अज्ञात शख्स ने कुल्हाड़ी मार कर हत्या कर दी, केस दर्ज।

Ajit Sinha

फरीदाबाद उद्यान विभाग द्वारा किसानों को आलू फसल के बारे में भावांतर भरपाई योजना के तहत किसान को विस्तारपूर्वक दी जानकारी

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//stungoateeve.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x