Athrav – Online News Portal
गुडगाँव राष्ट्रीय व्यापार

जिला प्रशासन से गुरुग्राम में 513 औद्योगिक प्रतिष्ठानों को, 28 हजार 431 कर्मचारियों के साथ काम करने की मिली अनुमति

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम:कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान गुरूग्राम जिला में 513 औद्योगिक व अन्य वाणिज्यिक इकाइयों को काम करने की अनुमति प्रदान की गई है। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के माध्यम से ऑनलाइन आवेदनों का निपटान करते हुए इस बात  का भी ध्यान रखा गया कि कार्यस्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो और निरंतर सेनेटाइज संबंधी गतिविधियां भी जारी रहें। स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से जहां एक ओर हर आमजन पर प्रशासन की पारखी नजर है, वहीं लॉकडाउन में श्रमिकों को किसी भी प्रकार से रोजगार की चिंता न हो इसके लिए औद्योगिक इकाइयां अनुमति के आधार पर ही शुरू की जा रही हैं।उपायुक्त अमित खत्री ने कहा कि सरकार की हिदायतों के अनुसार एमएसएमई श्रेणी की औद्योगिक इकाइयों व वाणिज्यिक प्रतिष्ठान्नों को अनुमति दी जा रही है।
,
औद्योगिक इकाइयों में आवश्यक वस्तुओं का उत्पादन करने सहित अन्य उत्पाद शुरू किए गए हैं और उनकी आपूर्ति के लिए ट्रांसर्पोटेशन सुविधा भी अनुमति आधार पर दी गई है। आर्थिक विकास की द्योतक औद्योगिक इकाई में कोविड-19 से बचाव के लिए जहां नियमित रूप से सैनेटाइजेशन प्रक्रिया अमल में लाई जा रही हैं, वहीं मास्क का उपयोग करते हुए कर्मचारियों को परिसर में ही रखने की व्यवस्था इकाई प्रबंधक की ओर से की गई है। किसी भी रूप में संक्रमण का फैलाव न हो, इसके लिए एहतियाती उपाय किए जाने जरूरी हैं और कंपनियों में कार्यरत कर्मियों को परिसर में ही सोशल डिस्टेंस बनाए रखते हुए ठहरने की सुविधा सहित भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।उन्होंने बताया कि आर्थिक व्यवस्था को समुचित नियंत्रण में रखने के लिए औद्योगिक इकाइयों का विकास में अहम योगदान है। वहीं कोरोना वायरस से बचाव के लिए इन संस्थानों में सोशल डिस्टेंस व अन्य आवश्यक कार्यों के लिए पहले ही निर्देश दिए जा चुके है। वहीं इन कार्यों की निगरानी के लिए अधिकारियों की भी ड्यूटी लगाई गई ताकि स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा उपायों का पूरी तरीके से पालन हो।
वैश्विक महामारी के दौर में जहां आमजन की स्वास्थ्य सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है, वहीं लोगों को आर्थिक रूप से नुकसान न हो इसके लिए प्रशासन की ओर से विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र में स्थित औद्योगिक इकाइयों को खोलने की अनुमति दी गई है। उपायुक्त ने बताया कि जिला में 7 ईंट भट्टों को 613 श्रमिकों के साथ खोलने की अनुमति दी गई है। इसी प्रकार, 72 निर्माण गतिविधियों पर 12 हजार 617 श्रमिकों के साथ कंस्ट्रक्शन वर्क की अनुमति दी गई है। इन निर्माण स्थलों पर श्रमिकों की बाहर मूवमेंट न हो, इसके लिए इसी आधार पर अनुमति दी गई है कि कार्य स्थल पर ही श्रमिकों के रहने के लिए आवश्यक इंतजाम किए जाए या रहने की व्यवस्था ईकाई के नजदीक ही हो। अनुमति प्राप्त इकाई में कार्यरत कर्मचारियों के रहने व भोजन की व्यवस्था परिसर में ही सुनिश्चित होगी तथा कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित रहेगी। इसी प्रकार जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में 554 दुकानें तथा शहरी क्षेत्रों में 738 दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है। जिला में औद्योगिक इकाईयों की शुरूआत किए जाने पर कार्यरत कर्मियों ने सरकार द्वारा दी गई अनुमति पर आभार भी जताया है।

Related posts

डोमिनोज़ पिज़ा कंपनी के मैनेजर से लेपटॉप,एटीएम कार्ड, मोबाइल फोन छीनने वाले 4 लूटेरों को किया गिरफ्तार।

Ajit Sinha

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के ट्विटर हेंडल पर पीएम नरेंद्र मोदी का अयोध्या से लाइव प्रसारण देखिए इस वीडियो में

Ajit Sinha

हरियाणा में कानून व्यवस्था पर उठे सवाल: डीएसपी सुरेंद्र सिंह के आरोपित पर हो सख्त से सख्त कार्रवाई -जयऱाम रमेश

Ajit Sinha
//ptugnins.net/4/2220576
error: Content is protected !!