Athrav – Online News Portal
गुडगाँव हरियाणा

सीएम मनोहर लाल: प्रदेश के एचसीएस अधिकारियों के लिए वैश्विक विषयों पर प्रबंधन विकास कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम:हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के ‘ग्लोबल से लोकल‘ संदेश को अमलीजामा पहनाते हुए हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान गुरूग्राम इन दिनों पहली बार प्रदेश के एचसीएस अधिकारियों के लिए वैश्विक विषयों पर प्रबंधन विकास कार्यक्रम(मैनेजमेंट डैव्लपमेंट प्रोग्राम) का आयोजन कर रहा है। वर्चुअल माध्यम से आॅनलाइन आयोजित किए जा रहे इस कार्यक्रम में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् (आईसीएआर) के वैज्ञानिक तथा अशोका विश्वविद्यालय से शिक्षाविद् भी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। बड़ी बात यह है कि इस आॅनलाइन प्रबंधन कार्यक्रम के माॅड्यूल विदेश नीति के विख्यात विशेषज्ञों, राजनयिकों तथा भारत सरकार में कार्यरत वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा तैयार किए गए हैं। हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान की महानिदेशक श्रीमति सुरीना राजन के अनुसार इस प्रबंधन कार्यक्रम के आयोजन का मुख्य उद्देश्य वर्तमान कोविड समय में वैश्वीकरण तथा विश्व स्तर के विषय स्थानीय स्तर पर किस प्रकार प्रभाव डालते हैं, उसके बारे में अधिकारियों को अवगत करवाना तथा उसके बारे में उनका ज्ञानवृधन करना है।

इस कार्यक्रम में माॅड्यूल इस प्रकार से तैयार किए गए हैं कि वे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विदेश नीति और हरियाणा की विकास की नीतियों के बीच सामंजस्य स्थापित कर सकें। उन्होंने बताया कि इस कोर्स को डा. खेया भट्टाचार्य ने डिजाइन किया है, जो स्वयं मार्च-2019 तक मोरोको में भारत की राजदूत रह चुकी हैं और विषय की विशेषज्ञ है।श्रीमति राजन ने बताया कि कोर्स के चार माॅड्यूल हैं, जो अक्टूबर-2020 से अप्रैल-2021 तक चलेंगे । कोर्स के पहले माॅड्यूल की कक्षाएं शुरू हो चुकी हैं और ये कक्षाएं विख्यात विदेश नीति विशेषज्ञों , राजनयिकों तथा भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा ली जा रही हैं। इनमें सेवानिवृत राजदूत विवेक काटजू, लेफिटनेंट जरनल(सेवानिवृत) नवकिरण सिंह घई,, राजदूत सेवानिवृत दिलीप सिन्हा, डा. गुलशन राय, विदेश मंत्रालय के नीति सलाहकार पदमश्री अशोक मलिक, संयुक्त राष्ट्र न्यूयाॅर्क में भारत के स्थाई प्रतिनिधि राजदूत टी एस तिरूमूर्ति, राजदूत (सेवानिवृत)  श्याम सरण, वाणिज्य सचिव पदम भूषण डा. अनूप वधावन शामिल हैं। इनके अलावा, राजदूत सेवानिवृत निरंजन देसाई, अफ्रीकन यूनियन कैपेस्टी बिल्डिंग फाउंडेशन नेरोबी के अध्यक्ष महामहिम राजदूत ईरास्टस जे.ओ.मवेनचा, यूगांडा की उच्च आयुक्त महामहिम दिनाह ग्रेस एकेलो,मोरोको के राजदूत महामहिम मोहम्मद मलिकी भी माॅड्यूल के अंतर्गत प्रशिक्षण दे रहे हैं। 

उन्होंने बताया कि प्रबंधन कार्यक्रम के पहले माॅड्यूल में जो विषय लिए गए हैं उनमें कोविड के बाद संयुक्त राष्ट्र शान्ति स्थापना तथा मानवीय हस्तक्षेप में भारत की भूमिका जिसमें वैश्विक वित्तीय स्थिति का संरक्षण, कोविड के बाद अंतर्राष्ट्रीय साइबर क्राइम , कोविड के पश्चात भारत और बहुधु्रवीयता , कोविड-19 के पश्चात संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में रिफाॅर्म , कोविड के बाद जलवायु परिवर्तन, कोविड के पश्चात् कृषि पर डब्ल्यूटीओ वार्तालाप के प्रभाव, कोविड-19 के पश्चात् अफ्रीकाई संघ की भूमिका तथा कोविड के पश्चात अफ्रीका की वैश्विक भूमिका शामिल हैं। उन्होंने कहा कि ये माॅडयूल हरियाणा सरकार के अधिकारियों को बेहतर निर्णय लेने और नीति निर्धारण मे मददगार होंगे और फील्ड में सुशासन का रास्ता प्रशस्त करेंगे। इस कार्यक्रम का शुभारंभ हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव विजयवर्धन ने 14 अक्टूबर को किया था। 

Related posts

रोजगार दो, न्याय दो-जय जवान’ अभियान के माध्यम से प्रत्येक युवा तक पहुंचेगी हरियाणा युवा कांग्रेस : नितिन सिंगला

Ajit Sinha

पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने आज मंगलवार को 18 पुलिस इंस्पेक्टरों के तबादले किए हैं

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग:भारी तादाद में नशे में इस्तेमाल होने वाली दवाइयों को किया जब्त,आरोपित अरेस्ट- अनिल विज

Ajit Sinha
//vursoofte.net/4/2220576
error: Content is protected !!