Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली मुंबई

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने महाराष्ट्र के लिए भाजपा के संकल्प पत्र का विमोचन किया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज बांद्रा (महाराष्ट्र) के रंग शारदा ऑडिटोरियम में महाराष्ट्र के लिए भाजपा के संकल्प पत्र का विमोचन किया। इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस, प्रदेश प्रभारी सरोज पांडेय और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत दादा पाटिल भी उपस्थित थे। कार्यक्रम को मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने भी संबोधित किया। नड्डा ने कहा कि आज से पांच वर्ष पूर्व मैं महाराष्ट्र चुनाव के बाद सदन के नेता का चुनाव करने पर्यवेक्षक के रूप में
आया था और देवेन्द्र फड़णवीस जी के नाम की घोषणा की थी। आज हमारे लिए यह गर्व का विषय है कि देवेन्द्र फड़णवीस ने न केवल महाराष्ट्र में विकास की नई धारा बहायी है बल्कि उन्होंने सुशासन से महाराष्ट्र की राजनैतिक संस्कृति को भी बदल कर रख दिया है। आज उनके नेतृत्व में महाराष्ट्र की छवि बदल रही है। उन्होंने कहा कि आज से पांच वर्ष पूर्व महाराष्ट्र भ्रष्टाचार से ग्रस्त था, अस्थिर सरकारों का दौर था, मुख्यमंत्री के पद के लिए कांग्रेस-एनसीपी में म्यूजिकल चेयर का खेल चल रहा था और कांग्रेस-एनसीपी सरकार के कुशासन के कारण क़ानून-व्यवस्था भी चरमरा गई थी। लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की अगुआई में मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस जी ने कई सालों बाद महाराष्ट्र को भ्रष्टाचार मुक्त, पारदर्शी एवं सुशासन वाली स्थिर सरकार दी है और यह परिवर्तन पिछले केवल पांच वर्षों में आया है।

महाराष्ट्र के सुनहरे भविष्य के लिए भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र को जारी करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि हमारा संकल्प पत्र केवल एक बुकलेट नहीं है, बल्कि यह महाराष्ट्र के विकास के प्रति समर्पित हमारा विजन डॉक्यूमेंट है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस-एनसीपी और उसकी सहयोगी पार्टियों ने कभी न पूरे होने वाले झूठे वादों की
झड़ी लगा कर घोषणापत्र की महत्ता को ही ख़त्म कर दिया था लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने ‘संकल्प पत्र की परिभाषा बदल कर इसे पुनः प्रतिष्ठित किया है। काफी रिसर्च के बाद और आम लोगों के सुझावों के अनुसार पार्टी ने इस संकल्प पत्र को तैयार किया है, इसके लिए मैं महाराष्ट्र भाजपा एवं उनकी पूरी टीम को हार्दिक बधाई देता हूँ। नड्डा ने कहा कि हमारा मुख्य फोकस ‘सबका साथ, सबका विकास और ‘अंत्योदय के सिद्धांत पर अंतिम पायदान पर खड़े हर व्यक्ति को विकास की मुख्य धारा में लाना है। क्वालिटी शिक्षा और क्वालिटी एजुकेशन पर हमारा विशेष जोर है। अब हम प्रदेश में कंप्रिहेंसिव हेल्थकेयर योजना लेकर आये हैं जिसके तहत 30 साल की उम्र में ही नागरिकों का हाइपरटेंशन, डायबिटीज, टीबी, लेप्रोसी, डेंटल केयर, मेंटल केयर की जांच की जायेगी और जिंदगी को खुशहाल बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने देवेंद्र फड़णवीस के नेतृत्व में पूरा विश्वास जताया है, अगले पांच वर्ष महाराष्ट्र के लिए स्वर्णिम काल होंगे।

महाराष्ट्र के विकास के लिए 16 मुख्य बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि अगले पांच वर्षों में हम पूरे महाराष्ट्र को सूखे से मुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि पश्चिमी महाराष्ट्र की नदियों से बह कर 167 टीएमसी पानी को गोदावरी घाटी से रुकवा कर मराठवाड़ा और उत्तर महाराष्ट्र के सूखाग्रस्त भाग तक लेकर जायेंगे। मराठ वाड़ा वाटर ग्रिड महत्वाकांक्षी योजना के माध्यम से 11 बांधों को आपस में जोड़ कर पूरे मराठवाड़ा में पाइप से पानी पहुंचाया जाएगा। कृष्णा, कोयना एवं अन्य नदियों में बरसात के कारण बाढ़ में बह जाने वाले अतिरिक्त पानी को पश्चिमी महाराष्ट्र के स्थायी सूखे वाले इलाके में लेकर जाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगले पांच वर्षों में हम कृषि में लगने वाली बिजली को सौर ऊर्जा पर आधारित करके यह सुनिश्चित करेंगे कि किसानों को 12 घंटे बिजली मिले। नड्डा ने कहा कि महाराष्ट्र में बनने वाली भाजपा सरकार अगले पांच साल में एक करोड़ नौकरियों का निर्माण करेगी और एक करोड़ परिवारों को महिला बचत समूहों से जोड़ कर रोजगार के विशेष अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। 2022 तक प्रत्येक घर को शुद्ध पीने का पानी मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में महाराष्ट्र में मूलभूत सुविधाओं के लिए 12 से 15 लाख करोड़ रुपये का निवेश हुआ है और अब अगले पांच सालों में इस क्षेत्र में केंद्र की सहायता से पांच लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जायेगा। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी सड़कों को स्थाई तौर पर देखभाल और मरम्मत के लिए स्वतंत्र तंत्र का निर्माण किया जाएगा।



मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से सभी बस्तियों को 12 महीने चलने वाली सड़कों से जोड़ा जाएगा जिसके लिए ग्राम सड़क योजना के द्वितीय चरण को हाथ में लेकर 30 हजार किलोमीटर सड़कों का निर्माण किया जाएगा। कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि भारत नेट और महा नेट के माध्यम से अगले पांच वर्षों में समग्र महाराष्ट्र को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा। हेल्थ फॉर आल एंड फॉर एवरीवन के कंसेप्ट के साथ आयुष्मान भारत योजना और महात्मा फुले जन आरोग्य योजना का विस्तार करके एक व्यापक व्यवस्था की जायेगी ताकि एक भी व्यक्ति पैसे के अभाव में उपचार से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि समयानुसार, शिक्षा को मूल्य आधारित बनाया जायेगा। नड्डा ने कहा कि सभी काम गारों का पंजीकरण करके सामाजिक सुरक्षा के दायरे में लेकर आया जाएगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में सभी पूर्व सैनिकों, शहीद जवानों एवं कर्तव्य पालन करते हुए मृत्यु को प्राप्त हुए सभी पुलिसकर्मियों के परिवारों के पुनर्वसन के लिए विशेष कार्यक्रम निर्मित किये जायेंगे। विभिन्न विकास परियोजनाओं के कारण विस्थापित हुए सभी परिवारों के पुनर्वसन के लिए तेजी से अभियान चलाया जाएगा। कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि पांच साल पहले महाराष्ट्र शिक्षा में 17वें स्थान पर था, आज तीसरे स्थान पर है। स्वास्थ्य में महाराष्ट्र छठे से तीसरे स्थान पर आ गया है, कृषि में भी महाराष्ट्र तीसरे स्थान पर है। अगले पांच सालों में हम महाराष्ट्र को हर क्षेत्र में पहले स्थान पर लाने के लिए कटिबद्ध हैं।

Related posts

पेट्रोल पंप के लिए जमीन आवंटन कराने के नाम 35 लाख रूपए की ठगी करने के आरोपित बाप -बेटे को पुलिस ने किया अरेस्ट

Ajit Sinha

दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष सौरभ भारद्वाज ने समर एक्शन प्लान को लेकर विधायकों के साथ की बैठक

Ajit Sinha

साक्षी नाम की महिला कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के परिसर में करेंट लगने से मौत, वन्दे भारत से चंडीगढ़ जा रही थी।

Ajit Sinha
//dubzenom.com/4/2220576
error: Content is protected !!