Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद: श्री शिव महापुराण कथा के दूसरे दिन, आज भी जारी

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: महाराजा अग्रसेन विवाह समिति द्वारा महाराजा अग्रसेन भवन सेक्टर-19 के विशाल प्रांगण में आयोजित नौ दिवसीय श्री शिव महापुराण कथा के दूसरे दिन कथा व्यास महंत श्री राधेश्याम व्यास जी महाराज ने कथा श्रावण करने आए श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि कथा वाचक का भी सम्मान नहीं किया, आने वालों का सम्मान नहीं किया। केवल अपने अभिमान को धन के खर्च करने का ध्यान दिया। मेरे जीवन की कथा सफल नहीं होती, क्योंकि धर्म का कर्म जो है वह अभिमान से नहीं विनम्र पूर्वक श्रद्धा भक्ति से होता है। श्रद्धा के बिना कोई धर्म कर्म नहीं हो सकता।

हृदय में श्रद्धा और भक्ति जब होती है, कितना धर्म खर्च करो, कितना समय खर्च करो। मन में श्रद्धा कथा में आए लोगों के प्रति हो। कथा सुनाने वाले वक्ता के प्रति हो, ब्राह्मणों के प्रति हो, सुनने आए श्रद्धालुओं के प्रति हो। श्रद्धा हो, विनम्र भाव हो। वह कथा निविघनता से सम्पन्न होती है। केवल पैसे से कथा नहीं होती। पंडाल लगाने से, भवन सजाने से कथा नहीं होती, कथा प्रचार से नहीं हो। अगर कथा विधि विधान से नहीं होती तो उसका फल प्राप्त नहीं होता। श्रद्धा और विनम्र से करवाई गई कथा से लाभ प्राप्त हो जाता है। उन्होंने कहा कि श्रीमद्भागवत सबसे पहले किसने किसको सुनाई, कामदेव और उनकी पत्नी रति को श्राप दिया फिर उनका उद्धार किया।

आयोजन कराने वाला कोई भी यजमान दृढ़ संकल्प के साथ में, दृढ़़ क्रिया के साथ में ईश्वर की कृपा का पात्र जब बनता जब ऐसे आयोजन प्रांरभ होते है। कथा सुनने वाले जो श्रद्धालु जो आएगें, सुनने वालों का क्या नियम है। व्यास गद्दी वाले सुनाने वाले का क्या नियम है। कहते है कि व्यास गद्दी इस प्रकार से बनवावें, सुनाने वाले मुंह पूर्व दिशा की ओर हो या उत्तर दिशा की ओर। व्यास गद्दी की दिशा का बड़ा प्रभाव है। वास्तु शास्त्र से लेकर ज्योतिष तथा ब्रह्म शास्त्र दिशाओं का बड़ा प्रभाव बताया गया है। दिशा से ही दशा बनती है। तभी कोई आयोजन विधिवत सम्पन्न होता है। पैसा खर्च करने से नहीं होता। हमने ऐसी-ऐसी जगह को देखा, बहुत बड़ा पंडाल बनाया गया और बहुत पंडाल तैयार किया, लेकिन कराने वाले के मन में अभिमान आ गया कि मैं पैसा लगा रहा हूं। लोगों को बुला रहा हूं और अंतरराष्ट्रीय कथा वाचक को बुलाकर व्यास गद्दी पर बैठा रहा हूं। लेकिन मन में अभिमान के चलते कथा का फल प्राप्त नहीं होता है। महाराजा अग्रसेन विवाह सेवा समिति के प्रधान ब्रह्म प्रकाश गोयल ने बताया कि श्री शिव महापुराण कथा में श्री राधे श्याम व्यास जी को सुनने के लिए फरीदाबाद के अलावा दिल्ली, गुरुग्राम, पलवल, होडल, मथुरा तथा आगरा से श्रद्धालु आ रहे है। पंडाल में श्रद्धालुओं को बैठने के लिए कोरोना नियमों का भी पूरा पालन किया जा रहा है साथ ही श्रद्धालुओं के सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की हुई है। कथा में मुख्य रूप से संरक्षक अनिल गुप्ता, कोषाध्यक्ष मनोहरलाल सिंघल, उपाध्यक्ष इन्द्रपाल गर्ग, आशा रानी, रजत गोयल, भुवनेश्वर अग्रवाल, पवल गर्ग, गोपाल,एडवोकेट मिथिलेश, एडवोकेट आर.के. गौड़, नानकचंद(डिप्टी भोले), श्याम सुन्दर अग्रवाल दिल्ली, सुनील गुप्ता केबल वाले दिल्ली, अनिता शर्मा, कैप्टन पी.के. शर्मा सेक्टर-28, बद्री प्रसाद गोयल अनाज मंडी, एडवोकेट प्रमोद गोयल सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Related posts

फरीदाबाद : सिर्फ 500/- रूपए के लिए मेरे हाथों अपने ही साथी का क़त्ल हो गया, आरोपी नन्हें।

Ajit Sinha

दो प्रॉपर्टी डीलरों की हत्या रंजिशन की गई थी, अब तक दोनों पक्षों के 5 लोगों की हत्याएं, दो आरोपितों किया गिरफ्तार,1 फरीदाबाद का हैं-देखें वीडियो

Ajit Sinha

पंचकुला को गुरूग्राम और फरीदाबाद की तर्ज पर किया जाएगा विकसित : मुख्यमंत्री

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//jozeeltaird.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x