Athrav – Online News Portal
दिल्ली राष्ट्रीय विशेष

7 फेरे लेने के बाद उल्टियां करने लगी दुल्हन, हैरान पति ले गया अस्तपाल तो उड़ गए होश

कर्नाटक  के बेंगलुरु  में कुछ ऐसा हुआ जिसने सभी के होश उड़ा दिए. शादी के तुरंत बाद दुल्हन उल्टियां करने लगी. शक में पति दुल्हन को अस्पताल ले गया. शादी के बाद लड़की को प्रेग्नेंसी टेस्ट और वर्जिनिटी टेस्ट से गुजरना पड़ा. लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं था. उसे गैस्ट्राइटिस (Gastritis-पेट की बीमारी) थी. शक करने और परेशान करने पर पत्नी ने पति पर केस कर दिया और कोर्ट तक ले गई. हालांकि पति ने आरोपों से इनकार किया है और तलाक के लिए अर्जी दी.खबर के मुताबिक, उत्तरी कर्नाटक में मैट्रिमोनियल साइट के जरिए  29 वर्षीय शरद (बदला हुआ नाम) और 26 वर्षीय रक्षा (बदला हुआ नाम) की मुलाकात हुई. दोनों ही एमबीए ग्रेजुएट्स हैं. काफी समय साथ रहने के बाद दोनों ने नवंबर 2018 को शादी करने का फैसला लिया.

शादी के 15 दिन पहले ही रक्षा की मां की कैंसर के कारण मौत हो गई थी. जिसके बाद रक्षा डिप्रेशन में चली गई थी. रक्षा की इस हालत को देखकर शरद को लगा कि वो शादी से खुश नहीं है. उस दौरान रक्षा अपने दोस्त से बात किया करती थीं. जो उसके बुरे वक्त में साथ था. शरद ने उसको गलत समझा. शादी के दिन रक्षा को गैस्ट्राइटिस (पेट की बीमारी) के कारण उल्टी हो गई. जिसके बाद शरद उनको तुरंत अस्पताल ले गया. रक्षा को लग रहा था कि गैस्ट्राइटिस के इलाज के लिए शरद अस्पताल लाया है. लेकिन जब डॉक्टर ने प्रेग्नेंसी टेस्ट और वर्जिनिटी टेस्ट शुरू किया तो वो हैरान रह गई.टेस्ट के बाद रक्षा शरद पर बरस पड़ीं और बहन के घर चली गईं. तीन महीने के बाद वैवाहिक विवाद को टालने के लिए शरद परिहार फैमिली काउंसलिंग सेंटर पहुंचे और पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज की. जिसके बाद रक्षा को तलब किया गया. लेकिन रक्षा की कहानी सुनकर परिहार फैमिली काउंसलिंग सेंटर भी हैरान रह गया. काउंसलर अपर्णा ने कहा- ‘रक्षा ने हमें बताया कि उसके पूछे बिना वर्जिनिटी टेस्ट और प्रेग्नेंसी टेस्ट कराया गया. उनके बिना देखे फॉर्म पर साइन कर दिया था. जब टेस्ट की प्रक्रिया पूरी हो गई थी. तब उसे पता चला. रक्षा के आग्रह पर शरद को समझाया गया. लेकिन वो नहीं माना.’ जिसके बाद रक्षा ने पुलिस में निष्ठा पर शक करने और परेशान करने के लिए शरद के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और मामला कोर्ट तक चला गया. वहीं पति ने तलाक की अर्जी दे दी.  सेंटर की कॉर्डिनेटर रानी शेट्टी ने कहा- ‘रक्षा के पिता की काफी समय पहले ही मृत्यु हो चुकी है और कुछ दिन पहले ही उसने मां को खोया है. ऐसे में शरद को रक्षा के साथ खड़ा होना चाहिए था. लेकिन वो उस पर शक करता रहा. वो पूरी तरह से गलत है. सेंटर रक्षा के लिए खड़ा रहेगा.’

Related posts

इंजीनियर के लिए एलआईसी (LIC) में निकली नौकरी, जानें- कैसे करें आवेदन, जल्दी करे apply

webmaster

बॉर्डर सील: *अपने अजीज दोस्त पुलिस ऑफिसर की शान में*  अध्यपक, पंकज कौशिक की कलम से।    

webmaster

अन्तर्राजीय डकैत गिरोह के दो डकैतों को पुलिस ने घर दबोचा , दो पिस्टल,9 जिंदा कारतूस,एक बटनदार चाकू बरामद।

webmaster
error: Content is protected !!