Athrav – Online News Portal
अपराध गुडगाँव

महिला प्यार से अपने घर ले जाती हैं, फिर अपने साथ आपत्तिजनक हालत में वीडियो बनवाती हैं फिर मांगती हैं 20 लाख, 4 अरेस्ट। 

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम:दोस्ती करने के बाद अपने कमरे पर पार्टी करने के बाहने से ले जाकर व शराब में कोई नशीला  पदार्थ पीलाकर आपत्तिजनक विडियों बनाने व शख्स  को डरा धमकाकर 20 लाख रुपयों की मांग (हन्नी ट्रैप) करने वाली एक गैंग के दो महिलाओं सहित 4 लोगों को थाना उद्योग विहार,की पुलिस टीम ने नगद 50 हजार रूपए लेते हुए रंगे हाथ किया हैं। शिकायत कर्ता से ब्लैकमेल कर 20 लाख रूपए की मांग कर रहे थे। पुलिस की माने तो इस गिरोह के सरगना पर पहले भी इसी तरह के 3 मुकदमें दर्ज हैं। यह खुलासा आज एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने सीपी ऑफिस के कांफ्रेंस हॉल में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में किए हैं। 

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि बीते 20 मार्च को थाना उद्योग विहार में एक शख्स ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि कई सालों  से फोटो स्टुडियों का काम करता है। 2 महीने पहले उसके पास एक कॉल आया और फोन करने वाली महिला  ने अपना नाम मुस्कान बताया और उससे कहा कि आप मुझे जानते हो, उसने मना कर दिया तो महिला ने कहा कि वह 5-6 महीने पहले उसके  स्टुडियो पर आई थी। उसने  कहा कि वह  नही जानता। इस प्रकार उससे  फोन पर उस महिला से 4 या 5 बार बाते हुई और इनके बीच दोस्ती हो गई। उसने उसे  मिलने के लिए बोला और वह  सूर्या स्वीट्स, बस स्टैण्ड पर मिलने गया। कुछ दिनो बाद मुस्कान ने अपनी एक दोस्त से उसकी  बात कराई। जिसको वह नही जानता था। उस लङकी का नाम रिया बताया। 14 मार्च को रिया ने उसके पास समय करीब 3-4 बजे सांय को फोन किया और बोली, उसे उससे बात करनी है और मिलना है।उसने कहा कहाँ मिलना है तो उसने उसे कमला नहेरू पार्क में बुलाया। इन दोनों के बीच कुछ टाईम बात हुई और दोनो ने Smocking भी की। 16 मार्च को रिया ने उसके पास समय सुबह करीब 9-10  उसके पास फोन किया और बोली कि उसके कमरे पर मिलकर पार्टी करते है। उसने  बोला कैसी पार्टी तो रिया ने बोला शराब और चिकन की पार्टी करते है।उसने   पार्टी करने के लिए यह कहकर मना कर दिया कि कमरे में नही कहीं बाहर पार्टी करते है और बाहर ही मिलते है। उससे  रिया ने कहा कि यह शराब और चिकन लेकर आ जाए। रिया ने उसे बस स्टैण्ड पर बुलाया और बोली कमरे पर चलते है। कोई प्रोब्लम नही होगी। हम दोस्त ही तो है, और मुस्कान  भी अपने घर गई हुई है और वो उसकी  बाइक  पर बैठ गई और रिया अपने कमरे का पता बताने लगी वो इसे खाण्डसा चौक से 1 किलोमीटर किसी कॉलोनी में ले गई। रिया ने अपना कमरा दिखाया जो Ground Floor पर था।
वह उसे  कमरे के अन्दर ले गई, जहाँ पर उसने कमरा लॉक कर दिया और कुछ टाईम इनके बीच बातें हुई। फिर उसने  शराब और चिकन रिया को दे दिया। वह  Toilet करने के लिए दुसरे  कमरे मे चला गया। जब वह  कमरे से आया तो रिया ने दो पैक बनाए हुए थे। एक पैक उसने उसे  दे दिया और एक पैक खुद पी लिया। शराब का पैग पीते ही उसका  सिर भारी-भारी हो गया और उसे नींद आ गई। जब उसे होश आया तो वह निवस्त्र था और रिया उसके  साईड में कपङे पहने हुए बैठी थी। बाहर से दरवाजा खोलने की अलग-अलग आवाजें आ रही थी। रिया ने दरवाजा खोल दिया तभी एकदम से 2 व्यक्ति और 2 महिलाएं अन्दर आएं। उनमे से एक मुस्कान भी थी, जिसको यह पहले से जानता था। उन्होने उसकी  फोटो और विडियो बना ली थी और उसके  साथ मार पिटाई की। उसके बाद वो लोग उसे धमकाने लगे कि कौन है तू, और कहा रहता है। उसने बताया कि यह डुण्डाहेङा में रहता है। उन्होने बोला डुण्डाहेङा में किसी को जानता है। उसने  कहा वह  सबको जानता है। उन्होने उससे  एक व्यक्ति का नाम लिया तो उसने कहा कि वह उसका  चाचा लगता है। उन्होने उसकी  बात उसके  चाचा से कराई और फिर उन्होने उसे  डराने के लिए उसका ड्राईविग लाईसैंस अपने पास रख लिया। उसका  चाचा भी 1 घण्टे बाद वही पर आ गया। उन्होने काफी हाथ पैर जोङकर माफ करने के  बारे व मामला को यही रफा-दफा करने के बारे कहा, किन्तु उन सभी लोगों ने बीस लाख रुपयों की मांग की। उसके बाद कॉफी हाथ-पैर जोङने पर पाँच लाख रुपयों में मामला खत्म करने की बात हुई। उसके  चाचा की गारन्टी पर उसे  छोङ दिया और वह  अपने घर आ गया। इसके बाद से वो सभी लोग उस  पर बार-बार पैसों का दबाव डाल रहे है और उसे  जान से मारने की धमकी दे रहे है। उसने  कहा किउसके  पास पाँच लाख रुपए नही है तो वो लोगउससे  कह रहे है कि यदि पैसे नही दिए तो फोटो व विडियो वायरल कर देगें । इन सभी ने मुस्कान के साथ योजना बना कर उसे  फँसा कर उससे  पैसें ऐठने के लिए ये साजिश  रचा है। इन सभी कासरगना संजय है जो उससे मिलकर 10 हजार रूपए भी लेकर गया था। 10 हजार रुपए उसने डर की वजह से दे दिए थे। इन सभी के आरोपितों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।
उनका कहना हैं कि इसके बाद थाना उद्योग विहार,गुरुग्राम में मिली शिकायत पर भारतीय दंड सहिंता की धारा 384, 387, 506 व 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद पुलिस ने सभी आरोपितों को रंगे हाथों पकड़ने के लिए एक योजना बनाई।  इसके बाद 50 हजार रुपए दिए गए जिसमें से कुछ 500 -500 के नोटों में नंबरिंग की गई थी और साथ में वीडियो और फोटोग्राफी की व्यवस्था की गई थी। इसके बाद दो अलग -अलग बनाई गई टीमों की पकड़ने के लिए जीएच सेक्टर 10 के पास शिकायतकर्ता ने जैसे ही उसे 50000 रुपए दिए। वैसे ही पहले से तैनात पुलिस कर्मियों सभी रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपितों के नाम बिथिका उर्फ रिया अधिकारी उर्फ रिया निवासी मकान न. बी1/ 732 ,जे.जे. कॉलोनी, मदनपुर खादर, नई दिल्ली, महिमा उर्फ माही, निवासी मदन महल कालोनी नजदीक काली मठ मंदिर,थाना सुदामा नगर, मदन महल, जिला जबलपुर, मध्य-प्रदेश हाल किराएदार मकान नं. D-2ND नजदीक प्रभु दयाल ज्वेलर्स,थाना साकेत मदनगिरी,नई दिल्ली,3.पूरण मल उर्फ भगते  निवासी गांव गाधला,थाना जाटूसाना, जिला रेवाड़ी हाल निवासी मकान नंबर 1374 न्यू कॉलोनी गांव गढ़ी हरसरू,गुरुग्राम व मुख्य सरगना संजय निवासी दौलता बाद हाल निवासी गढ़ी हरसरू, जिला गुरुग्राम हैं। इन सभी के पास से दिए गए 50000 रुपए जिस पर नंबर लगे हुए थे को बरामद कर लिया हैं। उनका कहना हैं कि इस गिरोह  सरगना संजय पर इसी तरह के तीन मुकदमें गुरुग्राम के अलग-अलग थानों में दर्ज हैं। 

Related posts

सैकड़ों लोगों ने आज बढ़ते हुए वायु प्रदूषण को लेकर प्रदेश सरकार और जनता को जगाने की कोशिश की, देखिए वीडियो।   

webmaster

पहले शख्स की गला घोंट कर हत्या कर दी, हत्या हादसा लगे इसलिए उसकी लाश को रेलवे लाइन पर फेंक दिया, दो अरेस्ट।

webmaster

2014 के मुकाबले में इस बार के लोकसभा चुनाव में 3 लाख से अधिक मतदाता, कुल 21 लाख 40 हजार मतदाता।

webmaster
error: Content is protected !!