Athrav – Online News Portal
खेल गुडगाँव हरियाणा

सीएम मनोहर लाल ने 42 खिलाड़ियों को 25.80 करोड़ रूपये के इनाम से नवाजा, सम्मानित

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम: राष्ट्रमंडल खेलों के खिलाड़ियों के सम्मान में हरियाणा सरकार द्वारा सोमवार को गुरुग्राम में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विजेता व प्रतिभागी 42 खिलाड़ियों को 25 करोड 80 लाख रूपए के नकद इनाम, जॉब आफर लेटर और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। सम्मान समारोह के मंच से मुख्यमंत्री ने हरियाणा को देश की स्पोर्ट्स कैपिटल के तौर पर विकसित करने के लिए राज्य में खेलों के इंफ्रास्टक्चर को बढ़ाने के लिए गेम वाइज प्रदेश की मैपिंग कराने की घोषणा की। राज्य के हर जिला में एक खेल के अनुरूप मैपिंग करते हुए खिलाड़ियों के लिए सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी।

मुख्यमंत्री ने सैक्टर-44 स्थित अपैरल हाउस सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में अपने संबोधन के दौरान खिलाड़ियों से भी स्वयं के साथ-साथ नई प्रतिभाओं के मार्गदर्शक बनने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि अब हरियाणा में पदक लाओ-पद पाओ नहीं बल्कि इससे आगे बढते हुए पदक लाओ-पदक बढाओ की सोच पर आगे बढना है। सभी की सहभागिता ही दुनिया में भारत के पदक तालिका में बढ़ोतरी का माध्यम बनेगी। उन्होंने कहा कि भारत को दुनिया में खेलों के क्षेत्र में अग्रणी बनाने में हरियाणा अपना बेस्ट दे रहा है। खेल क्षेत्र में बजट को डबल करते हुए 526 करोड़ रूपए कर दिया गया है। राष्टीय विचारधारा के साथ खेल के क्षेत्र में हरियाणा सरकार प्रभावी कदम उठा रही है।

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार अब नई खेल नीति के अनुरूप कार्य कर रही है। यही कारण है कि अब खिलाड़ियों को बेहतर खेल वातावरण प्रदान करते हुए उन्हें तैयारी कराने से लेकर उनके खेल प्रदर्शन तक हर स्तर पर सरकार अपना सहयोग दे रही है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री के 2047 के लक्ष्य के तहत सरकार खेलों के साथ ही अन्य विकासात्मक पहलुओं में भी आगे बढ़ रही है। हरियाणा सरकार ढांचागत विकास को मजबूत बनाते हुए खिलाड़ियों को सुखद माहौल प्रदान कर रही है और यही कारण है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खेल में हरियाणा के खिलाड़ी देश का मान बढ़ा रहे हैं। उन्होंने खुषी जताई कि बेटी बचाओ-बेटी पढाओ कार्यक्रम के तहत हरियाणा अपना दायित्व निभा रहा है और आज खेलों में भी हमारी बेटियां दुनिया में नाम रोशन कर रही हैं।

राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक विजेता को 1 करोड़ 50 लाख रुपये, रजत पदक विजेता को 75 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेता को 50 लाख रुपये के नकद पुरस्कार दिए गए। वहीं चौथे स्थान पर आने वाले को 15 लाख रुपये की राशि दी गई। इसके साथ-साथ राष्ट्रमंडल खेलों में शामिल होने वाले खिलाड़ियों को साढ़े 7 लाख रुपये की राशि दी गई। बर्मिंघम राष्ट्रमण्डल खेल-2022 में हरियाणा के भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल खिलाड़ियों सहित कुल 29 खिलाड़ियों ने पदक जीते हैं। इन्हें प्रदेश की खेल नीति के अनुसार कुल 25 करोड़ 80 लाख रुपये की नकद ईनाम राशि दी गई।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पूरे देश में हरियाणा के खिलाड़ियों की चर्चा हो रही है। साथ ही सरकार द्वारा स्कूल के स्तर से लेकर ओलंपिक की तैयारियों तक दिये जा रहे प्रोत्साहन और सुविधाओं की भी सराहना हो रही है। खिलाड़ियों की उपलब्धियों से समूचे प्रदेश में उत्सव जैसा वातावरण है। खिलाड़ियों ने अपने खेल प्रदर्शन से हरियाणा प्रदेश का ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। राष्ट्रमण्डल खेलों में पदक जीतना एक कीर्तिमान तो है ही, इन विश्वस्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेना ही अपने आप में एक महान उपलब्धि है। इस बार के राष्ट्रमण्डल खेलों में भाग लेने वाले देश के 215 खिलाड़ियों में से 42 युवा हरियाणा के हैं। हमारे खिलाड़ियों ने देश के 61 में से 20 पदक जीते हैं। इनमें से 17 पदक व्यक्तिगत स्पर्धा में और 3 पदक टीम इवेंट में हैं।

इनका हुआ सम्मान:

हरियाणा के जिला सोनीपत के सुधीर ने पैरा पावर लिफ्टिंग खेल में गोल्ड मेडल जीता है। सुधीर पैरा पावर लिफ्टिंग में गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय हैं। इसी प्रकार, हरियाणा ने बॉक्सिंग में 2 गोल्ड, 1 सिल्वर व 1 कांस्य पदक, कुश्ती में 6 गोल्ड, 1 सिल्वर तथा 4 कांस्य पदक तथा एथलेटिक्स में 1 कांस्य पदक जीता है। भारतीय महिला हॉकी टीम ने कांस्य पदक जीता है। यह टीम लगभग हरियाणा की ही है, क्योंकि इसमें प्रदेश की 9 बेटियां खेल रही हैं। भारतीय हॉकी टीम की कैप्टन के रूप में सविता पूनिया ने नेतृत्व किया, जोकि सिरसा की रहने वाली हैं। इस प्रकार हरियाणा प्रदेश के खिलाड़ियों ने देश के कुल पदकों का 28 प्रतिशत पदक जीतकर देश व प्रदेश का नाम रोशन किया। इसमें हॉकी को भी शामिल कर लिया जाए, तो यह बढ़कर 32.7 प्रतिशत हो जाता है।हरियाणा के खेल एवं युवा मामले विभाग के मंत्री सरदार संदीप सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा प्रदेश आज देश का स्पोर्ट्स हब बन चुका है। हमारे खिलाडियों ने उस देश में जाकर तिरंगा लहराया और राष्ट्रगान बजवाते हुए हमें गौरवान्वित किया है। उन्होंने आगामी एशियाई, ओलंपिक व कॉमनवेल्थ खेलों में भारत को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ देश बनाने के लिए कार्यक्रम में पहुंचे खिलाडी, अभिभावकों व कोच सहित युवा शक्ति को पूरी लगन से मेहनत करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि अभिभावक अपने बच्चों से मोबाइल व जंक फूड छुडवाकर खेल स्टेडियम में भेजें क्योंकि दुनिया में खिलाडी व फौजी ही दुनिया में तिरंगा फहराने का गौरव हासिल करते हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल को राज्यसभा सांसद कार्तिकेय शर्मा ने श्रीनगर के लाल चौक से पहुंची ग्रेट इंडिया रन मशाल भेंट की। राज्यसभा सांसद ने बताया कि आईटीवी समूह के सौजन्य से जम्मू कश्मीर में श्रीनगर के लाल चौक से 5 अगस्त को यह ग्रेट इंडिया रन शुरू हुई थी जिसमें 11 प्रतिभागी 829 किलोमीटर का सफर तय कर 15 अगस्त को दिल्ली इंडिया गेट पहुंचे थे।

यह रहे मौजूद:

इस अवसर पर हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल, खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री सरदार संदीप सिंह, राज्यसभा सांसद कार्तिकेय शर्मा, विधायक सत्यप्रकाश जरावता, नयनपाल रावत, सोमवीर सांगवान, खेल एवं युवा मामले विभाग के एसीएस महावीर सिंह, निदेशक पंकज नैन, सीएम के राजनीतिक सलाहकार अजय गौड़, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य, पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर, डीसी निशांत कुमार यादव, सीपी कला रामचंद्रन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Related posts

महिला सिपाही का फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर वीडियो वायरल करने वाला सिपाही को जेल भेजा

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: छोटे से छोटे कार्यकर्ता का प्रदेश अध्यक्ष बनना भाजपा में ही संभव: नायब सिंह सैनी

Ajit Sinha

गुरुग्राम ब्रेकिंग: देश के संविधान को बचाने की लड़ाई में करें सहयोग : संजय सिंह

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//tauphaub.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x