Athrav – Online News Portal
राजस्थान

97 साल की उम्र में एक वृद्ध महिला विद्या देवी चुनाव मैदान में उतरी, सभी को हराकर बनी सरपंच

हमारे देश में किसी भी तरह के चुनाव में उतरने के लिए कोई उम्र सीमा तय नहीं है और ऐसे में अगर 97 साल की एक वृद्ध महिला लाठी पकड़े चुनाव में उम्मीदवार बन जाए और चुनाव में सभी उम्मीदवारों को मात देते हुए उसे जीत भी ले तो उसकी हर तरफ चर्चा होना स्वभाविक है. जी हां, राजस्थान के सीकर में एक चुनावी उम्मीदवार 97 साल की विद्या देवी नामांकन के बाद से ही चर्चा में बनी हुई थीं और अब उन्होंने पंचायत चुनाव में जीत भी दर्ज कर ली है. उन्होंने 207 वोटों से जीत दर्ज की जिसके बाद गांव के लोगों ने उन्हें मिठाई खिलाकर जीत की बधाई दी.

97 साल की वृद्ध महिला विद्या देवी पंचायत चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रही थीं जो पूरे इलाके में इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ था. सीकर के नीमका थाना क्षेत्र में चुनाव में विद्या देवी के जीत दर्ज करने से आसपास के लोग बेहद खुश हैं.बता दें कि 97 साल की उम्र के बाद भी विद्या देवी क्षेत्र में अपने चुनाव अभियान में वैसे ही जुटी हुई थीं जैसे एक युवा उम्मीदवार. हालांकि विद्या देवी के पति मेजर शिवराम सिंह भी करीब 55 साल पहले निर्विरोध गांव के सरपंच चुने गए थे. विद्या देवी के ससुर सूबेदार सेडूराम भी बीस साल तक गांव के सरपंच रहे थे. सामान्य महिला आरक्षित सीट होने की वजह से विद्या देवी उसी सीट से चुनाव लड़ रही थीं.



विद्या देवी के अलावा तीन अन्य महिला उम्मीदवार भी चुनावी मैदान में थीं. इन प्रत्याशियों के नाम झनकोरी देवी, विमला देवी और आरती मीणा हैं. सामान्य महिला के लिए आरक्षित पुराणावास की इस सीट पर मुकाबला बेहद रोचक रहा, जहां उन्होंने सभी उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा वोट मिले.चुनाव को लेकर विद्या देवी ने कहा था कि गांव के विकास में पति और ससुर का बड़ा योगदान रहा और वो चुनाव लड़कर विकास की उसी परंपरा को आगे बढ़ाना चाहती हैं.

Related posts

गुलाबी शहर जयपुर भारत के 38वें स्थल के तौर पर यूनेस्को विश्व हेरिटेज सूची में शामिल

webmaster

प्रेम संबंधों में रोड़ा बनी सास को एक बहु ने सांप से डसवाकर की हत्या, ऐसे खुला राज

webmaster

नौवीं क्लास की छात्रा के साथ दुष्कर्म, पीड़िता ने फांसी लगाकर दी जान

webmaster
error: Content is protected !!