Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

दिल्ली मेट्रो के ढांसा बस स्टैंड – नजफगढ़ सेक्शन का उदघाटन किया गया।

अजीत सिन्हा / नई दिल्ली
हरदीप सिंह पुरी, केंद्रीय मंत्री, आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय तथा अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री दिल्ली द्वारा आज शनिवार को दोपहर साढ़े बारह बजे ग्रेलाइन के नजफगढ़-ढांसा बस स्टैंड मेट्रो सेक्शन का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से औपचारिक उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर कौशल किशोर, राज्य मंत्री आवासन व शहरी कार्य मंत्रालय ,कैलाश गहलोत, परिवहन मंत्री, दिल्ली सरकार और प्रवेश साहिब सिंह, लोक सभा सांसद पश्चिमी दिल्ली भी इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे। इस सेक्शन पर यात्री सेवाएं आज शाम पांच बजे से शुरू की जाएगी। नवनिर्मित अंडरग्राउंड ढांसा बस स्टैंड मेट्रो स्टेशन परिचालनरत द्वारका-नजफगढ़ कॉरीडोर का ही विस्तार है।

ढांसा बस स्टैंड – नजफगढ़ कॉरिडोर के विवरण:
 कलर कोड : ग्रे
 लंबाई : लगभग 1.2 किलोमीटर
 प्लैटफॉर्म क्षमता : 6-कोच, स्टैंडर्ड गेज
 प्रवेशएवंनिकासद्वार : 3
 एस्केलेटर : 7
 लिफ्टें :5
 डिपो : नजफगढ़
 इस विस्तार से नजफगढ़ व ढांसा बस स्टैंड के अंदरूनी इलाक़ों के लोगों को काफी फायदा पहुंचने
की उम्मीद है।
 ग्रे लाइन के स्टेशन – कुल चार (द्वारका, नंगली -दोनों एलिवेटेड व नजफगढ़, ढांसा बस स्टैंड –
दोनों अंडरग्राउंड)
स्टेशन की विशेष उपलब्धियां:
● स्टेशन का डिजाइन चार मंजिला भूमिगत स्ट्रक्चर है, जिसमें सबसे नीचे (लगभग 18 मीटर की गहराई पर) प्लेटफार्म होगा उसके बाद कॉन्कोर्स और उसके ऊपर रूफ लेवल (ग्राउंडलेवल) पर पूरे तलपर पार्किंग बनाई गई है।
● ढांसा बस स्टैंड मेट्रो स्टेशन दिल्ली मेट्रो नेटवर्क का पहला ऐसा भूमिगत मेट्रो स्टेशन है जहां एक पूरा भूमिगत तल वाहनों की पार्किंग के लिए बनाया गया है ।इस पार्किंग सुविधा को मेन स्टेशन एरिया से जोड़ा जाएगा जहां वाहन उपयोगकर्ता अपनी कारें और दोपहिया वाहन पार्क करने के बाद लिफ्ट और एस्केलेटरों के इस्तेमाल से सीधे स्टेशन के कॉन्कोर्स एरिया में जा सकेंगे।
● पार्किंग क्षेत्र प्रवेश और निकास के लिए रैम्प,लिफ्टों, सीढ़ियों, एस्केलेटर्स आदि की सुविधाओं से लैस है
। इस पार्किंग सुविधा में लगभग 110 कारें और 185 दोपहिया वाहनों खड़े किए जा सकते हैं। ग्राउंड लेवल पर भविष्य में संपत्ति विकास संबंधी गतिविधियों की व्यवस्था भी हो सकेंगी।
● ढांसा बस स्टैंड मेट्रो स्टेशन को आकर्षक कलाकृतियों और फोटोग्राफ्स से सुसज्जित किया गया है जो राष्ट्रीय राजधानी के इस उपनगरीय इलाके की समृद्ध विरासत, संस्कृति, वनस्पतियों और वन्यजीवों की झलक प्रस्तुत करते हैं। भारत की अटल शहरी पुनर्जीवन और परिवर्तन (AMRUT) पहल की कुछ विशेष उपलब्धियां:
● मूलभूत नागरिक सुविधाओं जैसे शौचालयों के साथ सीवरेज एवं सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तक पंप की व्यवस्था,जिसमें रीसाइक्लिंग जैसी विशेषताएं एवं एकआवधिक साफ-सफाई प्रणाली की व्यवस्था है।
● वर्षा जल संरक्षण और आसपास केएरिया के वर्तमान जलनिकासी सिस्टम को सुधार कर पर्याप्त जल सोखने और पंपिंग की सुविधा।
● ढांसा बस स्टैंड मेट्रो स्टेशन के भवन को IGBC (इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल) द्वारा‘प्लैटिनम रेटिंग’ मिली है। यह ग्रीन बिल्डिंग मानकों का पालन करने के लिए दी जाने वाली सर्वोच्च रेटिंग है।
● बेसमेंट में दोपहिया और चार पहिया वाहनों के लिए व्यवस्था करने के अतिरिक्त विकलांगों औरसाइकिलों के लिए सरफेस पार्किंग की व्यवस्था के साथ-साथ बसों और ग्रामीण सेवा के लिए अलग-अलग रास्तों एवं ड्राप-ऑफजॉन की व्यवस्था की गई है, जो पैदल फुटपाथों के माध्यम से स्टेशन के प्रवेश द्वारों से जुड़े हैं। इस सेक्शन के खुलने के बाद, दिल्ली मेट्रो नेटवर्क का विस्तार अब कुल 286 स्टेशनों के साथ 391 किमी का हो गया है। (नोएडा-ग्रेटर नोएडा व रैपिड मेट्रो, गुरुग्राम सहित)

Related posts

कांग्रेस के बैंक खातों से 66 करोड़ निकाले जाना तानाशाही और लोकतंत्र की हत्या

Ajit Sinha

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने आज तुरंत प्रभाव से महत्वपूर्ण पदों नियुक्तियां की हैं- लिस्ट पढ़े।

Ajit Sinha

सीपी, दिल्ली राकेश अस्थाना ने तीन डिजिटल पहल यानी अनुभूति-क्यूआर कोड आधारित फीडबैक सिस्टम की शुरुआत की है।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//tauphaub.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x