Athrav – Online News Portal
गुडगाँव फरीदाबाद हरियाणा

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: सीएम मनोहर लाल ने 2741 करोड़ रुपये की 347 परियोजनाओं का किया उद्घाटन व शिलान्यास

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश का एक समान विकास सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए आज प्रदेशवासियों को विकास परियोजनाओं की सौगात दी है। नूहं जिला के फिरोजपुर झिरका से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री ने 2741 करोड़ रुपये की 347 परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में 1270 करोड़ रुपये की लागत की 157 परियोजाओं का उद्घाटन तथा 1462 करोड़ रुपये की लागत की 190 परियाजनाओं का शिलान्यास शामिल है। मुख्यमंत्री ने फिरोजपुर झिरका में नूंह जिला की भी 305 करोड़ रुपये की 9 परियोजनाओं को जिलावासियों को समर्पित किया। जिलों में आयोजित कार्यक्रमों में मंत्रीगण, सांसदों और विधायकों ने विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री ने नूंह विधानसभा क्षेत्र के 66 गांवों के लिए 4 नई पेयजल परियोजनाओं की घोषणा की। इस पर लगभग 306 करोड़ रुपए खर्च होंगे। वहीं नूंह से मुंडाका गांव तक की सड़क के निर्माण की भी घोषणा की। यह कार्य नवंबर तक शुरू होने हो जाएगा। इसके अलावा, फिरोजपुर झिरका में 80 गांवों में पेयजल क्षमता को 55 एलपीसीडी से बढ़ाकर 70 एलसीपीडी करने की भी घोषणा की। मनोहर लाल ने कहा कि पिछले साढ़े 8 सालों से चली आ रही विकास की गति को आज की परियोजनाओं ने ऐतिहासिक बना दिया है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी डिजिटल माध्यम से 6 बार पूरे प्रदेश में विकास परियोजनाओं का उद़्घाटन व शिलान्यास किया गया है, जिससे लगभग साढ़े 12 हजार करोड़ रुपये की लागत की 1100 से अधिक परियोजनाएं जनता को दी गई हैं। आज की परियोजनाओं की 2741 करोड़ रुपये की लागत जोड़ने पर यह लगभग 15 हजार करोड़ हो जाती है। इस तरह डिजिटली एक ही स्थान से इतने व्यापक स्तर पर परियोजनाओं का उद़्घाटन व शिलान्यास करना ई-गवर्नेंस का एक बड़ा उदाहरण है, इससे समय और पैसे की भी बचत हुई है।उन्होंने कहा कि आज उद्घाटन की गई रैनीवेल आधारित पेयजल योजना नूहं जिला के लिए सबसे बड़ी परियोजना है, जिसका सीधा लाभ फिरोज पुर झिरका के क्षेत्रवासियों को होगा। इस जिले में जहां पहले बिजली नहीं थी, पानी नहीं था, यहां तक की सिंचाई के लिए भी पानी नहीं था, जहाँ सड़कों की भी बुरी हालत थी, आज हम उन स्थानों पर पानी की कोई कमी नहीं रहने देंगे। उन्होंने कहा कि इस इलाके के लोग जब रमजान में रोजे रखते थे और सायंकाल के समय जब रोजा तोड़ते थे, तो उनको पानी की आवश्यकता होती है, जो उन्हें मौल खरीद कर पानी पड़ता था। अब इस परियोजना से लोगों को पानी खरीदना नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में विकास को एक गति प्रदान की है। केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश में हमारी सरकार है। यह डबल इंजन की सरकार ने विकास के मामले में किसी भी क्षेत्र को पीछे नहीं रखा है।मनोहर लाल ने कहा कि नूहं जिला को हमेशा पिछड़ा जिला कहा जाता रहा है। पिछली सरकारों ने इसको हमेशा पिछड़ा बनाकर रखा। लेकिन हमारी सरकार आने के बाद हमने हरियाणा एक-हरियाणवी एक का संकल्प लेते हुए हर जिले में एक समान विकास करवाना सुनिश्चित किया। जहां हमारा कोई प्रतिनिधि नहीं है, वहां भी हमने विकास की गति को कम नहीं किया।उन्होंने कहा कि जब देशभर के पिछड़े जिलों की पहचान की गई, तो 110 जिलों में हरियाणा का नूहं जिला भी शामिल था। लेकिन पिछले साढ़े 8 साल में नूहं जिले में इतने विकास के काम हुए हैं। अब हम किसी भी कारण से इस जिले को पिछड़ा जिला नहीं कह सकते। दिल्ली मुंबई कोरिडोर नूंह जिले से निकलता है। इस कॉरिडोर के कारण इस इलाके में उद्योग लगेंगे जिससे नौजवानों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।मनोहर लाल ने कहा कि पिछली सरकारों के समय जो कुछ होता था और आज जो हमारे कार्यकाल में हो रहा है, यह फर्क साफ दिखाई देता है। पिछली सरकार में भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद होता था, जिससे हमारी सरकार ने निजात दिलाई है। पहले दबंग लोगों द्वारा गरीब व्यक्ति के अधिकारों का हनन होता था, मैं विश्वास दिलाता हूँ कि अब किसी गरीब आदमी के ऊपर होने वाले अन्याय को सहन नहीं किया जाएगा, सबको न्याय मिलेगा और सबको अपना अधिकार मिलेगा, सबके अधिकार सुरक्षित रखेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने छः एस – शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, स्वाभिमान, स्वावलंबन और सुशासन पर जोर दिया है। हरियाणा में कानून व्यवस्था खराब नहीं है, हर व्यक्ति अपने आपको सुरक्षित समझता है और इसका ही परिणाम है कि आज दुनिया के लोग निवेश करने के लिए हरियाणा की तरफ देखते हैं। हरियाणा उनका पसंदीदा स्थान बन गया है। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े 8 सालों में सरकारी नौकरी के तौर पर प्रदेश में 1 लाख से अधिक नौकरियां दी गई हैं। इन सरकारी नौकरियों को मिलाकर प्रदेश में कुल 35 लाख लोगों को रोजगार मिला है।मनोहर लाल ने कहा कि कांग्रेस के नेता बेरोजगारी के नाम पर भ्रामक प्रचार करते हैं। उन्होंने एक मैगजीन को इशारा कर रखा है की भाई इतने-इतने प्रतिशत दिखा दो और हरियाणा में कभी 35 प्रतिशत, कभी 40 प्रतिशत तक बेरोजगारी दिखाते हैं। जबकि वास्तविकता यह है कि किसी भी विकासशील व विकसित प्रदेश में 6-7 प्रतिशत बेरोजगारी मानते हैं और इतनी बेरोजगारी स्वाभाविक है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने तीन सी (क्राइम, करप्शन, कास्ट बेस्ट पॉलिटिक्स) को फैला रखा था। हमारी सरकार ने इन तीनों सी की व्यवस्था में सुधार किया है। हमने भ्रष्टाचार पर नकेल कसी और ये जातिवादी राजनीति करने वाले लोग जो जातियों में बांट कर आगे बढ़ते थे, उस जातिगत पॉलिटिक्स को भी समाप्त करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि जब से भ्रष्टाचार बंद हुआ है, तब से 30 से 40 प्रतिशत ज्यादा काम तो इसी राशि से होने लगे हैं।उन्होंने कहा कि जातिगत राजनीति से भला होने वाला नहीं है, हमारा भला विकास के कार्यों करवाने वालों, जनता की भलाई के लिए काम करने वालों से होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को घर बैठे ही सरकारी योजनाओं व सुविधाओं का लाभ मिले, इसके लिए राज्य सरकार ने बहुत से पोर्टल और एपलिकेशन बनाई हैं। कुछ नेता मजाक में कहते हैं कि यह तो पोर्टल की सरकार है, हम स्वीकार करते हैं कि हां पोर्टल की सरकार है। वास्तविकता यह है कि यदि हम 100 से ज्यादा ऐप और पोर्टल नहीं बनाते तो लोगों को घर बैठे योजनाओं का लाभ नहीं मिलता।मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता सब समझ रही है और एक दिन ऐसा जरूर आएगा जब जनता कहेगी कि ये पोर्टल की सरकार ने ही हमारे जीवन को सुखी किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ राजनीतिक नेताओं को मु़फ्त देने की आदत लग गई है। जबकि हमारी सरकार का लक्ष्य लोगों को रोजगार देना है। लोग कमाकर खाएंगे तो स्वाभिमानी जीवन जीएंगे। मांग कर या मुफ्त लेकर जीवन जीने में मज़ा नहीं।उन्होंने कहा कि हरियाणा एकमात्र प्रदेश है, जो देश में 2750 रुपये की सर्वाधिक वृद्धावस्था पेंशन प्रदान करता है और शीघ्र ही इस राशि को बढ़ाकर 3000 रुपये किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का असर इस जिले में भी देखने को मिला। वर्ष 2015 में जब प्रधानमंत्री ने इस अभियान की शुरुआत की थी उस समय हरियाणा में लिंगानुपात 1000 लड़कों के पीछे 850 लड़कियों का था और आज यह बढ़कर 923 हो गया है।  

Related posts

फरीदाबाद ब्रेकिंग: प्ले स्कूलों का करवाए पंजीकरण अतिशीघ्र : डीसी विक्रम सिंह

Ajit Sinha

ब्रेकिंग न्यूज़: हरियाणा सरकार ने महामारी अलर्ट -सुरक्षित हरियाणा के तहत आज नई गाइडलाइंस जारी किया हैं-पढ़े

Ajit Sinha

राजनीतिक द्वेष के चलते स्कूलों को निशाना बना रही है बीजेपी-जेजेपी सरकार- दीपेंद्र हुड्डा

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//atmagcargotor.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x