Athrav – Online News Portal
गुडगाँव स्वास्थ्य

सीएम मनोहर लाल ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोविड-19 संक्रमण को लेकर समीक्षा बैठक की।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम़:मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को गुरूग्राम में पहुंचकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोविड-19 संक्रमण को लेकर समीक्षा बैठक की जिस में उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे सेवाभाव से काम करें और आम जनता को भी बचाव उपायों के बारे में जागरूक करने के उपाय करते रहें। इस समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने कोविड-19 से बचाव के लिए आम जनता में फेस मास्क वितरण पर जोर दिया और कहा कि मास्क नही पहनने वालों पर लगाए जा रहे जुर्माने से प्राप्त राशि से मास्क बनवाएं और जरूरतमंद लोगोें में बंटवाते रहें। मुख्यमंत्री ने गुरूग्राम जिला में खाली बिल्डिंगों का सर्वे करवाने के भी आदेश दिए ताकि जरूरत पड़ने पर उनका प्रयोग कोविड मरीजों के आइसोलेशन के लिए किया जा सके। गुरूग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने जिला की रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए बताया कि जिला में अब तक कुल 3477 पाॅजीटिव केस आ चुके हैं जिनमें से 1775 मरीज रिकवर होकर डिस्चार्ज भी किए जा चुके हैं। आज सोमवार को भी 511 मरीज डिस्चार्ज किए गए। उन्होंने यह भी बताया कि जिला में 4314 बैड उपलब्ध हैं और इनकी संख्या बढ़ाई जा रही है। जिला में आईसीयू में भी 625 बैड हैं जिनमें से 79 भरे हुए हैं और वैंटिलेटर की संख्या 329 है, जिनमें से 17 का प्रयोग किया जा रहा है।  मुख्यमंत्री ने प्राइवेट लैब में सैंपल टेस्टिंग को माॅनीटर करने तथा उनकी टेस्टिंग रिपोर्ट को समय पर अपलोड करवाना सुनिश्चित करने के आदेश भी दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि आकस्मिक तौर पर प्राइवेट लैब की टैस्टिंग रिपोर्ट को भी चैक करते रहें। उन्होंने ये भी कहा कि जो भी व्यक्ति टैस्ट करवाए उसका नाम और पता सही दर्ज किया जाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि चाहे कोई किसी भी प्रदेश का व्यक्ति हो , वह गुरूग्राम में कोविड के लिए अपना सैंपल देकर टैस्ट करवा सकता है , केवल अपना पता सही बताए। इस पर गुरूग्राम के मंडलायुक्त अशोक सांगवान ने बताया कि प्राइवेट लैब के लिए यह अनिवार्य किया गया है कि वह व्यक्ति की आईडी लेकर ही सैंपल टैस्ट करें। बैठक में उपस्थित गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी एस कुंडु ने बताया कि कोविड को लेकर एक यूनिफाइड पोर्टल बनाया जा रहा है जिस पर पूरे प्रदेश के अस्पतालों में उपलब्ध बैड तथा सुविधाओं सहित पूरा विवरण आॅनलाइन उपलब्ध होगा। व्यक्ति उस डेटा को देखकर कही भी इलाज के लिए जा सकता है। मुख्यमंत्री ने इस बैठक में यह भी कहा कि लोगों को अपने शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए प्रेरित करें। साथ ही उन्होंने पूछा कि आयुष विभाग के माध्यम से इम्युनिटी बढ़ाने की दवाएं वितरित की जा रही हैं या नही। इस पर बताया गया कि कंटेनमेंट जोन में आयुष विभाग की टीम द्वारा शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की दवाओं का वितरण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आयुर्वेदिक तथा होम्योपैथी की दवाइयांे का कोई साइड इफेक्ट नही होता और इन दवाओं को लोग सामान्य रूप से भी लेते रहे तो कोई नुकसान नही है। उन्होंने आरोग्य सेतु के प्रयोग पर भी चर्चा की और बैठक में उपस्थित अधिकारियों से पूछा कि क्या सभी ने अपने मोबाइल में इस एप को डाउनलोड किया हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने बैठक में आते ही आरोग्य सेतु एप को देखा जिससे उन्हें पता चला कि 500 मीटर दायरे में 10 पाॅजीटिव केस हैं। उन्होंने यह भी कहा कि आरडब्ल्यूए को भी अपने यहां आइसोलेशन सैंटर विकसित करने के लिए प्रोत्साहित करें ताकि उस रिहायशी सोसायटी के मरीजो को वही पर आइसोलेशन में रखा जा सके।  उन्होंने बैठक में डिस्ट्रैस राशन टोकन के बारे में भी विचार विमर्श किया और कहा कि यह टोकन इस महीने के आखिर तक राशन लेने के लिए प्रयोग किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सभी जरूरतमंद परिवारों को राशन कार्ड बनवाने की दिशा में काम किया जाएगा। बैठक में उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि गुरूग्राम जिला में स्वयंसेवी संस्थाओं तथा संगठनों ने जरूरतमंदो को खाना खिलाने में प्रशासन का बहुत सहयोग किया। इस कार्य में वालंटियर भी लगे रहे। उन्होंने बताया कि जिला में 7797 वालंटियर पंजीकृृत हैं जिनमें से 1676 को 18 टीमों में तैनात किया गया था। इन्ही में से 18 को सुपरवाइजरी ड्यूटी भी दी गई। श्री खत्री ने कंटेनमेंट जोन की संख्या तथा उसमें किए गए प्रबंधों की विस्तार से जानकारी दी और बताया कि बुजुर्ग व्यक्तियों को भावनात्मक सहारा देने के लिए भी जिला में प्रयास किए जा रहे हैं। यही नहीं, जिला में टैलीमैडिसिन की हैल्पलाइन भी शुरू की गई है और एंबुलेंसों की भी संख्या बढ़ाई गई है।उन्होंने बताया कि नगर निगम के सहयोग से कोरोना के पाॅजीटिव पाए जाने वाले व्यक्तियों की कान्टैक्ट ट्रैसिंग की गई है। नगर निगम आयुक्त विनय प्रताप सिंह ने बताया कि गुुरूग्राम में गैस आधारित दो श्मशान घाट शुरू हो चुके हैं तथा तीन और बनाने के आदेश दिए गए हैं। पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल ने सरकार के कोविड संबंधी आदेशो का उल्लंघन करने वालों पर की जा रही कार्यवाही के बारे मे जानकारी देते हुए बताया कि मास्क नही पहनने वाले लोेगों के लगभ एक हजार चालान किए जा चुके हैं। अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पंवार ने बताया कि स्वयंसहायता समूहों के सहयोग से जिला में लगभग ढाई लाख कपड़े के मास्क बांटे जा चुके हैं। इस अवसर पर गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी एस कुंडु, पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल, मंडलायुक्त अशोक सांगवान, उपायुक्त अमित खत्री, निगमायुक्त विनय प्रताप सिंह , एचएसवीपी प्रशासक जितेन्द्र यादव, जीएमसीबीएल की सीईओ सोनल गोयल, अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पंवार, डीसीपी निकिता, एसीपी उषा, सिविल सर्जन डा. वीरेन्द्र यादव, हरियाणा हाउसिंग बोर्ड के पूर्व चेयरमैन जवाहर यादव भी उपस्थित थे। 

Related posts

फरीदाबाद में नए नए कोरोना पॉजिटिव केसों के साथ कंटेनमेंट जोनों का भी इजाफा हुआ हैं,ये काफी गंभीर बिषय हैं

Ajit Sinha

गुरुग्राम: राज्य सभा सांसद सुशील कुमार गुप्ता से उनके कार्यालय पर सुशीला कटारिया ने मुलाकात

Ajit Sinha

हरियाणा के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 413 ब्लैक फंगस रोगियों में से 64 कभी कोरोना+ वी नहीं थे-अनिल विज

Ajit Sinha
//aitertemob.net/4/2220576
error: Content is protected !!