Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय वीडियो

बीजेपी को लगा तगड़ा झटका: हिमाचल प्रदेश की दिग्गज नेता इंदु वर्मा कोंग्रेश में शामिल हो गई- राजीव शुक्ला

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:कांग्रेस सांसद एंव हिमाचल प्रदेश के इंचार्ज राजीव शुक्ला ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश में लगातार भाजपा से भगदड़ मची हुई है, क्योंकि वहाँ के जो हालात हैं, वहाँ निश्चित रुप से कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है और भाजपा वहाँ से बुरी तरह से पराजित होने जा रही है। उपचुनाव के नतीजे आपने देखे थे और उसके बाद लगातार माहौल भाजपा के विरुद्ध बनता चला जा रहा है। चाहे महंगाई का मसला हो, चाहे बेरोजगारी का मसला हो, चाहे बागबानों का मसला हो, चाहे किसानों का मसला हो, चाहे महिलाओं का हो, चाहे युवाओं का हो। तो आज हमें बड़ी खुशी है कि हमारे साथ यहाँ पर इंदू वर्मा हैं। इंदू वर्मा के पति राकेश वर्मा हिमाचल प्रदेश के जाने-माने नेता थे और तीन बार विधायक रहे। 2020 में उनका निधन हो गया, दुर्भाग्यवश। लेकिन इस परिवार का पूरे शिमला जिले में बड़ा भारी प्रभाव है। इनके ससुर डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस थे, हिमाचल में और पति जाने-माने राजनेता।

इंदू वर्मा स्वयं में भी काफी राजनीति में सक्रिय रही हैं। मौजूदा भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा में हैं, प्रदेश में और दो बार डिस्ट्रिक्ट महिला मोर्चा की प्रेसीडेंट भी रही, जिला परिषद की दो बार मेंबर चुनी गई। फैमिली एंड चाइल्ड वेलफेयर बोर्ड की अध्यक्ष थीं और वहाँ पर एक बहुत अच्छा एनजीओ चलाती हैं, ‘महिला जागरूकता मंच’ 20 साल से। आज उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता लेने का फैसला किया है। मैं इंदू वर्मा का कांग्रेस पार्टी में स्वागत करता हूं और इन्हें आज पार्टी में शामिल कराता हूं। (इंदू वर्मा जी का कांग्रेस पार्टी में फूलों का गुलदस्ता देकर और कांग्रेस का पटका पहनाकर स्वागत किया गया)

हिमाचल में हमारी चुनाव की तैयारी बहुत जोर-शोर से चल रही है और 27 जुलाई को हम युवा रोजगार यात्रा धर्मशाला से शुरु कर रहे हैं, जो पूरे प्रदेश में जाएगी और युवाओं को साथ में जोड़कर उनके रोजगार की लड़ाई लड़ेगी, क्योंकि हिमाचल में बहुत ज्यादा बेरोजगारी युवाओं में है और उससे बहुत त्रस्त हैं। वहाँ अग्निवीर का भी मुद्दा बहुत गर्म है क्योंकि पूरी भारतीय फौज में चार प्रतिशत योगदान हिमाचल प्रदेश का होता है, तो अग्निवीर से भी वहाँ बहुत नाराजगी है और हमने आपको पहले ही बताया है कि हमने ओल्ड पेंशन स्कीम बहाल करने का फैसला लिया है, लोगों की स्थिति देखते हुए वहाँ पर। अगर वहाँ हमारी सरकार आई तो हम वहाँ ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करेंगे, तो हमारी युवा रोजगार यात्रा भी बहुत सफल होने वाली है, जो पूरे प्रदेश में जाएगी, हमारे युवा जो नेता हैं विक्रमादित्य सिंह जी, रघुवीर सिंह बाली और आश्रय शर्मा, अभिषेक राणा, सारे लोग उसमें सम्मिलित रहेंगे और हमारी जो सीनियर लीडरशिप हैं, वो सहयोग करेगी वहाँ पर, 27 जुलाई को उसको हम लांच कर रहे हैं। तो इंदू वर्मा से पूरे शिमला जिले में जो असर पड़ेगा, उसके लिए मैं समझता हूं कि इनका योगदान हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहेगा।

एक प्रश्न पर कि आप कह रहे हैं कि भाजपा में भगदड़ मची हुई है, उसको लेकर कांग्रेस की क्या आशा है, राजीव शुक्ला ने कहा कि इससे साबित होता है कि माहौल बना है। माहौल तभी बनता है, जब माहौल होता है, पार्टी के लिए क्योंकि वहाँ राजा वीरभद्र सिंह जी के जमाने से कांग्रेस सरकारों ने बहुत काम किया और हर जगह जहाँ जाते हैं, उन्हीं का काम मिलता है, उन्हीं का पत्थर मिलता है। इन्होंने तो सिर्फ उद्घाटन के पत्थर, वादे सब कुछ किए हैं। अब देखिए न ऊना- हमीरपुर रेलवे लाइन अभी तक नहीं बनी, जबकि घोषणाएं बहुत हुई थीं। अटल टनल भी उद्घाटन इन्होंने किया, सारा पैसा और सब कुछ सोनिया जी ने दिलवाया था। डॉ मनमोहन सिंह ने वहाँ पर पैसा आवंटित किया था, सोनिया जी ने शिलान्यास किया था। ये तो सिर्फ उद्घाटन करने पहुंच जाते हैं। तो हिमाचल में भाजपा ने कोई काम नहीं किया सिर्फ प्रचार और सिर्फ फीता काटना, लेकिन काम वहाँ कोई नहीं हुआ और इससे लोग वहाँ बहुत दुखी हैं।

एक अन्य प्रश्न पर कि क्या इंदू वर्मा जी चुनाव भी लड़ेंगी या संगठन के अंदर काम करेंगी के उत्तर में शुक्ला ने कहा कि इन्होंने सबकुछ पार्टी हाई कमान पर छोड़ दिया है।

एक अन्य प्रश्न पर के उत्तर में शुक्ला ने कहा कि युवा रोजगार यात्रा 27 जुलाई तक चलेगी।

एक अन्य प्रश्न कि क्या हिमाचल में कांग्रेस को आम आदमी पार्टी से कोई खतरा है, शुक्ला ने कहा कि आम आदमी पार्टी से हमें कोई खतरा नहीं है, उनका कहीं कोई प्रभाव नजर नहीं आ रहा। पंजाब से ही लोग इतना रुष्ट हैं कि हिमाचल के लोग बिल्कुल पसंद नहीं कर रहे हैं, उनकी पंजाब की नीतियों को।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री शुक्ला ने कहा कि राजा वीरभद्र सिंह जी का अटैचमेंट कांग्रेस के साथ था, तो कांग्रेस को इसका लाभ मिलेगा। प्रतिभा सिंह जी उनकी धर्म पत्नी हैं, तो निश्चित रुप से लोगों का आकर्षण उनके प्रति है, लोग उन्हें भी सम्मान की दृष्टि से देखते हैं।

टीएमसी के हिमाचल में चुनाव लड़ने को लेकर पूछे एक अन्य प्रश्न के उत्तर में शुक्ला ने कहा कि नहीं, टीएमसी हिमाचल में नहीं लड़ रही है।

Related posts

ब्रेकिंग न्यूज़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले हरियाणा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नायब सैनी

Ajit Sinha

अखाड़े में दाव पेंच सीखने की उम्र 53 की नहीं,बचपन की होती है- धनखड़

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: वरिष्ठ नेत्री रीटा सिंह जेजेपी में शामिल, राजस्थान में महिला प्रकोष्ठ की संभालेगी कमान

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//kirteexe.tv/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x