Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

75 साल पहले जब सारा भारत इकट्ठा हुआ, तो हमने अंग्रेजों को उठाकर देश से बाहर फेंक दिया- अरविंद केजरीवाल

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज त्यागराज स्टेडियम में आयोजित ‘हर हाथ तिरंगा’ समारोह का नेतृत्व किया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने सभी देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि आइए, आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हम सब 130 करोड़ भारतवासी मिलकर प्रण लें कि आने वाले समय में भारत को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ राष्ट्र बनाएंगे। 75 साल पहले जब सारा भारत इकट्ठा हुआ, तो हमने अंग्रेजों को उठाकर देश से बाहर फेंक दिया।

अगर हम सभी फिर एक बार इकट्ठे हो जाएं, तो भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाने से कोई नहीं रोक सकता है। हम यह भी प्रण लें कि अपनी तरफ से देश को गंदा नहीं करेंगे और राह चलते समय कोई कूड़ा सड़क पर नहीं फेंकेंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर हमें भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाना है, तो अभी बहुत कुछ करना पड़ेगा। इसके लिए हम आज से ही एक छोटी सी शुरुआत करते हैं।

मेरा दिल कहता है कि भविष्य भारत का है और आने वाले समय में भारत को दुनिया का नंबर देश बनाने से कोई नहीं रोक सकता। यह समय उन सभी शहीदों के सपनों को याद करने का भी है कि वो कैसा भारत चाहते थे, जिनकी शहादत और संघर्ष की वजह से हमें आजादी मिली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने भारत की 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज त्यागराज स्टेडियम में ‘‘हर हाथ तिरंगा’’ समारोह को बड़ी धूमधाम के साथ आयोजित किया। इस समारोह में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया और पूरा स्टेडियम लोगों से खचाखच भरा हुआ था। समारोह की शुरूआत में राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता व मोटिवेशनल आशीष विद्यार्थी की बुलंद आवाज में रिकॉर्डेड प्रसिद्ध कविता ‘आ रही रवि की सवारी’ प्रस्तुत किया गया।

इसके उपरांत आस्कर व ग्रैमी अवार्ड विजेता सुखविंदर सिंह ने शहीद-ए- आजम सरदार भगत को याद करते हुए अपनी बुलंद आवाज में ‘पगड़ी संभाल जट्टा’ गीत की लाइव प्रस्तुति देकर स्टेडियम में मौजूद लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। वहीं, गीतिका गंजू ने स्वतंत्रता आंदोलन के प्रसिद्ध कवि स्वर्गीय पंडित सोहनलाल द्विवेदी की काविता ‘हिम्मत करने वालों की कभी हार नहीं होती’ को अपनी आवाज देकर सभी को मुसिबतों से लड़कर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। प्रसिद्ध भजन गायिका आशीष कौर ने अपनी आवाज में ‘रघुपति राघव राजा राम’ भजन गाकर आजादी की लड़ाई में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के संघर्ष और बलिदान को याद किया।

आशीष विद्यार्थी की आवाज में रिकॉर्डेड हरिवंश राय बच्चन की कविता ‘रूके न तू, झुके न तू,’ कविता प्रस्तुत किया गया। इस दौरान प्रसिद्ध गायक सुखविंदर सिंह द्वारा प्रस्तुत गीत ‘जय हो’ ने लोगों में जोश भरने का काम किया। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, मुख्य सचिव, आर्ट एवं कल्चर, पर्यटन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी देशवासियों को आजादी की 75वीं वर्षगांठ की शुभकामनाएं देते हुए अपने संबोधन में कहा कि पूरा देश इस वक्त देश भक्ति के रस में डूबा हुआ है। अपने-अपने तरीके से देशभर में लोग आजादी का 75वां साल मना रहे हैं। ‘‘हर घर तिरंगा, हर हाथ तिरंगा’ जगह-जगह जश्न मनाए जा रहे हैं और किस्म-किस्म के कार्यक्रम किए जा रहे हैं। यह समय उन सभी शहीदों को याद करने का है, जिन लोगों की शहादत और संघर्ष की वजह से हम लोगों को आजादी मिली थी। यह समय उनके सपनों को याद करने का है।

वो कैसा भारत चाहते थे। देश के अनगिनत लोगों ने अपनी शहादत दी। अनगिनत लोग जेल गए। कइयों ने कालापानी की सजा काटी, बहुत यातनाएं सही। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने स्वतंत्रता सेनानी बाबा साहब डॉ. अंबेडकर और शहीद-ए-आजम भगत सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि बाबा साहब अंबेडकर ने पूरी जिंदगी संघर्ष किया। वे एक गरीब परिवार से थे। वे एक तरफ पूरी जिंदगी आजादी के लिए लड़े और दूसरी तरफ दबे-कुचले गरीबों और दलितों के लिए लड़े। उनको उनका बराबरी का हक दिलाने के लिए लड़े। एक गांव के करीब परिवार से निकल कर वो अमेरिका और लंदन से दो-दो डॉक्टरेट की डिग्री किए। बाबा साहब अंबेडकर ने हमें दुनिया का सबसे बेहतरीन संविधान दिया। आज हम जिस तरह का भारत देख रहे हैं और भारत ने जितनी तरक्की की है और हमें बराबरी व बोलने की स्वतंत्रता मिली, मौलिक अधिकार मिले, ये सब महान शख्सियत बाबा साहब की देन है। 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहीद-ए-आजम भगत सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि 23 साल की उम्र में भगत सिंह देश के लिए शहीद हो गए। वो फांसी पर चढ़ गए। भगत सिंह से हमें सर्वोच्च बलिदान की प्रेरणा मिलती है कि देश के लिए अगर जरूरत पड़े, तो जान भी कुर्बान कर देना। जान की भी चिंता मत करना। पूरी दिल्ली में हम लोगों ने 500 जगह पर बड़े-बड़े और ऊंचे- ऊंचे तिरंगे लगाए हैं। पूरे देश में दिल्ली तिरंगे का शहर बन गया है। पूरे देश में सबसे ज्यादा ऊंचे तिरंगे दिल्ली के अंदर है। आज घर से स्टेडियम तक आने में मुझे रास्ते में 9 बड़े-बड़े तिरंगे लगे हुए दिखाई दिए। हम लोग रोज रोजमर्रा की जिंदगी में खो जाते हैं। घर में परिवार के साथ और दफ्तर में जिंदगी को जीते-जीते देश को भूल जाते हैं, लेकिन दिल्ली आपको देश को भूलने नहीं देगी, आप घर से निकलेंगे, तो आपको तिरंगा दिखाई देगा और देश याद आ जाएगा। आपको रास्ते में कई बार तिरंगा दिखाई देगा और आपको देश हर कदम पर याद आएगा। यही हमारा मकसद था। आज पूरी दिल्ली के अंदर 25 लाख बच्चों को तिरंगे बांटे गए हैं। दिल्ली में इस समय 100 जगहों पर कार्यक्रम चल रहे हैं। 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आजादी के 75वें साल के अवसर पर एक प्रश्न मन में उठता है कि 75 साल में हमने काफी तरक्की और प्रगति की लेकिन इन 75 सालों में कई देश भारत से आगे निकल गए। सिंगापुर हमारे से 15 साल बाद आजाद हुआ और आज हमसे आगे निकल गया। जापान दूसरे विश्व युद्ध में पूरी तरह से ध्वस्त और बर्बाद हो गया था। हिरोशिमा और नागासाकी के उपर बम डाला गया था और तहस-नहस हो गया, लेकिन आज हमसे आगे निकल गया। हिटलर के बाद जर्मनी दूसरे विश्व युद्ध में तहस-नहस हो गया था। भारत पीछे क्यों रह गया? हमारे में कोई कमी थोड़ी है। हम किसी से कम थोड़ी हैं। भारत के लोग दुनिया में सबसे बुद्धिमान, मेहनती और अच्छे लोग हैं। फिर हम पीछे क्यों रह गए। जबकि भगवान ने हमें सबकुछ दिया है। जब भगवान ने पृथ्वी बनाई, तो सबसे खूबसूरत जगह भारत को बनाया। भारत में नदियां, पहाड़, जड़ी-बूटियां, फसलें सबकुछ है। भगवान ने कोई कमी नहीं छोड़ी। भगवान ने जब इंसान बनाया, तो उसने सबसे बुद्धिमान लोग उसने भारत में पैदा किए। फिर हम पीछे क्यों हर गए। कुछ लोग पूछते हैं कि क्या भारत दुनिया का नेतृत्व कर सकता है, क्यों नहीं कर सकता है? हमारे पास दुनिया के सबसे अच्छे इंजीनियर, डॉक्टर, वकील और वैज्ञानिक हैं, आज भारत को दुनिया का लीडर होना चाहिए। आइए, आज भारत के 130 करोड़ लोग मिलकर प्रण लें कि हम सब लोग मिलकर आने वाले समय में भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाएंगे। हम सब लोग मिलकर प्रण लें कि आने वाले समय में भारत को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ राष्ट्र बनाएंगे। हम सब लोगों को मेहनत करनी पड़ेगी। आज से 75 साल पहले जब सारा भारत इकट्ठा हुआ था, तब हमने अंग्रेजों को उठाकर देश से बाहर फेंक दिया था। आज अगर हम सभी फिर एक बार इकट्ठे हो जाएं, तो भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाने से कोई नहीं रोक सकता है।सीएम अरविंद केजरीवाल ने सभी देशवासियों से एक छोटा सा प्रण लेने की अपील करते हुए कहा कि हम लोग जब सड़क पर जा रहे होते हैं। उस दौरान अगर चिप्स खा रहे होते हैं, तो पैकेट को सड़क पर फेंक देते हैं। पानी पी रहे होते हैं, तो बोलत को सड़क पर फेंक देते हैं। गाड़ी में जा रहे होते हैं, तो चिप्स खाई और खिड़की खोलकर पैकेट बाहर फेंक देते हैं। आज आजादी के 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हम सभी प्रण लें कि हम अपनी तरफ से कम से कम देश को गंदा नहीं करेंगे। जितना हमारे पास हमारा कूड़ा है, जब तक कूड़ेदान दिखाई न दे, तब तक कूड़े को अपनी जेब में रखेंगे और कूड़ेदान दिखाई देने पर कूड़ेदान में डालेंगे। अगर सड़क पर कोई कूड़ा दिखाई दे और बन सके, तो उसको भी उठाकर हम कूड़ेदान में डालें। लेकिन अगर ये न भी करें, तो कम से कम हम अपनी तरफ से हम किसी भी सार्वजनिक स्थान पर कूड़ा नहीं डालेंगे। हम अपनी तरफ से किसी भी सड़क या सार्वजनिक स्थान को गंदा नहीं करेंगे। अगर हमें भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाना है, तो हमें अभी बहुत कुछ करना पड़ेगा, इसके लिए हम आज से ही एक छोटी सी शुरूआत करते हैं। मेरा दिल कहता है कि भविष्य भारत का है और आने वाले समय में भारत को दुनिया का नंबर देश बनाने से कोई नहीं रोक सकता है।

****

Related posts

यमुना का जलस्तर बढ़ने के बाद तीन वाटर ट्रीटमेंट प्लांट बंद, सीएम केजरीवाल ने वजीराबाद प्लांट का लिया जायजा

Ajit Sinha

नवीन खाती गैंग के पूर्व सदस्य समेत दो खूंखार अपराधी अवैध पिस्तौल व दो जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार

Ajit Sinha

मेट्रो परियोजना के निर्माण के लिए एक अंतरराष्ट्रीय परामर्श परियोजना के लिए पूर्व-अर्हता प्राप्त निविदा प्रक्रिया को पूरा किया

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//mirsuwoaw.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x